– दुष्यंत चौटाला का आह्वान, दिल्ली में भी संघर्ष के दम पर जेजेपी को बना दो विधानसभा की चाबी
दिल्ली चुनाव के लिए 5 कमेटियां गठित, कमेटी अगले दो तीन दिनों में मजबूत उम्मीदवारों का करेगी चयन
अनूप कुमार सैनी
नई दिल्ली, 12 जनवरी। राजधानी दिल्ली में विधानसभा चुनाव लड़ने के ऐलान के बाद आज जननायक जनता पार्टी की दिल्ली प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री एवं दिल्ली जेजेपी के प्रभारी दुष्यंत चौटाला का भव्य स्वागत किया गया।
नजफगढ़ के सोम बाजार में डिप्टी सीएम दुष्यंत का पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्त्ताओं ने जोरदार स्वागत करते हुए उन्हें फूल-मालाएं पहनाई। इसके बाद विशाल रोड शो के जरिए दुष्यंत चौटाला जनसभा स्थल तक पहुंचे। दुष्यंत चौटाला के नागरिक अभिनंदन के लिए आयोजित इस रोड शो व जनसभा में भारी जनसैलाब उमड़ा।

जनसभा को संबोधित करते हुए उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने सभी का धन्यवाद करते हुए कहा कि जननायक जनता पार्टी दिल्ली विधानसभा का चुनाव लड़ने जा रही है और ये चुनाव दिल्ली में पार्टी को और मजबूती की ओर लेकर जाएगा। उन्होंने जननायक चौधरी देवीलाल का जिक्र करते हुए कहा कि दिल्ली के देहात क्षेत्र में उनका खासा लगाव आज से नहीं जुड़ा बल्कि स्व. चौधरी देवीलाल जी के समय से है।
उन्होंने याद दिलाया कि कैसे चौधरी देवीलाल दिल्ली के देहात क्षेत्र की जनता की आवाज बने थे। दुष्यंत ने बताया कि चौधरी देवीलाल के कारण ही यहां ग्रीन बेल्ट घोषित हुआ और जिसके बाद किसानों की मनचाहे दामों पर जमीनें अधिग्रहण होने से बची।
दुष्यंत चौटाला ने दिल्ली सरकार की पोल खोलते हुए कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में तमाम बड़ी-बड़ी बातें करती है लेकिन दिल्ली का देहात क्षेत्र आज भी विकास के मामले में पिछड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि यहां उच्च स्तरीय शिक्षा, जाम से जुड़ी समस्याओं से क्षेत्रवासी बुरी तरह से परेशान है।
उन्होंने कहा कि छह साल पहले जब वे दिल्ली में आए थे तो रोशनपुरा के ग्रामीणों ने उन्हें बताया था कि क्षेत्रवासियों ने कॉलेज निर्माण के लिए जगह दे रखी है लेकिन हैरानी की बात है कि संसद में बात रखने के बाद भी आज तक दिल्ली सरकार की तरफ से कॉलेज बनाने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया।
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूर्ण बहुमत वाली दिल्ली सरकार अपने सरकारी खजाने से हजारों करोड़ों रुपए केवल विज्ञापनों पर खर्च कर रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता प्रदेश सरकार से पूछने का काम करें कि अखबार, रेडियो को छोड़ कर सरकार ने पिछले पांच सालों में धरातल पर कितना विकास किया।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि केवल बातों से विकास नहीं होता, इसके लिए काम करने की नीयत जरूरी है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि व्यवस्था बदलने के लिए सभी को अपनी अहम जिम्मेदारी निभानी होगी और कमर कस मैदान में उतरना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि 25 दिनों से भी कम दिनों का समय चुनाव को बचा है इसलिए दिन-रात एक करते हुए सभी साथी संघर्ष करें।
उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्त्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि सभी कार्यकर्त्ता दिल्ली के चुनावी मैदान में मजबूती के साथ उतर जाएं और प्रत्येक कार्यकर्त्ता घर-घर जाकर जोर-शोर से पार्टी का प्रचार-प्रसार करें।
वहीं उन्होंने हरियाणा विधानसभा चुनाव का भी जिक्र करते हुए कहा कि जब जननायक जनता पार्टी चाबी लेकर चुनावी मैदान में उतरी तो सभी ने कहा था कि ये 2019 का चुनाव नहीं बल्कि 2024 की तैयारी कर रहे है लेकिन हरियाणा में पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्त्ताओं के संघर्ष के दम पर आज जेजेपी सत्ता में हिस्सेदार हैं।
उन्होंने कार्यकर्त्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि दिल्ली में भी पार्टी कार्यकर्त्ता दिन-रात मेहनत करते हुए जेजेपी की चाबी से दिल्ली विधानसभा का ताला खोलने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी ने दिल्ली चुनाव के लिए 5 कमेटियां गठित कर रखी हैं, जो कि अगले दो तीन दिनों में मजबूत उम्मीदवारों का चयन करने का काम करेगी।
इस अवसर पर पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ. केसी बांगड़, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अनंतराम तंवर, पूर्व सीपीएस अनीता यादव, दिल्ली जेजेपी के सहप्रभारी डॉ. श्यामलाल, प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश सहरावत, राष्ट्रीय प्रवक्ता दिनेश डागर, हेमचंद भट्ट, गोपाल मोर, सुखदेव डागर, प्रदीप शौकीन, विक्रम देशवाल युवा प्रदेशाध्यक्ष, खजान सिंह, दिल्ली किसान मोर्चा के अध्यक्ष विरेंद्र डागर, बवाना-52 के प्रधान दारा सिंह समेत पार्टी के कई वरिष्ठ नेता एवं भारी संख्या में कार्यकर्त्ता उपस्थित रहे।


दुष्यंत चौटाला ने संसद ले जाने वाले ट्रैक्टर की याद ताजा की
आज हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने उस ट्रैक्टर की याद ताजा कर दी जिस पर बैठकर वे किसानों की आवाज बनकर संसद गए थे। दरअसल, नजफगढ़ में आयोजित आज के कार्यक्रम में डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला रोड शो के दौरान उसी ट्रैक्टर को चला कर जनसभा स्थल तक पहुंचे थे। इसके लिए उन्होंने पार्टी की दिल्ली इकाई का भी धन्यवाद किया।
दरअसल, साल 2017 में देशभर के किसानों की आजीविका के साधन ट्रैक्टर को कमर्शियल घोषित होने से बचाने के लिए दुष्यंत चौटाला ट्रैक्टर लेकर संसद गए थे, जिसके बाद सरकार को फैसला वापिस लेने पर मजबूर होना पड़ा था।
बॉक्स में
दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में कई नेताओं ने थामा जेजेपी का दामन
वहीं इस दौरान अन्य पार्टियों के कई वरिष्ठ नेताओं ने दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में जननायक जनता पार्टी का दामन थामा। इनमें इनेलो से विधानसभा चुनाव व निगम चुनाव लड़ चुके पंकज गोदारा, गोपाल नगर से निगम चुनाव लड़ चुके अनिल कालीरमण, ईसापुर वार्ड से चुनाव लड़े इनेलो के धीर सिंह, दिल्ली इनेलो के युवा प्रभारी शैम्पी फोगाट, गोपाल नगर महिला अध्यक्ष बबीता, लोक समता पार्टी के यागेन्द्र राणा शामिल है।