Uncategorized

निकाय चुनाव में आरएलपी से गठबंधन नहीं करेगी भाजपा

जयपुर। निकाय चुनाव में भाजपा आरएलपी के साथ गठबंधन नहीं करेगी। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा की शहरी निकायों में बीजेपी का अपना वजूद है ऐसे में गठबंधन की आवश्यकता नहीं है। भाजपा मुख्यालय पर मंगलवार को निकाय चुनाव को लेकर हुई बैठक के बाद पूनिया ने यह बात कही।
खींवसर में गठबंधन के दौरान यह तय हुआ था कि दोनों पार्टियां निकाय चुनाव मिलकर लड़ेंगी, लेकिन खींवसर में आरएलपी की जीत के बाद सांसद हनुमान बेनीवाल ने ट्वीट किया था। उन्होंने ट्वीट कर आरोप लगाया था कि गठबंधन होने के बाद भी उपचुनाव में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और पूर्वमंत्री युनूस खान ने आरएलपी प्रत्याशी नारायण बेनीवाल की खिलाफत की।

बेनीवाल बोले, भाजपा का 35 प्रतिशत वोट ही मिला
उन्होंने कहा कि युनूस खान खींवसर में 7 दिन तक डेरा डाले रहे। वसुंधरा राजे ने उनके भाई को हरवाने के लिए यहां पूरी ताकत लगा दी। भाजपा की पूरी टीम कांग्रेस में मिलवा दी। भाजपा का 35 प्रतिशत वोट आरएलपी को मिला बाकी कांग्रेस में चला गया। इसके चलते जीत का अंतर कम हुआ। बेनीवाल ने भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से इन नेताओं के खिलाफ शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। बेनीवाल ने यह भी कहा कि अगर पार्टी इन नेताओं के खिलाफ कार्रवाई नहीं करती तो गठबंधन पर विचार किया जाएगा।

बेनीवाल अपनी पार्टी संभालें
पूनियां ने हनुमान बेनिवाल के ट्वीट पर कहा था कि वे गठबंधन की मर्यादा का पालन करें। उन्होंने कहा कि हनुमान बेनीवाल को पहले भी समझाया गया था कि वे अपनी पार्टी चलाने में ध्यान दे तो बेहतर होगा। वे हमारी पार्टी के नेताओं पर बयानबाजी करना बंद करे। उन्हें एक बार और समझाया जाएगा।