Bikaner News
Bikaner Rajasthan Slider

बीकानेर सार समाचार : सोमवार, 28 जनवरी 2019

श्रमिकों के साथ सामान्य लोगों को मिलेगी चिकित्सा सुविधा : गंगवार

गजनेर रोड पर जवाहर पार्क पर स्थित ई.एस.आई. अस्पताल में सोमवार को केन्द्रीय श्रम और रोजगार राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार, संसदीय मामले जल संसाधन,नदी विकास एवं गंगा संरक्षण राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल के मुख्य आतिथ्यि में तथा प्रदेश के श्रम विभाग,कारखाना और बायलर्स निरीक्षण विभाग सहकारिता एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना मंत्री टीकाराम जूली की अध्यक्षता में बनने वाले अस्पताल भवन का शिलान्यास किया। Bikaner Hindi News

मुख्य अतिथि केन्द्रीय श्रम और रोजगार राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार ने शिलान्यास समारोह में कहा कि 2.44 एकड़ के क्षेत्रफल में 100 करोड़ की लागत से बनने वाले इस अस्पताल में प्रारंभ में 30 बिस्तरों का होगा। बाद में इसको 100 बिस्तारों तक विस्तारित किया जाएगा। निर्माण के बाद इस अस्पताल में बीमित व्यक्तियों को आपातकालीन, ओ.पी.डी. वार्ड, लैबोरेटरी, आॅपरेशन थियेटर, मातृत्व सेवाएं आदि चिकित्सा की आधारभूत सुविधाएं सुलभ होगी। इसमें पंजीकृत श्रमिकों के साथ सामान्य तबके के लोगों का भी ईलाज किया जाएगा।

केन्द्रीय मंत्री गंगवार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प है कि देश के सभी नागरिकों विशेषकर श्रमिकों व गरीब तबके के लोगों को सामान्य खर्च पर बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलें। केन्द्र सरकार के संकल्प में श्रीवृद्धि करने के लिए ही बीकानेर में ई.एस.आई. अस्पताल के विस्तार का कार्य शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि राजस्थान में कर्मचारी रारज्य बीमा निगम की ओर से सर्वप्रथम चार जिलों में केवल छः केन्द्रों जयपुर,जोधपुर,बीकानेर, पाली, भीलवाड़ा एवं लाखेरी में वर्ष 1956 में लागू की गई। कर्मचारी राज्य बीमा योजना प्रदेश के सभी 33 जिलों में लागू है। इस योजना में 13.98 लाख बीमाकृत व्यक्ति, परिवार ईकाइयांें के 54.24 लाख लाभार्थी है।

arham-english-academy

केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि प्रदेश में जयपुर, भिवाड़ी एवं अलवर में कर्मचारी राज्य बीमा निगम की 3 अस्पतालों तथा जोधपुर, पाली, भीलवाड़ा एवं कोटा में योजना अस्पतालों, 74 औषधालयों 2 डी.सी.बी.के माध्यम से चिकितसा सुविधाएं सुलभ करवाई जा रही है। नव कार्यन्वित क्षेत्रों में भी 34 निजी अस्पतालों कर्मचारी राज्य बीमा निगम के माध्यम से चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। Bikaner Hindi News

इसके अतिरिक्त बीमित व्यक्तियों उनके परिवारों को प्राथमिक, अति विशिष्ट चिकितसा उपचार के लिए 27 निजी अस्पतालों से टाई-अप किया गया है। भारत में 10.33 लाख कारखानों एवं प्रतिष्ठानों में कर्मचारी राज्य बीमा निगम की योजनाएं लागू है, जिसके माध्यम से 13.32 करोड़ लोगोें को लाभान्वित किया जा रहा है। सन 1952 में स्थापित निगम अब तक 154 अस्पतालों, 1500/148 औषधालयों/आई.एस.एम. को, 815 शाखा/भुगतान कार्यालयों एवं 64 क्षेत्रीय उप क्षेत्रीय कार्यालयों की स्थापना कर चुका है।

