Uncategorized

जिला जन अभाव अभियोग निराकरण सतर्कता समिति की बैठक आयोजित

आमजन को त्वरित राहत के निर्देश
बीकानेर, 12 दिसम्बर। राजीव गांधी सेवा केन्द्र में जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम की अध्यक्षता में गुरूवार को जिला जन अभाव अभियोग निराकरण सतर्कता समिति की बैठक में नगर निगम, राजस्व विभाग, शिक्षा विभाग, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी और विद्युत विभाग सहित पेंशन से जुडे़ प्रकरणों पर विचार-विमर्श कर निस्तारण किया गया।
बीकानेर शहर से असहाय पशुओं को गौशालाओं में शिफ्ट करने के मामले में गौतम ने पशुपालन और नगर निगम के अधिकारियों से जानकारी लेते हुए कहा कि गायों को पशुपालन विभाग विभिन्न गौशालाओं में और सांडों को सराहे नथानिया गौशाला में भेजा जाए। उन्होंने आयुक्त निगम से गाढ़वाला में बनी गौशाला में छोड़े गए गौवंश के बारे में जानकारी भी ली। उन्होंने सरकारी और गैर सरकारी विद्यालयों में विद्यार्थियों के लिए लगाए गए वाहनों के सुरक्षा मानक तय करने के प्रकरण में कहा कि जो प्राईवेट विद्यालय वाहनों में सुरक्षा मानक तय नहीं करवाते हैं, उनकी मान्यता रद्द करने की कार्यवाही की जाए। परिवहन, शिक्षा और पुलिस प्रशासन इस संबंध में वाहनों की सघन जांच करें। साथ ही विद्यालयी वाहनों की स्पीड सीमा भी सुनिश्चित करायंे।

जिला कलक्टर ने नोखा शहर के नवलीगेट रेलवे क्रोसिंग पर वाहनों की वज़ह से लगने वाले जाम व मुख्य सदर बाजार में यातायात समस्या को सुधारने के निर्देश उपखण्ड अधिकारी नोखा, पुलिस प्रशासन और परिहवन अधिकारी नोखा को दिए। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र को नो-पार्किंग जोन बनाने के प्रस्ताव बनाएं जाएं। ग्राम शेरेरा में शमशान भूमि पर हो रहे अवैध निर्माण को हटाकर सीमाज्ञान करवाने के मामले में उन्होंने उपखण्ड अधिकारी बीकानेर को शमशान भूमि के लिए प्रस्ताव बनाकर, राजस्व विभाग को भेजने के निर्देश दिए।
राजूदेवी के प्रकरण में तुरन्त हुई कार्यवाही- राजू देवी पत्नी स्व. किशन लाल द्वारा मजदूर हितकारी की सामान्य मृत्यु दावा में आॅफ लाइन आवेदन भरने के मामले में श्रम विभाग द्वारा कार्यवाही नहीं किए जाने की परिवेदना में जिला कलक्टर ने श्रम विभाग के अधिकारी से प्रकरण की जानकारी लेते हुए आज ही राजीव गांधी सेवा केन्द्र में बने ई-मित्र में आॅन लाइन आवेदन करवाकर, परिवादी को राहत दी।
सहकारी समिति गौडू के व्यवस्थापक राधा किशन बिश्नोई द्वारा फर्जी व गलत ऋण के मामले में मिली शिकायत पर जिला कलक्टर ने तथ्यों की जांच के आधार पर व्यवस्थापक को तुरन्त हटाने के साथ ही उसके विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने खाजूवाला ग्राम पंचायत मंे पट्टा वितरण प्रणाली में हो रही अनियमितता की जांच के मामले में कहा कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी आज ही प्रकरण का निस्तारण करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

