Uncategorized

पीआरओ की परीक्षा तिथि आगे बढ़ाने की उठी मांग मुख्यमंत्री के नाम जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बीकनेर / 16 अक्टूबर 2019। राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा 22 अक्टूबर को
आयोजित होने वाली जनसंपर्क अधिकारी की परीक्षा तिथि को आगे बढ़ाने एवं
शैक्षणिक योग्यता में संशोधन कर नए सिरे से आवेदन भरवाये जाने की मांग
जोर पकड़ने लगी है। इस संबंध में बुधवार दोपहर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के
नाम जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम को ज्ञापन दिया गया।

पीआरओ भर्ती संघर्ष समिति बीकानेर शाखा के समन्वयक विनय थानवी की अगुवाई
में मालकोश आचार्य, विजय भार्गव, चंद्रप्रकाश व्यास आदि अभ्यर्थियों का
एक प्रतिनिधि मंडल ने जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम से मुलाकात की । थानवी
ने बताया कि आयोग द्वारा पीआरओ भर्ती परीक्षा 22 अक्टूबर 2019 को स्थगित
करके आगे बढ़ाने व राजस्थान जनसंपर्क सेवा नियम 1966 मे शैक्षणिक संशोधन
करने व बैचलर आॅफ जर्नलिज्म की डिग्री धारक अभ्यर्थीयों से वापिस आवेदन
प्राप्त करने के लिए यह ज्ञापन सौंपा गया।
संघर्ष समिति के मालकोश आचार्य ने कहा कि प्रदेश के विभिन्न
विद्यार्थीयों ने वीएमओयू कोटा व अन्य विश्वविद्यालयों से बीजेएमसी की
डिग्री में प्रवेश ले रखा है व कई विद्यार्थी उत्तीर्ण हो चुके है।

आयोग
द्वारा जारी विज्ञापन में जन संपर्क अधिकारी पद की शैक्षणिक योग्यताओं
में पत्रकारिता में डिप्लोमा करने वाले अभ्यर्थीयों को आवेदन की दे रखी
है और पत्रकारिता में स्नातक डिग्री करने वालों को अनुमति नहीं दे रखी
है। शैक्षणिक योग्यता की इस विसंगति से हजारों विद्यार्थीयों का भविष्य
अंधकार में डूब जाएगा।