बीकानेर। पीबीएम हेल्प कमेटी की ओर से गांधी पार्क में पीबीएम अस्पताल और सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज की अवस्था लापरवाही नाकामी कमिशन खौरी भ्रष्टाचार मरीजों को लुटने जैसे मुद्दों को लेकर मिटिंग हुई मिटिंग मैं पीबीएम अस्पताल की अवस्था भ्रष्टाचार कमिशन खौरी लापरवाही नाकामी मरीजों को लुटने वाले मुद्दों पर चर्चा हुई और इस अस्पताल को सुधारने के लिए सभी ने अपने अपने विचार रखे कमेटी सहयोजक एडवोकेट बजरंग छिंपा ने बताया की पीबीएम अस्पताल के हालात गंभीर है मरीजों को इलाज की जगह लुटने का कार्य चल रहा है कोविड 19 की आड़ में इलाज के लिए मरीजों को प्राइवेट अस्पतालों लैबों मेडिकल दुकानों में भेजने का कार्य धड़ल्ले से चल रहा है तो वहीं कुछ डाक्टर पीबीएम अस्पताल में कार्यरत होने के बाद भी प्राइवेट अस्पतालों में इलाज कर रहे हैं तो वही पार्षद प्रतिनिधि सुभाष स्वामी ने बताया की पीबीएम अस्पताल में बैठे कुछ डाक्टर डाक्टर नहीं लुटेरे बन बैठे हैं और कोविड 19 की आड़ में अपनी मनमानी करते हुए मरीजों के साथ बदसलूकी खुले आम करते हुए नजर आते हैं और जनप्रतिनिधियों की यहां कोई नहीं सुनता जो बीकानेर की जनता को मंजूर नहीं है वहीं कमेटी अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह राजपुरोहित ने बताया की पीबीएम हेल्प कमेटी बीकानेर की जनता बीकानेर के आम नागरिक संगठन संस्था को साथ लेकर महाराजा गंगा सिंह जी की और से आमजन के लिए बनाई गई पीबीएम अस्पताल के हालात गंभीर है यहां कुछ लोगों की नाकामी लापरवाही के कारण आज पीबीएम अस्पताल बदनाम हो रहा है और बीकानेर की जनता पीबीएम अस्पताल की बदनामी सहन नहीं करेगी और यहां आने वाले मरीजों को लुटने नहीं देगी पीबीएम अस्पताल में आज मरीजों को लुटने के लिए प्राइवेट अस्पतालों में राजेंद्र बोथरा जैसे डाक्टर धड़ल्ले से भेज रहे हैं तो मरीजों के लिए आने वाले बजट का डाक्टर अभिषेक कवात्रा बाबु महेश कल्ला जैसे लोग धड़ल्ले से बंटाधार कर रहे हैं तो वहीं पीबीएम अस्पताल में एक भी ठेकेदार और उनकी फर्मो की ओर से नियम शर्त के अनुसार कार्य नहीं करने पर भी ऐसे ठेकेदारों और उनकी फर्मो पर कार्यवाही की जगह उन्हें पनाह देने मैं तुले हुए हैं जिसके कारण आज पीबीएम अस्पताल और सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज की शाख दागदार हो रही है जो बीकानेर की जनता कभी बर्दाश्त नहीं करेंगी पीबीएम अस्पताल और सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के मुख्य पदों पर बैठे डाक्टर मौन व्रत धारण कर अंधे और धृतराष्ट्र बनकर बैठे हैं और मरीजों को लुटने का कार्य प्रगति पर चल रहा है तो अव्यस्थाओ का आलम परवाने पर है यह सब देखकर भी अनदेखी कर यहा के नाकाम लापरवाह कमिशन खौर भ्रष्ट मरीजो को लुटने वाले डाक्टर बाबु अधिकारियों और ठेकेदारों पर कोई कार्रवाई नहीं करने पर पीबीएम हेल्प कमेटी की ओर से 24/8/2020 से पीबीएम सुधार आन्दोलन का शुभारंभ मेडिकल कॉलेज प्राचार्य का जिला कलेक्टर ओफिस के आगे 12 बजे पुतला फूंक कर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा और 21 सुत्रीय मांगो का ज्ञापन जिला कलेक्टर महोदय और मुख्यमंत्री महोदय को भेज कर बीकानेर की पीबीएम अस्पताल और सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के कुछ बाबु अधिकारियों डाक्टरों और ठेकेदारों पर कार्यवाही करने की मांग के साथ साथ पीबीएम सुधार के लिए निवेदन किया जायेगा जब तक पीबीएम अस्पताल का सुधार और मरीजों को लुटने वाले भ्रष्ट नाकाम कमिशन खौर लापरवाह बाबु अधिकारियों डाक्टरों ठेकेदारों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही नहीं होगी तब तक पीबीएम सुधार आन्दोलन शुरू रहेगा आज की मिटिंग मैं आन्दोलन को लेकर अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी गई जिसमें कविता जैन, विमल बिनावरा, कालु राम चौधरी, संजय सिंह गहलोत, चंद्र वीर सियाग, निरज भाटी, मदन देवड़ा, प्रकार पारीक, बजरंग छींपा, सुरेन्द्र सिंह राजपुरोहित, सुभाष स्वामी, हरीकिशन, देवेन्द्र कुमार, जुगल किशोर, पंकज, प्रिंस सहित काफी कार्यकर्ताओं मौजूद रहे।