Uncategorized

जैसलमेर- जग विख्यात मरु महोत्सव 7 से 9 फरवरी तक

जिला कलक्टर ने सभी कार्यक्रमों को रोचक एवं यादगार बनाने के दिए निर्देश

जैसलमेर, 23 दिसम्बर/अन्तराष्ट्रीय स्तर पर ख्यातिप्राप्त मरु महोत्सव-2020 का आयोजन जैसलमेर में 7 फरवरी से 9 फरवरी तक तीन दिवस तक किया जाएगा। जिला कलक्टर नमित मेहता ने मरु महोत्सव की तैयारी एवं कार्यक्रमों के संबंध में जिला अधिकारियों की बैठक ली एवं निर्देश दिए कि मरु महोत्सव के सभी कार्यक्रमों को रोचक एवं यादगार बनाने के साथ ही नवाचारों को समाहित करने पर जोर दिया।

जिला कलक्टर ने मरु महोत्सव के दौरान एयर फोर्स द्वारा एयर वॉरियर ड्रिल, आकाश गंगा, सूर्यकिरण के आयोजन के लिए अभी से ही एयर फोर्स के उच्च अधिकारियों से पत्राचार करने के निर्देश दिए। उन्हाेंने कहा कि गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी मरु महोत्सव के दौरान बॉलीवुड के सिंगरर्स के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मरु महोत्सव के कार्यक्रमों का अभी से ही होटल व्यवसाईयों एवं रिसोर्ट धारकों के वेबसाईट पोर्टल पर डलाने के निर्देश दिए ताकि इसका अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार हो। उन्होेंने मरु महोत्सव के पूर्व संध्या पर 6 फरवरी को हेरीटेज वॉक एवं गड़ीसर पर दीप-दान का कार्यक्रम आयोजित करने की बात कही। उन्हाेंने कहा कि मरु महोत्सव में आने वाले देशी-विदेशी सैलानी भरपूर आनन्द लें उसी अनुरूप कार्यक्रम एवं व्यवस्थाओं का आयोजन करने के निर्देश दिए।

उन्हाेंने मरु महोत्सव के दौरान यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने, स्वर्णनगरी को स्वच्छ एवं सुन्दर बनाने पर जोर दिया। उन्होंने शहीद पूनमसिंह स्टेड़ियम में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम के पश्चात नवाचार के रूप में आतिशबाजी कराने के निर्देश दिए। उन्हाेंने शोभायात्रा, शहीद पूनमसिंह स्टेड़ियम, डेडानसर मैदान, सम में आयोजित होने वाले कार्यक्रमाें की सम्पूर्ण व्यवस्थाएं अभी से ही प्रारम्भ करने के निर्देश दिए। उन्होंंने उप निदेशक पर्यटक स्वागत केन्द्र भानुप्रताप को मरु महोत्सव का प्रचार-प्रसार अभी से ही चालू करने एवं शहर एवं सम में मरू महोत्सव कार्यक्रम के संबंधित होर्डिंग्स लगाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने निर्देश दिए कि सभी कार्यक्रमों के लिए अलग-अलग नोडल अधिकारी एवं कमेटियाें का गठन समय पर किया जाए।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ. पी. विश्नोई, मुख्य कार्यकारी अधिकार ओमप्रकाश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राकेश बैरवा, उपखण्ड अधिकारी दिनेश विश्नोई, सचिव यूआईटी चंचल वर्मा, उपायुक्त उप निवेशन देवाराम सुथार, सहायक निदेशक लोक सेवाएं भारत भूषण गोयल के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

सहायक निदेशक भारत भूषण गोयल ने बैठक में मरु महोत्सव के दौरान विभिन्न विभागों द्वारा किए जाने वाले कार्यो की विस्तार से जानकारी दी। उप निदेशक भानुप्रताप ने बैठक में तीन दिवसीय मरु महोत्सव कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी देते हु बताया कि 6 फरवरी को सांय हेरीटेज वॉक का आयोजन होगा एवं गड़ीसर पर दीप-दान कार्यक्रम होगा। 7 फरवरी को मरू महोत्सव का शुभारम्भ शोभायात्रा से होगा एवं शहीद पूनमसिंह स्टेड़ियम में मरु महोत्सव के उद्घाटन के साथ ही घूमर नृत्य, साफा बांधो प्रतियोगिता, देशी विदेशी, मूमल-महेन्द्रा, मूंछ, मिस मूमल, मिस्टर डेजर्ट प्रतियोगिता होगी एवं शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होगा।

मरु महोत्सव के दूसरे दिवस 8 फरवरी को डेड़ानसर मैदान मे ऊंट श्रृंगार, शान-ए-मरुधरा, रस्सा-कसी भारतीय एवं विदेशी प्रतियोगिता, एयर वॉरियर ड्रिल, कैमल पोलो मैच, महिला दंगल, पणिहारी मटका रेस विदेशी एवं भारतीय महिलाओं के मध्य तथा सीमा सुरक्षा बल द्वारा सबसे आर्कषक कैमल टैटू शो का आयोजन होगा। वहीं सांय को शहीद पूनमसिंह स्टेड़ियम में सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा।

मरु महोत्सव के तीसरे दिवस 9 फरवरी को कुलधरा में ग्रामीण संस्कृति से रूबरू कार्यक्रम होंगे। वहीं लाणेला गांव में घुड़ दौड़ होगी उसके बाद दोपहर में सम के लहरदार रेतीले धोरों पर रस्साकसी भारतीय एवं विदेशी पुरुषों के मध्य, घुडनृत्य एवं कैमल नृत्य का आयोजन होगा वहीं ऊंट दौड़ होगी। शाम को सम के धोरों पर भव्य एवं आकर्षक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होगा एवं रंगबिरंगी आतिशबाजी के साथ मरु महोत्सव का समापन होगा।