Uncategorized

सीआईए के साथ अपराधियों की मुठभेड़ रोहतक पुलिस ने फॉयरिंग में 2 वांछित अपराधी किए काबू

– हत्या के प्रयास की 3 वारदातों का खुलासा
हर्षित सैनी
रोहतक । रोहतक पुलिस की सीआईए-2 स्टाफ टीम की गत रात्रि वांछित अपराधियों के साथ मुठभेड़ हुई है। जिसमें दोनों तरफ से करीब एक दर्जन फॉयर किए गए। मुठभेड़ में 2 वांछित अपराधियों को घायल अवस्था में काबू किया गया है।
पुलिस ने आरोपियों से दो देशी पिस्तौल, 5 जीन्दा रौंद, 2 खाली खोल व मोटरसाईकिल बरामद की है। आरोपी हत्या के प्रयास की 3 वारदातों में फरार चल रहे थे। आरोपियों का पीजीआईएमएस रोहतक में इलाज चल रहा है। आरोपियों को उपचार के बाद शामिल जांच किया जाएगा। आरोपियों से कई वारदातों के खुलासे होने की उम्मीद है।

पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने सीआईए-2 टीम की बहादुरी की प्रशंसा करते हुए टीम का हौसला बढ़ाया है। उन्होंने टीम को प्रशंसा-पत्र व उचित ईनाम से सम्मानित करने की घोषणा की है।
उप पुलिस अधीक्षक रोहतक श्री महेश कुमार ने सीआईए-2 में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि 21/22 मई की रात को प्रभारी सीआईए-2 उप.नि. आजाद सिंह को सूचना मिली कि हत्या के प्रयास की कई वारदातो में वांछित गांव रिटौली निवासी मनोज उर्फ सुन्डा, रवि उर्फ खड्डू का व संदीप उर्फ लम्बू मोटरसाईकिल पर सवार होकर भिवानी रोड़ नजदीक ड्रैन नम्बर-8 पुल पर वारदात करने के इरादे से खड़े है।
उन्होंने बताया कि सूचना पर तुरंत कार्यवाही करते हुए स.उप.नि. सतीश कादयान के नेतृत्व में सीआईए-2 टीम का गठन कर रवाना किया गया। सीआईए-2 टीम मौके पर पहुंची तो तीनों युवक मोटरसाईकिल पर सवार होकर आऊटर बाईपास की तरफ भागने लगे। सीआईए-2 टीम ने युवकों का पीछा किया। आऊटर बाईपास पर खेतों के कच्चे रास्ते में युवकों ने मोटरसाईकिल को छोड़ दिया तथा खेतों में भागने लगे।
सीआईए-2 टीम ने युवकों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा तो युवकों ने सीआईए टीम पर फॉयरिंग करनी शुरू कर दी। युवकों ने सीआईए टीम पर करीब 5/6 रौंद फॉयर किए। सीआईए टीम ने बचाव करते हुए युवकों पर जवाबी फॉयर किया।
महेश कुमार के अनुसार पुलिस टीम की तरफ से स.उप.नि. सतीश कादयान, मुख्य सिपाही संत कुमार व मुख्य सिपाही दिनेश कुमार द्वारा कुल 6 फॉयर किए गए। दो युवकों के पैर में गोली लगी। सीआईए-2 स्टाफ टीम ने बहादुरी व तत्परता से कार्यवाही करते हुए दोनों युवकों को हथियारों सहित काबू किया। तीसरा युवक अंधेरे का फायदा उठा कर मौके से फरार हो गया। काबू किए गए युवकों की पहचान मनोज उर्फ सुन्डा पुत्र रामकुमार व रवि उर्फ खड्डू का पुत्र संजय निवासीगण गांव रिटौली के रुप में हुई है।
उप पुलिस अधीक्षक रोहतक ने बताया कि तलाशी लेने पर युवकों के पास से दो देशी पिस्तौल, 5 जीन्दा रौंद व दो खाली खोल बरामद हुए हैं। दोनों युवकों को इलाज के लिए पीजीआईएमएस में दाखिल कराया गया। भागने वाले युवक की पहचान सन्दीप उर्फ लम्बु पुत्र करतार सिहं निवासी रिटौली के रुप में हुई है। युवकों के खिलाफ धारा 186/188/353/307/34 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत थाना शिवाजी कालोनी में अभियोग संख्या 317/2020 अंकित किया गया है।

