Uncategorized

सोनिया गांधी तय करेंगी कांग्रेस विधायक दल का नेता

-सभी विधायकों ने उन्हें किया अधिकृत
-बैठक में विधायकों के फीडबैक की रिपोर्ट पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को दी जाएगी

अनूप कुमार सैनी
रोहतक, 1 नवम्बर। हरियाणा कांग्रेस के विधायक दल का नेता कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनियागांधी तय करेंगी। शुक्रवार को चंडीगढ़ में आयोजित कांग्रेस की समीक्षा बैठक के दौरान सभी विधायकों ने सोनिया गांधी को इसके लिए अधिकृत किया है। वहीं पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा का नाम विधायक दल के नेता के तौर पर लगभग तय माना जा रहा है।
बैठक में हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मधुसूदन मिस्त्री, प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा और पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा पहुंचे। इसमें हरियाणा विधानसभा चुनाव में मिली हार पर मंथन को लेकर एक-एक विधायक से बात की जा रही है। बैठक में मिले फीडबैक की रिपोर्ट पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को दीजाएगी। प्रत्याशियों की नजर में हार के कौन से बड़े कारण हैं। कहीं अगर भीतरघात हुआ है तो किसने किया। प्रत्याशियों से उन कांग्रेसियों का नाम भी लिया जाएगा।

2014 में 19 सीटें लेकर आई थी इनेलो, अभय बने थे नेता प्रतिपक्ष
2014 में इनेलो नेता अभय चौटाला नेता प्रतिपक्ष थे। क्योंकि भाजपा की 47 सीटों के बाद इनेलो को 19 सीटें मिली थी। इनेलो ने अभय चौटाला को नेता प्रतिपक्ष चुना था। 2014 का कार्यकाल पूरा-पूरा होते-होते आखिर तक एक-एक करके इनेलो नेता छोड़कर अन्य पार्टियों में शामिल हो गए। इसके चलते अभय चौटाला को नेता प्रतिपक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था।
अभय हटे तो किरण चौधरी बन गई थी सीएलपी लीडर
अभय चौटाला के नेता प्रतिपक्ष पद से हटते ही किरण चौधरी सीएलपी लीडर बन गई थी। विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हुड्डा ने रोहतक में रैली कर कांग्रेस आलाकमान पर दबाव बनाया तो सत्ता परिवर्तन हुआ। कांग्रेस ने अशोक तंवर को प्रदेशाध्यक्ष पद से हटाकर कुमारी सैलजा को बैठा दिया। वहीं किरण चौधरी की जगह भूपेंद्र हुड्डा को सीएलपी लीडर बना दिया था।

2019 में कांग्रेस 31 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। नेता प्रतिपक्ष कांग्रेस विधायक दल का नेता होगा। बता दें कि नेता प्रतिपक्ष को कैबिनेट मंत्री की तरह सरकारी आवास, गाड़ी, सिक्युरिटी जैसी सुविधाएं मिलती हैं।