– सभी आधुनिक सुविधाओं से लेंस होंगा अयोध्या स्टेशन

-रेलवे की राइट्स कंपनी को मिला विकास का जिम्मा

ओम एक्सप्रेस – नई दिल्ली
अयोध्या रेल्वे स्टेशन के भवन का निर्माण दो चरणों मे होगा.पहले चरण में प्लेटफार्म संख्या 1और 2-3 में विकास कार्य, मौजूदा सर्कुलेटिंग एरिया ओर होल्डिंग एरिया का विकास होगा.दूसरे चरण में नए रेल्वे स्टेशन भवन का निर्माण और अन्य कार्य होंगे

भगवान राम की जन्मभूमि अयोध्या नगरी युगों से भक्ति और आस्था का केंद्र बिंदु रही है. इस नगरी का यही महत्व श्रद्धालुओं को अपनी ओर खींचता है।

यहां हर दिन पूरे विश्व से श्रद्धालुओं का आना-जाना लगा रहता है. इसी को देखते हुए अयोध्या नगरी का रेलवे स्टेशन भी भारतीय रेल में अपना एक खास स्थान रखता है. अयोध्या रेलवे स्टेशन हर दिन अनेक गाड़ियों को संचालित करते हुए यात्रियों का अयोध्या दौरा कराता है।

अब जब अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है तो अयोध्या स्टेशन के कायाकल्प की भी तैयारी की गई है. स्टेशन को भी राम मंदिर की तर्ज पर ही एक नया स्वरूप दिया जाएगा. स्टेशन का विकास कार्य जून 2021 तक पूरा होगा।

रेल मंडल की ओर से अयोध्या रेलवे स्टेशन के स्वरूप, यात्री सुविधाओं, स्वच्छता, सौंदर्य और अलग-अलग जरूरी सुविधाओं में बड़ा बदलाव करते हुए इस स्टेशन को नए रूप में सजाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. अयोध्या स्टेशन के नए और आधुनिक यात्री सुविधाओं से लैस भवन का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

इस भवन के लिए वितीय वर्ष 2017-18 में 80 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई थी जिसे अब बढ़ाकर 104 करोड़ रुपये कर दिया गया है. इस स्टेशन भवन का निर्माण रेलवे की राइट्स (RITES)कंपनी द्वारा किया जा रहा है।