– सीएमएचओ डॉ सुकुमार कश्यप ने किया शुभारंभ

बीकानेर, 24 जनवरी। गर्भवतियों, प्रसूताओं व 1 साल से छोटे बच्चों को उपचार के लिए परिवहन के उद्देश्य से संचालित महत्वाकांक्षी 104 जननी एक्सप्रेस एंबुलेंस सेवा को नई सेवा प्रदाता एजेंसी के साथ फिर से लोकार्पित किया गया है। ये एंबुलेंस विभिन्न ग्रामीण पीएचसी व सीएचसी पर तैनात रहकर मातृ शिशु सेवाओं को सुदृढ़ करेंगी। सीएमएचओ डॉ सुकुमार कश्यप ने रविवार को एस पी मेडिकल कॉलेज परिसर से नई सेवा प्रदाता एजेंसी के साथ एंबुलेंस वाहनों का पुनः संचालन का शुभारंभ किया। डॉ कश्यप ने बताया कि पूर्व में सेवा प्रदाता एजेंसी जीवीके के माध्यम से इस सेवा का संचालन किया जा रहा था। राज्य सरकार के निर्देशानुसार समस्त 19 जननी एक्सप्रेस एंबुलेंस को नई सेवा प्रदाता एजेंसी मॉडर्न इमरजेंसी सर्विसेज को हैंड ओवर टेकन ओवर प्रक्रिया करवाई गई है तथा ग्रामीण क्षेत्रों में सेवा के लिए पूरे जोश के साथ रवाना किया गया है। उन्होंने 104 जननी एक्सप्रेस सेवा को मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं की अहम कड़ी बताया। उन्होंने जानकारी दी कि किसी भी गर्भवती महिला, प्रसूता (प्रसव पश्चात 42 दिन तक) अथवा 1 वर्ष आयु तक के बच्चे को घर से अस्पताल, अस्पताल से उच्चतर संस्थान एवं पुनः घर तक छोड़ने की सेवाएं 104 जननी एक्सप्रेस के माध्यम से निःशुल्क दी जाती है। इसके लिए टोल फ्री नंबर 104 अथवा 108 पर कॉल करके सेवा प्राप्त की जा सकती है। इस अवसर पर 104 सेवा नोडल अधिकारी ओम किराडू व सेवा प्रदाता एजेंसी के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

डॉ कश्यप ने बताया कि यह एंबुलेंस सीएचसी जसरासर, श्री डूंगरगढ़, गडियाला, बज्जू, कालू, पीएचसी जामसर, जांगलू, बादनू, मुकाम, कक्कू, दुलचासर, बिग्गा, लखासर, जयमलसर, बीकमपुर व रानेर दामोलाई पर तैनात रहेंगी।