Uncategorized

..जब कांग्रेस का शिवसेना से हुआ था गठबंधन, महाराष्ट्र में कुछ भी असंभव नहीं

मुंबई -: शिवसेना प्रमुख रहे बालासाहेब ठाकरे अपने कार्टूनों में इंदिरा गांधी को खूब निशाना बनाया करते थे. इसके बाद भी शिवसेना ने कांग्रेस से हाथ मिलाया था. 1975 में बालासाहेब ने इंदिरा गांधी द्वारा लगाए गए आपातकाल का सपोर्ट करके सबको चौंका दिया था. अब शिवसेना और कांग्रेस के साथ आने के कयास लगाए जा रहे हैं.

➡सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे
महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर अभी तक तस्वीर साफ नहीं महाराष्ट्र में शिवसेना पहले भी कर चुकी है कांग्रेस को समर्थन

➡महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर सियासी संग्राम मचा हुआ है. शिवसेना और बीजेपी अपने-अपने जिद पर कायम है, इसी का नतीजा है कि अभी तक सरकार गठन नहीं हो सका. कांग्रेस-एनसीपी मौके की सियासी नजाकत को भांपने में जुटे हैं और अपने पत्ते नहीं खोल रहे हैं. इसके बावजूद शिवसेना शरद पवार की एनसीपी और कांग्रेस के दम पर सरकार बनाने का दम दिखा रही है. ऐसे में वैचारिक रूप से एक दूसरे के विरोधी कांग्रेस और शिवसेना साथ आते हैं तो कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए, क्योंकि कभी बालसाहेब ठाकरे ने इंदिरा गांधी को समर्थन दिया था. हालांकि अब गेंद कांग्रेस के पाले में है.