केन्द्रीय संसदीय मामले, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण राज्य मंत्री और सांसद अर्जुन मेघवाल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि बीकानेर में इस अस्पताल के खुलजाने से श्रमिकों व उनके आश्रितों के साथ सामान्य वर्ग व तबके के लोगों को भी बेहतर चिकित्सा सुविधा सुलभ होगी।

प्रदेश के श्रम विभाग मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि अलवर में एक दसक पूर्व 800 करोड़ रुपए की बनवाई गई ई.एस.आई. की 300 बैड की अस्पताल व मेडिकल काॅलेज भवन का निर्माण करवाया गया था। अलवर के इस अस्पताल व भवन जिस उद्धेश्य से बनवाया गया था उसमें स्थिलता रहने से श्रमिकों व उनके परिजनों को वास्तविक लाभ नहीं मिल रहा है। उन्होंने अस्पताल के उद्धेश्यों की पूर्ति के लिए गति प्रदान करने, केन्द्र सरकार से संसाधन सुलभ करवाने, राज्य के सभी जिलों में ई.एस.आई. की अस्पताले खोलने की बात कही।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में जवाबदेही सरकार के रूप में लोगों को श्रेष्ठ स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए संकल्पबद्ध है। समारोह में महापौर नारायण चैपड़ा, जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पच्चीसिया ने भी विचार व्यक्त किए। मंच पर पार्षद लक्ष्मण महाराज व्यास, उद्योगपति सुभाष मित्तल, बेटी बचाओं, बेटी पढ़ावों अभियान की डाॅ.मीना आसोपा, डाॅ.सत्य प्रकाश आचार्य, सहीराम दूसाद आदि मौजूद थे। कर्मचारी राज्य बीमा निगम के राष्ट्रीय और प्रदेश के अधिकारी डाॅ.आर.के.कटारिया, क्षेत्रीय निदेशक जी.सी.दर्जी, मुख्य अभियंता सुधीर दत्ता व मुकेश मीणा ने अभिनंदन किया।

Bikaner News

काॅलेज की छात्राओं को निःशुल्क शिक्षा का प्रयास इसी सत्र से : उच्च शिक्षा मंत्री

shyam_jewellersउच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा है कि काॅलेज व विश्व विद्यालयों में अध्ययनरत बालिकाओं को अगले शिक्षा सत्र से निःशुल्क शिक्षा देने तथा शिक्षा के सुदृढिकरण के प्रयास किए जा रहे है।

गुणवतायुक्त अच्छी क्वालिटी की शिक्षा सरकार की प्राथमिता है। सरकार के प्रयास में सरकारी व गैर सरकारी महाविद्यालयों के प्राध्यापक व विद्यार्थी सहभागी बनें।

उच्च शिक्षा मंत्री भाटी सोमवार को महारानी सुदर्शन कन्या महाविद्यालय में मेधावी छात्राओं के स्कूटी वितरण, वार्षिकोत्सव एवं ’’प्रतियोगिता दक्षताएं’ कक्षाओं के शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने जिले की 52 छात्राओं को स्कूटी प्रदान की।  Bikaner Hindi News

उन्होंने कहा कि महारानी सुदर्शन कन्या महाविद्यालय सहित प्रदेश के अनेक महाविद्यालय ंराज्य सरकार की नीति पत्र की अनुपालना महाविद्यालय की नियमित एवं अन्य छात्राओं की प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए निःशुल्क कोचिंग कक्षाएं ’’प्रतियोगिता दक्षताएं’ शुरू की गई है। इनमें सामान्य ज्ञान, विज्ञान हिन्दी, अंग्रेजी व अन्य सभी एच्छिक विषयों का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

भाटी ने कहा कि महारानी सुदर्शन महाविद्यालय सहित प्रदेश के महा विद्यालयों में प्राध्यापकों सहित अनेक रिक्त पदों को भरने के प्रयास किए जाएंगे। महाविद्यालयों में 830 पदों को भरने के लिए लोक सेवा आयोग को तकमीना भिजवा दिया गया है। उन्होंने सुदर्शन महाविद्यालय में ंसंगीत, बाॅटनी, रसायन शास्त्र, जीव विज्ञान,विभिन्न एम.ए.की स्नातकोतर तथा भूगोल, राजस्थानी व उर्दू की स्नातक कक्षाओं को शुरू करवाने, कन्या छात्रावास में सुविधाएं सुलभ करवाने भी आश्वासन दिया।

विशिष्ट अतिथि पुलिस महानिरीक्षक डाॅ.बी.एल.मीणा ने कहा कि छात्राएं अपने अधिकार व कानून की जानकारी रखें तथा यातायात नियमों की पालना में सहभागी बनें। स्वयं शिक्षित बनकर समाज की पिछड़े व गरीब तबके की शिक्षा से वंचित बालिकाओं को शिक्षित बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें।

शिक्षा विभाग के अतिथियों के साथ सहायक निदेशक राकेश हर्ष, कस्टम विभाग के अधिकारी राजकुमार पन्नु, स्कूल के प्राचार्य डाॅ.उमाकांत गुप्त, उप प्राचार्या डाॅ.पुष्पा चैहान, राजकुमार किराडू, श्रीमती सुनीता गौड़ ने शैक्षणिक व शैक्षणेतर गतिविधियों में अव्वल रही छात्राओं को पुरस्कृत किया । इस अवसर पर छात्र संघ के पदाधिकारियों को शपथ दिलवाई गई तथा ’’प्रतियोगिता दक्षताएं’ कक्ष का उद्घाटन किया गया।

वरिष्ठ उधमियो को किया सम्मानित – Bikaner Hindi News

बीकानेर जिला उद्योग संघ के द्वारा वरिष्ठ उधमियो को समानित किया गया अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पच्चीसिया ने बताया कि जिला उद्योग संघ उन माहानुभावो का तहदिल से स्वागत करता है जिन्होंने अपना तनमन सब उद्योग जगत को समर्पित किया तथा उद्योग जगत में नई तकनीको का आवान किया जिनमे आने वाली पीडियो को ओधोगिक क्ष्रेत्र में सफलता का मुकाम हासिल हो तथा उन्ही परिश्रम से आज उद्योग जगत में नये संसाधनों से काफी हद तक आसानी मिली है

मुख्य अतिथि में श्री पंडित रामेश्वरानंद जी पुरोहित अधिष्ठाता पीठाधीश्वर ब्रह्मगायत्री सेवाश्रम,राजेन्द्र सेठिया संयुक्त निर्देशक जिला उद्योग केन्द्र,अनिल यादव बी.एस.अफ.कमांडेड,डॉ.विनोद बिहाणी पूर्व अधीक्षक पीबीएम हॉस्पिटल,वैद प्रकाश लखोटिया थानाधिकारी कोटगेट बीकानेर ,अनंतवीर जैन अध्यक्ष बीकानेर व्यापार उद्योग मण्डल सरक्षक परिषद् विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित हुए Bikaner Hindi News

बीकानेर जिला उद्योग संघ के सचिव विनोद गोयल ने बताया कि इन वरिष्ठ उधमियो का हुआ सम्मान पी.सी गोयल,सुभाष मितल,राजाराम सारड़ा,घेवरचंद मुसरफ,शिवरतन पुरोहित,भोमराज अग्रवाल,डॉ.मोतीलाल गहलोत,हरिकिशन गहलोत,जयनारायण गोयल,शंकरलाल करनानी,नन्दलाल थिरानी को सम्मानित किया गया | इस खास अवसर पर के.के मेहता,कन्हेयालाल लखानी,पारस डागा,जगदीश चौधरी,किशन बोथरा,रूपचंद अग्रवाल,श्रीधर शर्मा,सुरेन्द्र बांठिया,राजकुमार पच्सिसिया,किशन मुन्धडा,चंद्रप्रकाश नवलखा मौजूद रहे |

रामावत समाज की प्रतिभाओं व भामाशाहों का सम्मान

श्रीमद्स्वामी रामानंदाचार्य महाराज की जयंती के मौके पर अंसल सिटी स्थित रामावत समाज भवन में रामानंदाचार्य महाराज के जीवन से प्रेरणा लेने का आह्वान करते हुए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंहत केशुदास जी महाराज, कांग्रेसी नेत्री शांति देवी, राष्ट्रीय युवा महासचिव गजेन्द्र रामावत, एडवोकेट संजय रामावत, मुरली रामावत, जयमलसर सरपंच पवन रामावत, मोहन दास, वरिष्ठ कार्यकारिणी संरक्षक जयकिसन वैष्णव, अध्यक्ष भीखूलाल रामावत रहे। जयंती महोत्सव गुरुवंदन व आरती के साथ विधिवत शुरूआत हुई।

नवयुवक मंडल अध्यक्ष महेन्द्र कुमार साध ने बताया कि महोत्सव में समाज के वरिष्ठजनों, 10वीं, 12वीं में 75 प्रतिशत से ज्यादा अंक लाने वालों विद्यार्थियों प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया गया। साथ ही वर्ष 2018-19 में आयोजित समाज की क्रिकेट व कबड्डी प्रतियोगिता में विजेता टीमों को ट्रॉफी प्रदान की गई और इन प्रतियोगिता में सहयोग देने वाले भामाशाहों को सम्मानित किया गया। तत्पश्चात कार्यक्रम में पहुंचे समाज बंधुओं ने प्रसाद स्वरूप भोजन ग्रहण किया।

जयंती संयोजक अध्यक्ष बृजमोहन रामावत ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी समाजबंधुओं से अपील और प्रंण लिया कि सामाजिक कुरीति ओढ़ावणी लेने व देने की परम्परा बंद होनी चाहिए। जिस पर सभी उपस्थित समाजबंधुओं ने समर्थन किया। Bikaner Hindi News

जयंती समारोह में यह रहे उपिस्थत

महोत्सव में नवयुवक मण्डल अध्यक्ष महेन्द्रकुमार साध, खेलमंत्री द्वारकाप्रसाद रामावत, गोविन्द रामावत, रणजीत साध, कोषाध्यक्ष जयकिशन रामावत, एडवोकेट संजय रामावत, कपिल रामावत, राजेश रामावत, ओमप्रकाश रामावत, एडवोकेट कन्हैयालाल रामावत, सचिव रामचन्द्र वैष्णव, नाल पूर्व सरपंच श्रीराम रामावत, घनश्याम रामावत, दिनेश रामावत, कोषाध्यक्ष शिवशंकर स्वामी, नवयुवक मंडल उपाध्यक्ष संतोष रामावत, आरपीआई सुनील रामावत, मोहनदास रामावत, माणकदास, नंदूकिशोर रामावत, बजरंग रामावत, बी.डी रामावत, पत्रकार मुकेश रामावत सहित बड़ी संख्या में समाज के गणमान्य उपस्थित रहे। मंच संचालन पूर्व सरपंच श्रीराम रामावत ने किया।

उस्ता कला के जरिए मेरा गौरव मेरा प्रतिष्ठालय को दिया साकार रूप

’शौचालय’ घर का एक ऐसा कोना जो उपयोगिता की दृष्टि से भले अहम हो, पर देखभाल के नजरिए से हमेशा उदासीन ही रहा। स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिले के गांवों में लाखों लोगों के घरों में टॉयलेट बनाए गए लेकिन उपेक्षित से पड़े इस कोने को गोल्डन आर्ट के एक कलाकार राम भादाणी ने एक नया रूप देकर न केवल लोगों के आकर्षण का केन्द्र बना दिया बल्कि जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम के नवाचार मेरा गौरव-मेरा प्रतिष्ठालय को भी साकार रूप प्रदान किया।

बीकानेर मूल की चित्र शैली उस्ता कला, बादल पेंटिंग जो सदियों से हवेलियों-महलों की शोभा बढ़ाती रही, चित्रकार रामकुमार भादाणी ने शौचालय की दीवारों पर इसे उकेर कर भित्ति चित्र शैली की एक नई मिसाल स्थापित की है। बीकानेर पंचायत समिति के गाडवाला गांव में गोपाल चूरा के घर बने शौचालय की दीवारों पर इस कलाकार ने अपनी कूची से कला के नए आयामों को प्रस्तुत किया। बादल पेटिंग जो मरूप्रदेश में बारिश की बौछारों का एहसास दिलाने के प्रतीक के रूप में अपनी एक अलग पहचान रखती है।

इस पेंटिंग को शौचालय की दीवारों पर उकेर कर प्रतिकूल परिस्थितियों में घर की इज्जत(महिलाओं) को एक सुरक्षित जगह मुहैया करवाने का एक अनूठा संदेश दिया गया है। इतना ही नहीं, शौचालय की दीवारों पर बनाई गई मांडना कलाकृतियां यहां की लोक संस्कृति की जीवंत झलक को साकार करती है। भादाणी कहते हैं कि मांडणे हमारी संस्कृति में खुशहाली, प्रसन्नता और प्रतिष्ठा का प्रतीक है। इसी प्रतिष्ठा को उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान के साथ जोड़ा है। शौचालय के सामने की दीवार पर सुनहरे रंगों में बीकानेर मूल की उस्ता कला का चित्रण किया गया है।

सुनहरे रंगों से झांकती यह पेंटिंग अपनी सुंदरता से तो लोगों के आकर्षण का केन्द्र तो बनी ही, साथ ही संदेश भी दे रही है कि शौचालय हर घर, परिवार और समाज के लिए कितना अहम है। स्वच्छता के क्षेत्र में हमेशा से पॉयनियर रहे बीकानेर में हुए इस नवाचार ने आसपास के कई गांवों के लोगों को भी प्रेरित किया और अन्य गांवों में भी प्रतिष्ठालय पेंटिंग का यह सिलसिला प्रारम्भ हुआ है। कलाकार राम भादाणी का कहना है कि इस पेंटिंग के जरिए वे लोगों को खुले में शौच की आदत को बदलने का संदेश देना चाहते हैं।

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि भादाणी का यह प्रयास स्वच्छता के साथ सुंदरता का संदेश तो देगा ही इस कला को भी जन जन तक पहुंचाएगा।

एसकेआरएयूः संगठक एवं सम्बद्ध महाविद्यालयों की आमुखीकरण कार्यशाला प्रारम्भ

स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय के समस्त संगठक एवं सम्बद्ध महाविद्यालयों के प्रवेश एवं परीक्षा व्यवस्था में एकरूपता के उद्देश्य से तीन दिवसीय आमुखीकरण कार्यशाला सोमवार को कृषि महाविद्यालय के सभागार में प्रारम्भ हुई। Bikaner Hindi News

कार्यशाला के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कुलसचिव ताज मोहम्मद राठौड़ ने कहा कि विश्वविद्यालय के सभी संगठक और सम्बद्ध महाविद्यालय, विद्यार्थियों के प्रवेश एवं परीक्षा से संबंधित नियमों का भलीभांति अध्ययन कर लें तथा इनका प्रभावी क्रियान्वयन हो। उन्होंने कहा कि सभी महाविद्यालयों के प्रशासनिक नियमों एवं शुल्क में एकरूपता रहे। यदि कहीं नियमों में संशोधन की जरूरत होगी, तो बोम की बैठक में इन प्रस्तावों को रखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक महाविद्यालय का प्रथम ध्येय यही हो कि विद्यार्थियों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। उन्हें बेहतरीन शैक्षणिक वातावरण मिले।

कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता तथा कार्यशाला प्रभारी डाॅ. आई. पी. सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना के तहत इसका आयोजन किया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य महाविद्यालयों के समक्ष प्रवेश और परीक्षा से संबंधित विभिन्न व्यावहारिक समस्याओं की जानकारी हासिल करना तथा इनके निराकरण के प्रयास करना है। उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय कार्यशाला के तहत अलग-अलग सत्रों में विभिन्न विषय विशेषज्ञों द्वारा मार्गदर्शन प्रदान किया जाएगा।

विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक डाॅ. ए. के. शर्मा ने परीक्षा व्यवस्था एवं प्रबंधन से जुड़े तथ्यों को विस्तारपूर्वक समझाया। उन्होंने कहा कि परीक्षा विश्वविद्यालय की साख और विद्यार्थियों के भविष्य से जुड़ा विषय होता है। इसमें पूर्ण पारदर्शिता और गोपनीयता होना जरूरी है। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. नरेन्द्र पारीक ने किया। उन्होंने तीन दिवसीय प्रशिक्षण की रूपरेखा के बारे में बताया।

60 दिवसीय कार्ययोजना के अनुसार तय लक्ष्य समयबद्ध रूप से पूर्ण करें अधिकारी-शाले मोहम्मद

अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ बोर्ड व जिला प्रभारी मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा कि अधिकारी गंभीरता से कार्य करते हुए राज्य सरकार की 60 दिवसीय कार्ययोजना के अनुसार तय लक्ष्य समयबद्ध रूप से पूर्ण करें। Bikaner Hindi News

प्रभारी मंत्री ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेते हुए कहा कि अधिकारी जनता की शिकायतों के निस्तारण को प्राथमिकता पर रखते हुए कार्य करंे तथा राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का क्रियान्वयन कर आमजन को राहत दें। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर कोताही व भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

पीबीएम अस्पताल में सुधरे व्यवस्थाएं

प्रभारी मंत्री ने कहा कि पीबीएम अस्पताल संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल है यहां पर स्वास्थ्य, जांच, दवा सहित व्यवस्थाओं से जुड़ी विभिन्न शिकायतें मिल रही है। उन्होंने अधिकारियों को व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश देते हुए कहा कि यहां पहुंचने वाले मरीजों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़े यह सुनिश्चित किया जाए। चिकित्सकों के विजिट समय को निर्धारित किया जाए, साथ ही यह भी सुनिश्चित हो कि चिकित्सक मरीजों के साथ संयमित व्यवहार करें तथा वरिष्ठ चिकित्सक भी मरीजों के लिए उपलब्ध रहें।

स्वाइन फ्लू न हो एक भी मौत

जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित हो कि स्वाइन फ्लू से जिले में एक भी मौत न हों। डोर टू डोर सर्वे करवा कर संभावित मरीजों को उचित उपचार उपलब्ध करवाया जाना सुनिश्चित किया जाए। मच्छर प्रभावित क्षेत्रों में नगर निगम नियमित रूप से फोगिंग कार्य करें। उन्होंने निगम से साफ-सफाई कार्य को भी सुचारू रूप से संपादित करने के निर्देश दिए। आवारा पशुओं की समस्या से निपटने के लिए निगम जिले की विभिन्न गोशालाओं से सहयोग लें।

रात आठ बजे बाद न मिले शराब

प्रभारी मंत्री ने कहा कि आबकारी तथा पुलिस विभाग आपसी समन्वय से यह सुनिश्चित करें कि रात आठ बजे के बाद शराब की कोई भी दुकान न खुले। इस सम्बंध में सम्बंधित एसएचओ की जिम्मेदारी तय की जाए। सादे कपड़ों में पुलिस कर्मी तैनात रह कर पेट्रोलिंग करें।

