Uncategorized

अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल द्वारा निर्देशित कन्या मंडल करणीय कार्य:

काठमांडू.. नेपाल
1) Importance of Saying Sorry

2) Sweet Making Compitition
3)Goal Making Poster Compitition
तेरापंथ महिला मंडल द्वारा आयोजित
कन्या मंडल की तीन कार्यशाला रखी गई।
कार्यक्रम का शुभारम्भ कन्याओं द्वारा महाप्रज्ञ अष्टकम से की गई। तत्पश्चात अध्यक्षा श्रीमती प्रेमा नाहटा ने अपने सारगर्भित वक्तव्य द्वारा सभी बेटियों का उत्साह एवं हौसला बढ़ाते हुए आध्यात्मिक स्तर पर बढ़ने की प्रेरणा दी !

1) Importance of saying sorry : कन्या मंडल की संयोजिका ने सुंदर ओर सरल विचार व्यक्त किए अपने विचारो द्वारा उन्होंने कहा कि sorry कहने मात्र से व्यक्ति के व्यक्तित्व में चार चांद लग जाते हैं।
2)Sweet making competition: कन्याओं ने बहुत ही सुन्दर ओर स्वादिष्ट मिठाइया तैयार की ! ललित मरोटी के अनुसार इस प्रतियोगिता मॆ प्रथम पूजा सांड, द्वितीय खुशी भंसाली एवं तृतीय सोम्या जैन रही। समस्त समाज ने इनकी भूरि-भूरि प्रशंसा की।

3)Goel making poster competition:सभी बेटियों ने अपने Goel के अनुरूप poster तैयार किए। इसमें प्रथम खुशी भंसाली, द्वितीय कृतिका नाहर, तृतीय अंशु जैन रही ! सभी प्रतिभागियों को प्रशस्तिपत्र ओर पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम की जज श्रीमती सरोज दुगड़ , श्रीमती सुनीता सेठिया को बनाया गया।कार्यक्रम का कुशल संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन मंत्री श्रीमती संगीता लुनिया ने किया।