बीकानेर।अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल के तत्वावधान में तेरापंथ महिला मंडल गंगाशहर द्वारा मंगलवार को संवर्धन कार्यशाला का वर्चुअल आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ आचार्यश्री महाश्रमणजी के मंगल पाठ से हुआ। उसके पश्चात महिला मंडल और कन्या मंडल द्वारा संवर्धन गीत की प्रस्तुति दी गई। गंगाशहर तेरापंथ महिला मंडल ममता रांका ने कहा कि संवर्धन की शुरुआत लॉकडाउन के दौरान ही हो गई थी जिसके अंतर्गत विविध जप-तप अनुष्ठानों के माध्यम से आध्यात्मिक संवर्धन के आयोजन किए गए। अध्यक्ष रांका ने बताया कि इस संवर्धन कार्यशाला के लिए पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने भी संदेश पत्र प्रेषित किया है।

अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल अध्यक्ष पुष्पा बैद ने कहा कि लॉकडाउन अवधि में गंगाशहर तेरापंथ महिला मंडल ने श्रेष्ठ सेवा कार्य किए। बैद ने अध्यक्ष ममता रांका की टीम की सराहना की। उन्होंने कहा कि इन कार्यशालाओं के माध्यम से महिला मंडल को संवर्धन की एक नई दिशा मिलेगी।
मुख्य वक्ता सूर्यप्रकाश सामसुखा ने संवर्धन का विशिष्ट अर्थ बताते हुए विधेयात्मक भावों का संवर्धन करने की प्रेरणा दी। सामसुखा ने कहा कि सर्वांगीण विकास के लिए जरूरी है कि हम नैतिकता व प्रामाणिकता के साथ आगे बढ़ें।
राष्ट्रीय महामंत्री तरूणा बोहरा ने कहा कि नारी को अपने भावनात्मक संवर्धन पर विशेष ध्यान देना चाहिए। वचुअल मीटिंग में पत्रकार लक्ष्मण राघव सहित अनेक जनों ने हिस्सा लिया। पूरे बीकानेर चौखला से लोग कार्यशाला में शामिल हुए।
क्षेत्रीय प्रभारी संतोष बोथरा ने धन्यवाद ज्ञापित किया तथा मंत्री कविता चौपड़ा ने आभार जताया। वर्चुअल संवर्धन कार्यशाला का संचालन सुप्रिया राखेचा ने किया।