Uncategorized

सालासर टोल प्लाजा के पास बुलाई किसान महापंचायत

बीकानेर, 5 दिसम्बर। राजस्थान के बीकानेर जिले के राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11 पर सालासर टोल प्लाजा (श्रीकोलायत) पर व्याप्त समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर गुरुवार को किसान महापंचायत बुलायी गयी। उल्लेखनीय है कि 18 नवम्बर को भी ग्रामीणों व किसानों ने प्रदर्शन करके इरकॉन कम्पनी के प्रतिनिधि को व्याप्त समस्याओं से अवगत करवाकर सात दिनों के भीतर समाधान चाहा था लेकिन कम्पनी द्वारा कोई निराकरण अथवा वार्ता ग्रामीणों व किसानों से नहीं होने के बाद गुरुवार को किसान महापंचायत बुलायी गयी। अक्कासर सरपंच प्रभुदयाल गोदारा, मेघासर से नत्थू महाराज, भोलासर सरपंच प्रतिनिधि चतरसिंह, सरपंच पलाना रामगोपाल, सरपंच गजनेर जेठाराम, पूर्व पंचायत समिति सदस्य चंपालाल शर्मा, खारी सरपंच हारुराम गेधर, चांडासर सरपंच विनोद गौड़, युवा नेता प्रवेश जोशी,कालू सियाग,महेश उपाध्याय,जयदयाल,बालचंद,राजेश गोदारा, सहित अनेक मौजूद रहे।

जिन मांगों को लेकर किसान महापंचायत बुलायी गयी उनमें सालासर टोल प्लाजा के 20 किलोमीटर की परिधि में आने वाले किसानों एवं ग्रामीणों के वाहनों को फ्री मासिक पास जारी किए जाने, इरकॉन कम्पनी ने जो ग्रामीणों एवं किसानों के राजस्व रिकॉर्ड अथवा परम्परागत वर्षों से चलने वाले रास्तों को बंद किया है उन्हें शीघ्र खोलने, टोल प्लाजा ऑफिस से सटे हुए खेतों के आगे जो दीवार बनायी है उसे तुरंत प्रभाव से हटाने या सर्विस पक्की रोड़ बनाने, जिले में किसानों द्वारा अपने खेत से उत्पादित फसल एवं चारा परिवहन करने वाले साधनों को मंडी अथवा अपने घर ले जाते हैं उन्हें फ्री करने, टोल प्लाजा में योग्यतानुसार 80 प्रतिशत कर्मचारी स्थानीय रखने तथा वकील, चिकित्सक, जनप्रतिनिधि, पत्रकारों को टोल प्लाजा से मुक्त रखे जाने की मांग प्रमुख है। इस दौरान पुलिस का भी एक प्रतिनिधिमण्डल वार्ता के लिए समझाईश बाबत् आया लेकिन वे नहीं माने। इस दौरान दोनों तरफ से आने और जाने वाले रास्तों को डाईवर्ट करके निकाला गया।