Uncategorized

पेमासर गांव लिया गोद

बीकानेर । राष्ट्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी उद्यमशीलता एवं प्रबंधन संस्थान (निफ्टेम) नई दिल्ली ने ग्रामीणों के लिए खाद्य प्रसंस्करण में कौशल विकास प्रशिक्षण के लिए पेमासर गांव को गोद लिया है। निफ्टेम मान्य विश्वविद्यालय भारत सरकार के फूड प्रोसेसिंग मिनिस्ट्री का स्वायत संस्थान बीकानेर सांसद एवं केन्द्रीय राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल के मार्गदर्शन से यह ग्राम अंगीकरण योजना में पेमासर गांव का चयन हुआ है।

गत 4 दिसम्बर से आगामी 13 दिसम्बर तक निफ्टेम के छात्रों एवं प्रोफेसर डाॅ. अंकुर ओझा के साथ टेक्निीकल स्टाफ ग्रामीणों को यह ट्रेनिंग देंगे।
उपरोक्त कैम्प का शुभारंभ स्वामी केश्वानन्द कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आर.पी.सिंह ने किया। कृषि विश्वविद्यालय के विशेषाधिकारी प्रो. राजेश, डाॅ. विमला, डाॅ. सीमा के साथ डूंगर महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य डाॅ. पी.आर. ओझा ने कैम्प के महत्व पर प्रकाश डाला।
पेमासर की सरपंच राधादेवी ने गांव को गोद लेने पर प्रसन्नता व्यक्त की एवं पूर्ण सहयोग का आवश्वासन दिया।