Uncategorized

शहर में एटीएम मशीनों को नहीं कर रहे सेनेटाइज

बीकानेर। पूरा देश कोरोना वायरस को लेकर संवेदनशील है,लेकिन बीकानेर के बैंकों की कार्यप्रणाली नहीं बदली है,हालांकि बैंक अधिकारी और कर्मचारी संक्रमण से बचने के लिये खुद तो पूरी तरह अलर्ट है लेकिन एटीएम मशीनों को सेनेटाइज कराने में ध्यान नहीं दे रहे है जो कोरोना वायरस के संक्रमण बढ़ाने का अहम कारक हो सकते हैं । जानकारी के अनुसार शहर में एटीएम को सेनेटाइज करने की फिलहाल बैंकों की कोई व्यवस्था नहीं है।

कई एटीएम मशीनों पर तैनात सुरक्षा गार्डो से इस बारे में पूछा गया तो उनका एक ही जवाब था कि एटीएम मशीनों को अभी सेनेटाइजर नहीं किया गया है। गंगाशहर रोड़ पर एसबीआई बैंक के बाहर दो कक्षों में लगी एटीएम पर सुरक्षा गार्ड तो था, लेकिन सेनेटाइजर के लिए कोई व्यवस्था नहीं थी। मौके पर गार्ड ने बताया कि बैंक की तरफ या सुरक्षा एजेन्सी की ओर से सेनेटाइजर की व्यवस्था नहीं की गई है। हालांकि एटीएम पर लोगों का आने का क्रम बहुत कम है। इसी तरह रेलवे स्टेशन के सामने बैंक ऑफ बड़ोदा की मुख्य शाखा के बाहर एटीएम पर सुरक्षा गार्ड तो तैनात था। एटीएम में भी कोई भी जाकर पैसे निकाल रहा था, लेकिन उसे सेनेटाइज करने की कोई व्यवस्था नहीं थी। ऐसे हालात एक-दो एटीएम मशीनों पर नहीं बल्कि शहरभर में लगी अस्सी फिसदी एटीएम मशीनों पर देखने को मिली। चिकित्सकों की मानें तो एटीएम में कैश निकालने के लिए रोजाना कई लोग आते हैं। यह सभी प्रॉसेस के लिए एटीएम के कीण्पैड को हाथ लगाते हैं। ऐसे में कोरोना वायरस का संक्रमण इस की-पैड की वजह से अचानक फैल सकता हैं। इसलिए बैंकों को शहर के तमाम एटीएम पर सेनेटाइजर की व्यवस्था करना चाहिए। जिससे एटीएम का उपयोग करने वालों के हाथ को पहले ही सेनेटाइज किया जा सके।