समय पर हो मनरेगा श्रमिकों का भुगतान

शाले मोहम्मद ने कहा कि मनरेगा के तहत श्रमिकों के भुगतान समय पर होना सुनिश्चित करें तथा भुगतान में भ्रष्टाचार से जुड़ी कोई शिकायत न मिले। उन्होंने कहा कि मनरेगा के तहत सूखाग्रस्त क्षेत्रों में श्रमिकों द्वारा मंागे जाने पर तुरंत रोजगार उपलब्ध करवाया जाए। उन्होंने कहा कि दीन दयाल उपाध्याय विद्युतीकरण योजना के तहत कनेक्शन से जुड़ी कोई भी शिकायत मिले।

भ्रष्टचार आदि से जुड़ी शिकायतों पर सक्षम अधिकारी मौके पर जाकर प्रकरण की जांच करें। इन शिकायतों को हल्के में न लें। इनसे जुड़े किसी भी प्रकरण पर कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि बिजली कनेक्शन के लिए जिन आवेदकों द्वारा डिमांड नोटिस जमा करवाए जा चुके हैं उनके कनेक्शन जल्द से जल्द जारी किए जाएं। जिले में जहां भी सड़कें टूटी है उनकी मरम्मत, पेंच आदि कार्य शुरू किये जाए। मिसिंग लिंक, गौरव पथ सहित विभिन्न योजनाओं में गुणवता के साथ किसी भी प्रकार का कोई समझौता न हो। पुष्करणा सावे के मददेनजर शहर के अंदरूनी हिस्सों में सड़क और प्रकाश व्यवस्था को सुचारू किया जाए।

प्रभारी मंत्री ने कृषि उपनिदेशक को यूरिया कालाबाजारी जैसी किसी भी शिकायत पर गंभीरता से कार्य करने के निर्देश दिए तथा कहा कि बीज किट का समय पर वितरण हो तथा डिग्गी निर्माण का लक्ष्य बढ़ाए जाएं। प्रभारी मंत्री ने कहा कि गर्मी के मौसम में नहरबंदी को देखते हुए सभी तैयारियां समय रहते पूर्ण कर ली जाए। जीएलआर निर्माण का कार्य पीएचईडी से एनओसी प्राप्त करने के पश्चात ही किया जाए ताकि इन्हें पाइपलाइन से जोड़ा जा सके।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिले के जो उपखंड पीने के पानी के लिए नहरी पानी से वंचित है वहां नहर का पानी पहुंचाने के लिए प्रस्ताव बनाकर भिजवाए जाएं। शहर में पेयजल पाइप लाइन में लीकेज की शिकायतों को तुरंत ठीक करवाते हुए पेट्रोलिंग बढ़ाएं ताकि पानी को बेकार बहने से रोका जा सके।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि शिक्षा, चिकित्सा सहित विभिन्न विभाग अपने यहां खाली पदों की सूचना भिजवाएं तथा विधानसभा चुनाव आदि के दौरान प्रतिनियुक्ति पर भेजे गए कार्मिकों को पुनः मूल विभाग में भेजा जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि फसल ऋण माफी योजना के तहत लाभार्थियों के नामों की सूची ग्राम पंचायत मुख्यालय, सोसाइटी तथा अटल सेवा केन्द्रों पर चस्पा की जाए।

पूर्ण सूचना के साथ बैठक में आएं अधिकारी

प्रभारी मंत्री ने कहा कि सम्बंधित विभाग बैठक में सारी सूचना के साथ पूर्ण तैयारी करके उपस्थित हों, विभाग से जुड़ी समस्त जानकारी अधिकारियों के टिप्स पर हों।
बैठक में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भंवरसिंह भाटी ने कहा कि भल्लूरी जीएसएस को पूरा करने में क्या समस्याएं आ रही है इसके लिए सक्षम अधिकारी मौके पर जाकर निरीक्षण करें तथा इस जीएसएस को जल्द पूर्ण करवाया जाए।

