Uncategorized

सब्जी व फल उत्पादन की हरियाणा में हैं अपार सम्भावनाएं-डा. सहरावत

हर्षित सैनी
रोहतक( महम), 31 दिसम्बर। डा. बी.एस. सहरावत मिशन निदेशक डा. एच.एस.एच.डी.ए. पंचकूला ने बताया कि सब्जी व फल उत्पादन की हरियाणा में अपार सम्भावनाएं हैं लेकिन आजादपुर मंडी की सकल आवक में हरियाणा का केवल 2.5 प्रतिशत हिस्सा है जबकि हम दिल्ली के नजदीक होने के कारण पूरे हरियाणा में कृषि योग्य भूमि पर फल व सब्जी का उत्पादन करें तो भी हम दिल्ली की मांग पूरी नहीं कर सकते।
वे उद्यान प्रशिक्षण संस्थान करनाल में राईज्वान इंडिया तथा संस्थान द्वारा हाईब्रिड खरबूजा की नवीनतम विधि द्वारा खेती करने के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण में आए राज्य के किसानों को सम्बोधित कर रहे थे।
मिशन निदेशक डा. बी.एस. सहरावत ने किसानों को आह्वान किया कि धीरे-धीरे हरियाणा डार्क-जोन बनता जा रहा है, हमने सुक्ष्म सिंचाई तथा बूंद- बूंद जल को नही बचाया तो आने वाले समय में पीने के पानी का संकट भी उत्पन हो सकता है।
प्रशिक्षण में डा. सतीश कुमार, प्रताप सिंह राईज्वाईन इंडिया सीड्स ने उन्नत किस्म के बीज तथा अच्छी कृषि पद्धतियां भी किसानों में प्रसारित करने का संकल्प दोहराया और खरबूजे की उन्नत व आधुनिक खेती करके उत्पादन गुणवत्ता तथा आय बढ़ाने के लिए प्रेरित किया।

इस प्रशिक्षण में राज्य भर से लगभग 100 किसानों ने शिरकत की और बागवानी के क्षेत्र में प्रगतिशील किसान पंकज दुआ, रमनजीत सिंह, कर्नल एसएस गिल ने किसानों से अपने अनुभव तथा कार्यविधी सांझा की। उन्होंने बताया कि किस प्रकार बागवानी विभाग द्वारा प्रदत अनुदान व तकनीकी जानकारी के बल पर छोटे स्तर से बागवानी शुरू करके अपनी आय को 20 से 25 लाख रूपए सालाना तक बढ़ा ली है।
प्रशिक्षण में डा. जोगिन्द्र सिंह संयुक्त निदेशक-कम-प्रधानाचार्य उद्यान प्रशिक्षण संस्थान करनाल ने किसानों को दिए जा रहे आधुनिक व उन्नत उद्यान प्रशिक्षण बारे विस्तार से बताया।
उन्होंने किसानों को विभाग द्वारा दी जा रही सहायता, विभागीय योजनाओं, प्रशिक्षण तथा आधुनिक बागवानी की विधियों का अधिकतम लाभ उठाकर अपनी आय बढाने का भी आहवान किया।
उन्होंने किसानों को संस्थान में विभिन्न संरक्षित ढांचों में लगे प्रदर्शन प्लाट का भ्रमण करवा कर विशेषज्ञों से खेत में ही उनकी समस्याओं का निराकरण किया तथा किसानों ने इस प्रशिक्षण की सराहना की।

कार्यक्रम में रिलायंश फ्रेश से शिव कुमार, सतेन्द्र सिंह, एटी इंटरप्राईजिज दिल्ली तथा पुणे के अति उन्नत कम्पनी सहाद्री से तुषार ने किसानों को उत्पाद की पैकिंग, ग्रेडिंग व मार्केटिंग का जिम्मा लेते हुए उनके उत्पाद का अधिकतम मूल्य दिलवाने का भरोसा दिया।