Uncategorized

मुरली मनोहर व्यास का नागरिक अभिनंदन


बीकानेर । साझी विरासत एवं ब्रह्म बगीचा प्रन्यास, बीकानेर के तत्वावधान में प्रवासी उद्योगपति एवं कोलकाता निवासी गोपाल दास डागा एवं शहर के युवा कथा वाचक पं मुरली मनोहर व्यास का नागरिक अभिनंदन रविवार को ब्रह्म बगीचा में किया गया ।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजस्थान सरकार के ऊर्जा एवं जनस्वास्थय मंत्री डॉ बी डी कल्ला थें, कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रख्यात पंडित जुगल किशोर ओझा ” पुजारी बाबा” ने की , कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि सामाजिक कार्यकर्ता और माइन्स एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष राजेश चूरा थें ।

प्रारम्भ में स्वागत भाषण करते हुए एडवोकेट हीरालाल हर्ष ने कहा कि वर्तमान समय में शक्ति और भक्ति का मार्ग प्रशस्त करने के लिए ब्रह्म बगीचा में प्रत्येक जाति ,धर्म एवं समप्रदाय के लोगों का सदैव स्वागत है । हर्ष ने डागा एवं व्यास के व्यक्तित्व और कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि डागा जीवन पर्यन्त गरीब और असहाय लोगों की सेवामें हाजिर रहते हैं , हर्ष ने कहा कि युवा कथा वाचक पं मुरली मनोहर व्यास ने छोटी उम्र में ही सैकड़ों भागवत कथा का वाचन करते हुए चारों धामों में कथा पाठ किया है ।
मुख्य अतिथि राजस्थान सरकार के ऊर्जा एवं जनस्वास्थय मंत्री डॉ बी डी कल्ला ने डागा एवं व्यास का नागरिक अभिनंदन करते हुए कहा कि सेवा के लिए धर्म और जाति का हित नहीं देखना चाहिए उन्होंने कहा कि जरुरतमंद की सेवा करने से धन की कमी नहीं होती, डॉ कल्ला ने कहा कि भागवत कथा सुनने और सुनाने से सद्भावना का संचार होता है, कल्ला ने कहा कि ब्रह्म बगीचा प्रन्यास और साझी विरासत सामाजिक एवं सांस्कृतिक कार्यों में अग्रणी भूमिका निभा रही है । डॉ बी डी कल्ला ने कहा कि गोपाल दास को सामाजिक सेवाओं तथा पंडित मुरली मनोहर व्यास को भागवत कथा सुनाने के लिए किया गया नागरिक अभिनंदन कर संस्था खुद गौरवान्वित अनुभव करते हैं ।

कार्यक्रम में मधु आचार्य, राजेश चूरा, पुजारी बाबा, डॉ अनंत कुमार राठी ने भी विचार रखे । डागा को दिये गये अभिनंदन पत्र का वाचन एडवोकेट महेन्द्र जैन ने किया तथा पंडित मुरली मनोहर व्यास को दिये गये अभिनंदन पत्र का वाचन युवा शिक्षाविद् सुभाष जोशी ने किया ।
साझी विरासत के संयोजक राजेन्द्र जोशी ने बताया कि डागा एवं व्यास का नागरिक अभिनंदन करते हुए प्रवासी उद्योगपति संस्कृतिकर्मी गोपाल दास डागा को “मानव मित्र ” की उपाधि से सम्मानित किया गया तथा युवा भागवताचार्य , लोक संस्कृति के संवाहक पंडित मुरली मनोहर व्यास को “अध्यात्म दीप सखा” उपाधि से विभूषित किया गया ।
कार्यक्रम में शिक्षाविद् ओमप्रकाश सारस्वत ,शिवकुमार पुरोहित, डॉ केसरी चंद्र पुरोहित, मंगल चंद्र रंगा, एन डी रंगा , विजय जोशी, मोहन लाल आचार्य, मदन मोहन व्यास, बृजगोपाल जोशी सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे ।