Uncategorized

किराडू के नेतृत्व में शिष्टमंडल ने की मेडिकल काॅलेज प्राचार्य से मुलाकात

जिला अस्पताल की विभिन्न समस्याओं का होगा समाधान

बीकानेर, 3दिसम्बर। जिला अस्पताल की चारों यूनिट को मंगलवार से चिकित्सक मिल जाएंगे। सोनोग्राफी व एक्स-रे सुविधा भी प्रारम्भ हो जाएगी। गुर्दा रोगियों के लिए डायलिसिस सुविधा के लिए संबंधित फर्म को नोटिस जारी किया जा चुका है। साथ ही प्रसव के दौरान प्रसूताओ को परेशानी न हो, इसके मद्देनजर महिला चिकित्सक को पाबंद कर दिया गया है।
सरदार पटेल मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. एच. एस. कुमार द्वारा सोमवार को जिला अस्पताल में प्रदेश कांग्रेस सचिव राजकुमार किराडू के नेतृत्व में मिले शिष्टमंडल से बातचीत के दौरान इन बिंदुओं के संबंध में आदेश जारी किए गए हैं।

किराडू ने बताया कि शहर के बीचोबीच स्थित जिला अस्पताल में सुविधाओं का अभाव होने के कारण मरीजों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसके मद्देनजर सोमवार को डाॅ. कुमार को जिला अस्पताल में वार्ता के लिए आमंत्रित किया गया। इस दौरान किराडू ने बताया कि पीबीएम की ओर से सेटेलाइट अस्पताल को प्रतिदिन सर्जरी, आॅर्थो, गायनिक और मेडिकल सहित चारों यूनिटों के लिए चिकित्सक उपलब्ध करवाने के निर्देश जारी किए गए थे, लेकिन लम्बा समय व्यतीत हो जाने के बावजूद इन आदेशों की अनुपालना नहीं हो सकी है।

किराडू ने बताया कि जिला अस्पताल में प्रतिदिन कम से कम 15 प्रसव करवाने के संसाधन उपलब्ध हैं, लेकिन महिला चिकित्सक की कमी होने के कारण 5 प्रसव भी नहीं हो पा रहे हैं। इससे समूचा भार पीबीएम पर पड़ रहा है और शहरी प्रसूताओं को बेवजह परेशानी हो रही है। जिला अस्पताल की सोनोग्राफी मशीन टेक्नीशियन के अभाव में बंद है। इसी प्रकार पीपीपी मोड पर लगाई गई डायलिसिस मशीन भी तकनीशियन के अभाव में सुचारू रूप से काम नहीं कर रही है। इन मांगों के मद्देनजर प्राचार्य ने चारों यूनिटों के लिए चिकित्सक नियुक्त करने, सोनोग्राफी एवं एक्सरे प्रारम्भ करवाने सहित समस्त सुविधाएं प्रारम्भ करवाने के निर्देश दिए।
शिष्टमंडल में कांग्रेस के प्रदेश सचिव जिया उर रहमान, पार्षद आनंद सिंह सोढा, रमजान कच्छावा, दुर्गादास छंगाणी, शिव शंकर बिस्सा, वसीम फिरोज अब्बासी, मनोज मेघवाल, राजू पारीक तथा मनोज किराडू आदि मौजूद रहे।