बीकानेर,। निरोगी राजस्थान अभियान के अंतर्गत जारी शुद्ध के लिए युद्ध मुहीम में बीकानेर जिला अग्रणी बना हुआ है।
बुधवार को जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देशन में बीकानेर में जांच व नमूनीकरण की कार्यवाही की गई। सीएमएचओ डॉ बी एल मीणा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी महमूद अली व महेश शर्मा के दल ने महात्मा गांधी रोड़ व दाउजी मंदिर क्षेत्र में अभियान चलाकर खाद्य पदार्थो के नमूने एकत्र किए। मौके पर माप-तौल विभाग के अधिकारी विनोद जुनेजा भी मौजूद रहे।

डॉ मीणा ने बताया कि दाउजी मंदिर क्षेत्र में स्थित दूध डेयरी से दूध व दही के नमूने संग्रहित किए गए। प्रतिष्ठान प्रबंधकों को कोविड 19 प्रोटोकॉल की कड़ाई से पालना करने और अनावश्यक भीड़ ना लगाने की हिदायत दी। महात्मा गांधी रोड़ स्थित 2 प्रमुख मिठाइयों की दुकानों से छेना व मिक्स मसालों के नमूने एकत्र किए। इस प्रकार कुल 5 नमूने लेकर जांच हेतु जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला बीकानेर भेजे गए हैं। डॉ मीणा ने प्रतिष्ठान मालिकों को मिठाइयों पर उत्पादन तथा एक्सपायरी दिनांक प्रदर्शित करने के निर्देश भी दिए। मिलावटखोरों पर नकेल कसने और आम जन को शुद्ध खाद्य उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा 26 अक्टूबर से 14 नवम्बर तक विशेष खाद्य नमूनीकरण अभियान संचालित किया जा रहा है।