उन्होंने कहा कि जनवरी 2019 में दर्ज शिकायत के निस्तारण नहीं होना गंभीर लापरवाही को दर्शाता है। उन्होंने तेजरासर में गंदे पानी की निकासी के संबंध में भी तुरन्त कार्यवाही करने के निर्देश विकास अधिकारी को दिए।
रानी बाजार में प्रवीण कुमार द्वारा रमा भवन के सामने वाणिज्यक भू-खण्ड में अवैध अण्डर ग्राउण्ड निर्माण करने की शिकायत पर जिला कलक्टर ने निगम आयुक्त से कहा कि वे अवैध निर्माण के इस प्रकरण में सीज की कार्यवाही करें। उन्होंने बीकानेर शहर में अवैध रूप से संचालित विवाह स्थलों को बंद करवाने की दिशा में हुई कार्यवाही की जानकारी ली और निगम आयुक्त को निर्देश दिए कि आगामी बैठक से पहले ऐसे विवाह स्थलों को बंद करवाया जाए। अगर कोई इस कार्यवाही में रूकावट बनता है, उसके विरूद्ध राजकार्य में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज करवाया जाए। जिला कलक्टर ने बीकानेर अरबन काॅपरेटिव बैंक के खातादारों के साथ हुई धोखाधडी के मामले में कहा कि खातादारों को उनकी राशि मिल सके, इसके लिए उच्च स्तर पर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि इस बैंक से जिन सरकारी कार्मिकों ने ऋण लेने के बाद ऋण राशि नहीं लौटाई है, उनसे नियमानुसार वसूली की कार्यवाही करवाई जायेगी।
नोखा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत मैनसर का सरकारी रिकार्ड दिलाने के प्रकरण में उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत मैनसर का ग्राम सेवक व कनिष्ठ सहायक सरकारी रिकार्ड उपलब्ध नहीं करवाते हैं, तो उन्हें तुरन्त प्रभाव से निलम्बित कर दिया जाए। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इस संबंध में एफआईआर भी दर्ज करवाते हुए पालना रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

बैठक में ग्राम बज्जू चक 7 बीजीएम के मुरब्बा नम्बर 4/42 में ग्रीन बैैल्ट भूमि में अवैध रूप से आवंटन करने, हनुमान हत्था व धोबीधोरा में अतिक्रमण हटाने, बुड़ानिया पेट्रोल पम्प के पीछे वन विभाग की जमीन पर भू-माफियाओं द्वारा कब्जा करने, गंगाशहर गोचर भूमि मंे चिन्हित नाजायज कब्जों को अतिक्रमण मुक्त करवाने के आदेशों की क्रियान्विति करवाने सहित पानी-बिजली तथा पेंशन दिलाने की समस्याओं पर चर्चा कर, संबंधित विभागों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।
जिला कलक्टर ने तहसील कोलायत में सीलिंग सीमा से ज्यादा भूमि रखने की शिकायत पर उपखण्ड अधिकारी कोलायत को इस संबंध में नियम संगत कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने राजीव गांधी सेवा केन्द्र बीकानेर के ई-मित्र कार्मिक द्वारा निर्धारित शुल्क से अधिक राशि मांगने पर संबंधित कार्मिक को तुरन्त प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए। जनसुनवाई में परिवादी ने बताया कि ई-मित्र कार्मिक ने खाद्य प्रमाण पत्र के लिए निर्धारित शुल्क से अधिक राशि की मांग की थी। गांव रायसर के ग्रामीणों ने उपखण्ड अधिकारी न्यायालय, बीकानेर में रास्ता खुलवाने के प्रकरण में शीघ्र निर्णय करवाने के लिए अपनी परिवदेना प्रस्तुत की। इस पर जिला कलक्टर ने उखखण्ड अधिकारी से कहा कि यह प्रकरण काफी समय से न्यायालय में विचाराधीन है। अतः शीघ्र निर्णय देकर, परिवेदना का निस्तारण किया जाए। ग्रामीण क्षेत्र में बिजली के ढीले तार कसवाने के संबंध में उन्होंने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत विभाग को ग्रामीण क्षेत्र का सर्वें कर, सभी विद्युत पोल सही करने तथा तारों को कसवाने के निर्देश दिए।

वीसी के जरिये उपखण्ड अधिकारियों को दिए निर्देश-इससे पहले जिला कलक्टर गौतम ने जिले के उपखण्ड मुख्यालय पर बैठे सभी अधिकारियों से वीसी के माध्यम से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की विभिन्न पेंशन योजनाओं की समीक्षा करते हुए स्वीकृत पेंशन का लाभ दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने सम्पर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का निस्तारण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने पेंशन प्रकरणों को आॅन लाइन प्राप्त कर,जांच के बाद सत्यापन करते हुए स्वीकृति जारी करने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त प्रदीप के गवांडे, एडीएम (प्रशासन) ए.एच.गौरी, एडीएम (सिटी) सुनिता चैधरी, नगर विकास न्यास सचिव मेघराज सिंह मीना, उपखण्ड अधिकारी बीकानेर रिया केजरीवाल, जिला रसद अधिकारी यशवन्त भाकर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
——