प्रारंभिक जांच में सामने आया कि आरोपी मनोज उर्फ सुंडा उम्र करीब 26 साल 12वीं कक्षा पास है। आरोपी रवि उर्फ खड्डू का उम्र करीब 21 साल बी.ए. में पढ़ता है। आरोपियों ने अपने साथियों के साथ मिलकर कई वारदातों को अंजाम दिया है। आरोपी मनोज, रवि, संदीप उर्फ लंबू व उनके साथियों ने मिलकर गांव सुंडाना में शराब ठेका ले रखा था।
डीएसपी का कहना था कि आरोपियों ने आस-पास के एरिया में दहशत फैलाने व अपराध जगत में अपना नाम रोशन करने के लिए वारदातो को अंजाम दिया है। आरोपियों ने पिछले 3 महीने में कई वारदातों को अंजाम दिया है तथा लगातार फरार चल रहे थे।
उन्होंने कहा कि आरोपियों से निम्न वारदातों का खुलासा करते हुए बताया कि विगत 2 मार्च को शाम के समय आरोपी मनोज व रवि ने अपने साथी संदीप उर्फ लंबू, अनुज, राहुल उर्फ जोगा, अंकित उर्फ बाबा, धोला ठेकेदार, कुलदीप उर्फ कालू व अन्य के साथ मिलकर गांव सुंडाना में सोमबीर उर्फ लीला निवासी सुंडाना पर हमला किया जो सोमबीर उर्फ लीला को छुड़ाने के लिए उसका चाचा रोहताश, जो सेना में नौकरी करता है तथा छुट्टी पर आया हुआ था, ने बीच-बचाव किया तो आरोपियों ने रोहताश पर गोली चला दी, जिसमें रोहताश घायल हो गया था। सभी आरोपी मौके से फरार हो गए। जिस संदर्भ में थाना कलानौर में अभियोग संख्या 75/2020 अंकित है। जिसमें आरोपी मनोज, रवि व उनके कई साथी फरार चल रहे हैं।
गिरफ्तार अपराधियों ने विगत 17 मार्च को रात के समय आरोपी मनोज व रवि ने अपने साथी संदीप उर्फ लंबू, अनुज, राहुल व अन्य के साथ मोटरसाईकिलों पर सवार होकर राजवीर उर्फ चौटाला निवासी गांव सुंडाना के घर में घुसकर राजवीर उर्फ चौटाला को जान से मारने की नीयत से गोली मारी थी। आरोपी फॉयर करते हुए मौके से फरार हुए। रास्ते में देववीर देबल की दुकान में घुसकर भी फॉयर किया था। जिस संदर्भ में थाना कलानौर में अभियोग संख्या 101/2020 अंकित है।

इसके अलावा इन्होंने 10 मई की रात को मनोज व रवि ने अपने साथी संदीप उर्फ लंबू व अन्य के साथ मिलकर गांव कबूलपुर में जगबीर के खेत में बैठकर शराब का सेवन किया तथा उसके बाद खेतों में कर्मबीर निवासी कबूलपुर व उसके साथियों के साथ मारपीट करते हुए कर्मबीर को गोली मारकर मौके से फरार हो गए। जिस संदर्भ में थाना शिवाजी कालोनी में अभियोग संख्या 293/2020 अंकित है। मामले में जोहित, बलराम उर्फ टुंडा, सन्नी व जगबीर गिरफ्तार हो चुके हैं। आरोपी मनोज, रवि व उनके अन्य साथी फरार चल रहे हैं।