National Slider

मीडियाकर्मियों के कार्य में बाधा डालने पर होगी कारवाई

पटना। बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे ने कहा है कि प्रेस मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है । इन्हें पूर्ण सुरक्षा और सहयोग प्रदान किया जाएगा। मीडियाकर्मियों के संवाद संकलन में बाधा डालने और पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मियों पर कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी ।

बिहार प्रेस मेंस यूनियन के अध्यक्ष और वरीय पत्रकार श्री एस एन श्याम के नेतृत्व में पत्रकारों का एक शिष्टमंडल 28 मार्च 2019 को पुलिस महानिदेशक से मिलकर 9 सूत्री मांगो का एक ज्ञापन सोंपा था। इस ज्ञापन के आलोक में पुलिस महानिदेशक श्री पांडेय ने बिहार के सभी जिला के एसएसपी, एसपी (रेल सहित) को लिखित आदेश/ निर्देश दिया है कि, पुलिस के वरीय से लेकर कनीय पदाधिकारी तक पूर्वाग्रह से प्रेरित होकर मीडियाकर्मियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करें । पुलिसकर्मी प्रेस / मीडियाकर्मियों के साथ भद्रता से पेश आएं और नम्र व्यवहार करें ।

gyan vidhi PG college

किसी प्रकार की निरोधात्मक कार्रवाई नहीं किया जाए । पुलिस महानिदेशक श्री पांडे ने पुलिस अधिकारियों को सख्त हिदायत दी है कि, उनके आदेश/ निर्देश का अनुपालन नहीं करने पर किसी प्रकार की शिकायत मिलती है तो उसे गंभीरता से लिया जाएगा, और जांचोंपरान्त दोषी पुलिसकर्मियों पर कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी । इस पत्र की प्रतिलिपि सभी रीजनल आई. जी. और रेंज डीआईजी को भी भेजा गया है ।

पुलिस महानिदेशक के इस त्वरित और सख्त कार्रवाई पर बिहार प्रेस मेंस यूनियन के महासचिव- सुधांशु कुमार सतीश, सचिव- अनमोल कुमार, उपाध्यक्ष -आरती कुमारी, अविनाश कुमार, विजय मिश्रा “बाबा’, त्रिलोकी कुमार इत्यादि ने हर्ष व्यक्त करते हुए आभार व्यक्त किया है ।

cambridge1