Uncategorized

जिले के पदोन्नत पुलिस अधिकारियों का सम्मान समारोह आयोजित, समारोह के मुख्य अतिथि जज श्री रतनलाल मूड ने कहा पुलिस की वजह से ही हम सुरक्षित हैं !*

डायनेमिक पर्सन हैं एसपी कुंवर राष्ट्रदीप. उन्होंने कहा पुलिस तो यूं ही बदनाम है, आज के परिप्रेक्ष्य में पुलिस बेहद संजीदगी से बेहतर तरीके से काम कर रही है
———————————————————–

✍🏼तिलक माथुर
अजमेर/
अजमेर की राजहंस वाटिका में आयोजित स्नेह मिलन समारोह व पुलिस अधिकारियों की पदोन्नति पर आयोजित किये गए सम्मान व अभिनन्दन समारोह में शिरकत करने का मुझे भी अवसर मिला। मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि इस समारोह में जिले की महान विभूतियों से रुबरु होने का पहली बार मौका मिला। समारोह इतना शानदार था कि उस आयोजन की जितनी भी प्रंशसा की जाए शायद कम ही होगी।
कुदरत का खेल भी निराला है समारोह के पहले ओलों की बरसात व संपन्न होने के तुरंत बाद तेज बरसात ! कुछ देर के लिए तो आयोजकों के सामने परेशानी खड़ी हो गई कि बिन मौसम बरसात के चलते राजहंस वाटिका के खुले गार्डन में आयोजित कार्यक्रम कैसे हो पायेगा ? कहीं कार्यक्रम के दौरान विध्न न पड़ जाए। मगर कहते हैं न कि अच्छी सोच से किये गए नेककार्य के लिए पूरी कायनात भी मदद करती है और हुआ भी वही। जब तक कार्यक्रम चला आसमान से एक बूंद भी नहीं गिरी और कार्यक्रम की संपन्नता के चंद मिनटों के बाद ही बादलों ने अपनी खामोशी तोड़ी और कुछ देर के लिए जमकर बरसात हुई।

खैर जो भी है अगर मंशा अच्छी हो तो सबकुछ अच्छा ही होता है।
मैं बात कर रहा हूं इस समारोह के आयोजक अजमेर जिले के सुप्रसिद्ध एडवोकेट डॉ मनोज आहूजा और उनके साथी रिद्धि विनायक इवेंट्स कंपनी के डायरेक्टर अनिल भाटी जिन्होंने अजमेर जिले के उन पुलिस अधिकारियों के सम्मान के लिए यह समारोह आयोजित किया जिन्हें हाल ही में पदोन्नति मिली है। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे जज श्री रतनलाल मूड व अजमेर के पुलिस कप्तान श्री कुंवर राष्ट्रदीप ! समारोह का आगाज गायकार महेश गुजराती ने गणेश वंदना से किया। इसके पश्चात डॉ मनोज आहूजा की धर्मपत्नि चंद्रावती तेजवानी (व्याख्याता) ने अपने बेहतरीन अंदाज में संचालन करते हुए कार्यक्रम की शुरुआत की। गायक कलाकार महेश गुजराती ने गणेश वंदना के बाद तेरी मिट्टी में मिल जावां केसरी फ़िल्म का देशभक्ति गाना प्रस्तुत कर माहौल को देश भक्तिमय बना दिया उसके बाद उन्होंने अपनी बेहतरीन आवाज में किशोर कुमार के बेस्ट नगमे “पल पल दिल के पास तुम रहती हो..तेरे जैसा यार कहां, तेरे जैसा याराना.. मुसाफिर हूं यारों…ज़िंदगी के सफर में गुजर जाते हैं जो मुकाम..” आदि गीत सुनाकर महफ़िल को रंगीन बना दिया। इस समारोह के विशिष्ट मुख्य अतिथि सम्मानीय रतन लाल जी मूड जो राजस्थान उच्चतर न्यायिक सेवा के अधिकारी हैं, वर्तमान में अजमेर जजशिप में पोस्को जज है। कार्यक्रम में आपकी गरिमामय उपस्थिति ने कार्यक्रम को चार चांद लगा दिए जैसा आपका व्यक्तित्व है वैसा ही आपको उदबोधन रहा। जज श्री मूड ने कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में हमें पुलिस की हर जगह आवश्यकता होती है। पुलिस हमारे लिए 24 घंटे तैयार और तत्परता से खड़ी रहती है। ऐसे में पुलिस अधिकारियों का सम्मान किया जाना हमारे लिए गौरव की बात है।

