Bikaner Jaipur Rajasthan Slider

बीकानेर में बनेगा ऑडिटोरियम व इन्डोर स्पोर्टस काम्पलेक्स : राज्यपाल

जयपुर। राज्यपाल एवं कुलाधिपति श्री कल्याण सिंह ने रोजगारसृजक शिक्षा की आवश्यकता प्रतिपादित की है। उन्होंने कहा है कि विश्वविद्यालयों को ऐसे प्रयास करने होंगे कि शिक्षा रोजगार का सृजन करने वाली बन सके। राज्यपाल ने भविष्य की आवश्यकताओं के अनुरूप उच्च शिक्षा में आमूलचूल परिवर्तन करने की जरूरत जताई है। राज्यपाल श्री सिंह ने सोमवार को यहां राजभवन में बीकानेर के महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय में बनने वाले ऑडिटोरियम व इण्डोर स्पोर्ट्स काम्पलेक्स की शिलान्यास पट्टिका का अनावरण किया।

इस मौके पर ऊर्जा मंत्री श्री बी.डी. कल्ला व उच्च शिक्षा राज्य मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी भी मौजूद थे। राज्यपाल श्री सिंह ने कहा कि आधुनिकता के साथ शिक्षा को इतर गतिविधियों से जोडऩे का यह प्रयास सराहनीय है। इस प्रोजेक्ट से बीकानेर संभाग के युवाओं को अपनी प्रतिभा को विकसित करने का मौका मिल सकेगा।
रिक्तियों को शीघ्र भरा जावे- कुलाधिपति श्री कल्याण सिंह ने विश्वविद्यालयों में रिक्त पदों को यथा शीघ्र भरे जाने की कार्यवाही की जरूरत जताई है। कुलाधिपति श्री सिंह ने कहा कि प्राध्यापकों के अभाव में शिक्षा कैसी होगी, यह कल्पना करने से ही मन को बड़ी खेद पहुँचती है। राज्य सरकार को इस पर कार्यवाही करनी चाहिए।


पेंशन की समस्या का निराकरण हो- राज्यपाल श्री सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय के कर्मियों को पेंशन नही मिलना, एक बड़ी समस्या बनती जा रही है। इस समस्या का निराकरण करने के लिए राज्य सरकार को प्रयास करने होंगे। सेवानिवृत्त कर्मियों में पेंशन न मिलने से कुंठा पैदा हो जाती है। इसलिए इस समस्या का निवारण आवश्यक है।
मन को कष्ट होता है- कुलाधिपति श्री कल्याण सिंह ने कहा कि राजस्थान के विश्वविद्यालयों का नाम रैंकिग लिस्ट में नही आने पर उन्हें बेहद कष्ट होता है। रैंकिग में उच्च स्तर पर आने के लिए विश्वविद्यालयों को समन्वित प्रयास करने होगे। श्री सिंह का मानना था कि विश्वविद्यालयों को रैंकिग में लाने वाले बिन्दुओं पर गहनता से मंथन करना चाहिए और उन बिन्दुओं के अनुरूप कार्य भी करने होगे।
सामाजिक सरोकारों से जोडे- कुलाधिपति श्री सिंह ने कहा कि विद्यार्थियों को गांवों से जोड़े। उन्हे सामाजिक सरोकार सिखाएं। विश्वविद्यालय गांवों को गोद लें। गांव को स्मार्ट बनाने का प्रयास करें।
प्लेसमेंट कैंप लगाये- राज्यपाल ने कहा कि विश्वविद्यालयों को प्लेसमेंट कैंप लगाने होंगे। इससे छात्रों को मौके पर रोजगार मिल सकेगा।


ऊर्जा मंत्री श्री बी.डी. कल्ला ने कहा कि विद्य़ा ही व्यक्ति को बनाती है। इसलिए शिक्षा को बढ़ावा देना होगा। श्री कल्ला ने राज्य स्तर पर उच्च शिक्षा में निगरानी हेतु यू जी सी की भांति नियामक संस्था बनाये जाने की जरूरत बताई है। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि विश्वविद्य़ालय की यह परियोजना बीकानेर संभाग के लिए उपयोगी है। ?से प्रयासों से बीकानेर शिक्षा में दिनों-दिन आगे बढ़ सकेगा व अलग पहचान भी बना सकेगा।
विश्वविद्यालय के कुलपति श्री भगीरथ सिंह ने प्रोजेक्ट की जानकारी दी। विश्वविद्यालयों की गतिविधियों के बारे में बताया। बीस करोड़ रूपये से बनने वाले इण्डोर स्पोर्ट्स काम्पलेक्स में बॉस्केटबॉल, बॉलीबाल, बैडमिंटन, जूडो, कुश्ती, जिम्नास्टिक, टेबल टेनिस, योगा, एरोविक्स और शूिंटग रैंज के लिए आधुनिकतम सुविधायें होगी। तेरह करोड़ रूपये में बनने वाले ऑडिटोरियम में एक हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी। इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव श्री देबाशीष पृष्टि, विशेषाधिकारी डॉ. अजय शंकर पाण्डेय सहित राजभवन व विश्वविद्यालय के अधिकारी मौजूद थे(PB)