-89 अस्पतालों में 2,324 गर्भवतियों की हुई प्रसव पूर्व जांचें

बीकानेर। चिकित्सा विभाग द्वारा फिजिकल डिस्टेसिंग के साथ पीएमएसएमए विशेष एएनसी शिविर आयोजित किए गए। गर्भवतियों को खून की जांच, हीमोग्लोबिन, रक्तचाप, शुगर, पेशाब की जांच, सोनोग्राफी, वजन की जांच, ऊंचाई, पेट की जांच इत्यादि जांचों सहित आवश्यक औषधियांे की निशुल्क सेवाएं उपलब्ध करायी गई। मास्क, फेस शील्ड, कैप, हैण्ड ग्लव्ज आदि पहनने के बावजूद बार-बार हैण्ड सेनेटाईज भी करते रहे। सीएमएचओ डॉ. बी.एल. मीणा ने बताया कि समस्त सीएचसी, पीएचसी, यूपीएचसी, शहरी डिस्पेंसरी और जिला अस्पताल सहित जिले भर के 89 अस्पतालों में चिकित्सकों द्वारा कुल 2,324 गर्भवतियों की गुणवत्तापूर्ण एएनसी जांचें की गई। जिला अस्पताल में डॉ. बी.एल. हटीला के नेतृत्व में 40 गर्भवतियों की एएनसी की गई 15 की एचआईवी जांच हुई। शहरी यूपीएचसी में 327, खण्ड बीकानेर में 351, श्रीडूंगरगढ़ में 326, नोखा में 424, कोलायत में 343, लूणकरणसर में 379 व खाजूवाला में 134 गर्भवतियों की जांचे हुई। डीपीएम सुशील कुमार ने बताया कि मातृ व शिशु मृत्युदर में कमी लाने विशेषकर एनीमिया की जांच कर एनेमिक महिलाओं को आवश्यकतानुसार आयरन की गोलियां, आयरन सुक्रोज इंजेक्शन डोज व ब्लड ट्रांसफ्यूजन किया गया। जहाँ पिछले माह 1860 गर्भवतियों ने जांच करवाई थी वहीँ इस माह 464 अधिक महिलाएं जांच के लिए पहुंची।