जज श्री मूड ने कार्यक्रम को संपादित करने वाले आयोजक एडवोकेट डॉ मनोज आहूजा व रिद्धी विनायक इवेंट के डायरेक्टर अनिल भाटी का धन्यवाद देते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजन होते रहने चाहिए। इससे अधिकारियों का मनोबल बढ़ता है वहीं आमजन में एक पॉजिटिव मैसेज जाता है। ज्ञातव्य है कि जज रतन लाल जी मूड राजस्थान न्यायिक सेवा के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं तथा देश में होने वाले न्यायपालिका के बड़े-बड़े सम्मेलनों में राजस्थान न्यायपालिका की ओर से प्रतिनिधित्व करते आये हैं।वहीं समारोह के मुख्य अतिथि अजमेर जिले के पुलिस कप्तान कुंवर राष्ट्रदीप जी ने कहा कि वर्तमान में पुलिस बहुत बेहतरीन काम करने का प्रयास कर रही है। अजमेर जिले में रहते हुए उन्हें पब्लिक का, पत्रकारों का, न्यायपालिका का अत्यंत सराहनीय सहयोग मिला है। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के पश्चात अब सम्मानित होने वाले अधिकारियों की जिम्मेदारी और अधिक बढ़ गई है। एसपी कुंवर राष्ट्रदीप ने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाता हूं की हम सब मिलकर बेहतरीन प्रशासन वह कानून व्यवस्था देंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस तो यूं ही बदनाम है, पुलिस के लोग भी बहुत अच्छे हैं जो हमेशा अपने कर्त्तव्य के प्रति ततपर रहते हुए पीड़ित लोगों को राहत प्रदान करते हैं। आज इन्हीं अधिकारियों व जवानों की वजह से अपराधों के ग्राफ में कमी आई है।एसपी राष्ट्रदीप ने कहा कि पुलिस की छवि में बहुत बदलाव आया है, बहुत से पुलिस अधिकारी व जवानों की बदौलत ही हम बड़े से बड़े क्राइम को हल करने में कामयाब हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज अपराधों में कमी आई है तो उसका श्रेय हमारे अधिकारियों व जवानों को जाता है।
*उल्लेखनीय है कि एसपी कुंवर राष्ट्रदीप जी से रूबरू होने का मुझे पहली बार मौका मिला, मैं बस उन्हें देखता ही रह गया ! हमनें फिल्मों में भी इतना खूबसूरत और डायनेमिक एसपी नहीं देखा होगा। वे दिखने में जितने खूबसूरत हैं उतना ही उनका दिल खूबसूरत है। मैं तो चंद पलों की मुलाकात में ही उनका दीवाना हो गया। उनकी कार्यशैली की प्रशंसा व चर्चे तो आम है हीं जब उनसे मिला तो जो उनके बारे में सुना था उससे कई अधिक पाया !!!* वाकय डायनैमिक पर्सन हैं हमारे एसपी कुंवर राष्ट्रदीप !! वे मूलतः लखनऊ के रहने वाले हैं तथा उन्होंने बायलॉजी से बीएससी की है तथा पुलिस मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री ली है। कुंवर राष्ट्रदीप 2011 बेच के आईपीएस अधिकारी हैं, 2011 तक प्रोबेशन पर रहे। 2012 में वे जोधपुर एसीपी, 2013 में हनुमानगढ़ एसपी, 2014 में झुंझुनू एसपी रहे। 2014 से 2018 तक जयपुर डीसीपी रहे, 2018 में कुछ महीनों उदयपुर एसपी रहे तथा 2018 से अजमेर एसपी हैं। उनके नेतृत्व व मार्गदर्शन में पुलिस ने बड़े-बड़े अपराधों को हल किया है वहीं उनकी कुशल कार्यशैली के चलते निरन्तर अपराधों का ग्राफ गिरा है! गौरतलब है कि इस स्नेह मिलन व सम्मान-अभिनन्दन समारोह में रामचंद्र चौधरी जो कि हाल ही में पुलिस निरीक्षक से पुलिस उप अधीक्षक के पद पर पदोन्नत हुए है के सम्मान के साथ ही गोमाराम बिजारणिया का पुलिस उप अधीक्षक बनने पर अभिनंदन किया गया। इसके अलावा पुलिस उपनिरीक्षक से निरीक्षक के पद पर पदोन्नत होने वाले अधिकारी शंभूसिंह शेखावत, सुगनसिंह बिजारणिया, अरविंद सिंह चारण, मंजू मुलेवा, अनिल देव कल्ला, नीतूसिंह राठौड़, कंचन भाटी आदि मौजूद थे इसके अतिरिक्त कार्यक्रम में अपर जिला मजिस्ट्रेट सुरेश सिंधी, आईपीएस ऑफिसर हर्षवर्धन अग्रवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय गुप्ता, अभियोजन विभाग का प्रतिनिधित्व करने वाले लोक अभियोजक विवेक पाराशर, स्पेशल पीपी रूपेंद्र परिहार, राजेन्द्र सिंह राठौड़, पुलिस निरीक्षक धर्मवीर सिंह, दिनेश कुमावत, जयसिंह राठौड़, न्यायिक कर्मचारी संघ अध्यक्ष संदीप माथुर, हाई कोर्ट एडवोकेट मनोज दीक्षित, शिक्षाविद प्रोफेसर डॉ. ऋतु शिल्पी सक्सेना, समाजसेविका आराधना भार्गव, ग्रामीण पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष शैलेंद्र गोयल, भारतीय ग्रामीण पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष तिलक माथुर, जांबाज पत्रकार नवीन वैष्णव, मनोज गुर्जर व सिकन्दर अली सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे। समारोह की सम्पन्नता पर डॉ मनोज आहूजा ने सभी अतिथियों व आगन्तुकों का आभार व्यक्त किया, समारोह पश्चात सामुहिक भोज का आयोजन किया गया।