Uncategorized

कर्मचारी नेता वाई. के.शर्मा ‘योगी’ ने पुलिस को जमकर लताड़ा

बीकानेर। रविवार रात युवक ईशान के साथ पुलिसकर्मी के द्वारा मारपीट के विरोध में एक हुआ शहर सोमवार को जब कलेक्ट्रेट पहुंचा तो जैसे जन सैलाब उमड़ आया। इतनी देर तक अपने आपको संभाले रहे सीए सुधीश शर्मा इतने लोगों को अपने समर्थन में खड़ा देख फफक पड़े। चारों ओर से पुलिस के खिलाफ हो रही नारे बाज़ी के बीच रोते हुए उन्होंने इतना ही कहा कि जो हुआ वह बहुत बुरा हुआ है, हम कार्रवाई सिर्फ इसलिए चाहते हैं कि और किसी के साथ ऐसा न हो।

इस अवसर पर कर्मचारी नेता वाई. के.शर्मा ‘योगी’ ने पुलिस को जमकर लताड़ा।
ज्ञात रहे कि रविवार रात ईशान को हवलदार भवानीदान और उसके साथियों ने कार पार्किंग को लेकर धमकाया और अपने साथ थाने चलने के लिए कहा। जब ईशान को उसकी कार के साथ पुलिसकर्मी थाने ले जा रहे थे तो रास्ते में दीनदयाल सर्किल पर हवलदार ने ईशान केा बुरी तरफ पीटा।

उसके मुंह, पैर और पीठ पर चोटें मारी। बाद में आम लोगों की भीड़ जुटने पर पुलिसकर्मी भाग निकले। हालांकि ईशान और उसके पिता सुधीश शर्मा ने पुलिसकर्मियों के शराब के नशे में धुत्त होने तथा ईशान का अपहरण कर ले जाने के आरोप लगाए है। हालांकि एसपी ने जनआक्रोश को देखते हुए हैड कांस्टेबल भवानीदान को निलंबित कर दिया, लेकिन आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज नहीं किया गया।