उन्होंने कहा कि जिले भर में ढीले तारों की शिकायतों को देखते हुए विभाग कार्ययोजना बनाकर इस सम्बंध में कार्य करें। उन्होंने कहा कि देशनोक में सीवरेज लाइन चॉक होने से गंदा पानी लोगों के घरों में जाने की शिकायत मिल रही है। इसके निस्तारण के लिए नगर पालिका अधिकारी तुरंत प्रभाव से कार्यवाही करें।

बैठक में जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि जिले में गत पांच वर्षों में पहली बार मनरेगा के तहत श्रमिकों की संख्या 1 लाख से अधिक हुई। इसे और बढ़ाने की दिशा में काम किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में 189 गांव फसल खराबे से प्रभावित है। सर्वाधिक नुकसान खाजूवाला उपखंड में है जहां 60 में से 58 गांव प्रभावित है। जिले के 1 लाख 10 हजार किसान प्रभावित हुए हैं इनको मदद देने के लिए ऑनलाइन ट्रांसफर की व्यवस्था की जा रही है। प्रभारी मंत्री ने सूखा प्रभावित क्षेत्रों में रोजगार तथा पशुधन के लिए चारे आदि की पुख्ता व्यवस्था के निर्देश दिए।

बैठक में खाजूवाला विधायक गोविन्द चौहान, नगर निगम आयुक्त प्रदीप गवांडे, जिला प्रमुख सुशीला सींवर, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी, जिला परिषद की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रतिभा देवठिया, यशपाल गहलोत, महेन्द्र गहलोत, जियाउर रहमान आरिफ, राजकुमार किराडू, जावेद परिहार सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

गडकरी ने किया छब्बीस सौ करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास

बीकानेर को तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग मिलेंगे। इन में प्रथम बीकानेर से सत्तासर तक दूसरा एनएच कोलायत बज्जू से बांसुरी तक तथा तीसरा राष्ट्रीय राजमार्ग सांखला फांटा से बज्जू होकर निकलेगा। यह घोषणा सोमवार को स्थानीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग परिवहन व जल संसाधन नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री नितिन गडकरी ने की।

इस अवसर पर गडकरी ने 26 सौ करोड़ रूपए की लागत से बनने वाली 534 किलोमीटर लम्बी सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। उन्होंने कहा कि बीकानेर शहर के अंदरूनी क्षेत्र में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए रोपवे पर भी विचार किया जाएगा। लोकार्पण और शिलान्यास समारोह में नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 5 बीकानेर से फलोदी तक बने सड़क का लोकार्पण किया। इस सड़क के निर्माण पर 822 करोड़ 90 लाख रुपए खर्च हुए है। इस सड़क के कार्यों में चौड़ाईकरण का कार्य सहित अन्य निर्माण कार्य शामिल हैं।

सड़क परिवहन मंत्री ने 1755.26 करोड़ रूपए की लागत से बनने वाले दो राष्ट्रीय राजमार्गों का शिलान्यास किया। इसमें 860. 26 करोड़ रुपए की लागत से अनूपगढ़, घड़साना, सत्तासर, सड़क चौड़ाईकरण करने का कार्य, जिस की कुल लंबाई 162 किलोमीटर से अधिक है, शामिल है। उन्होंने कहा कि सड़कों के सुदृढ़ीकरण हो जाने से यातायात और सुुलभ हो जाएगा तथा नई सड़कों के निर्माण से स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार के नए अवसर सृजित हो सकेंगे।

केंद्रीय मंत्री ने खाजूवाला पूगल खंड की 212 किलोमीटर लंबी सड़क का भी शिलान्यास किया। इस पर 895 रूपए का खर्च आएंगा। सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि विकास की राजनीति करना हमारी प्रथम प्राथमिकता है। गत 4 वर्षों में केंद्र सरकार द्वारा पूरे देश में विकास की गंगा बहाई गई है और आप सब लोग देखना कि राजस्थान में भी जो बड़े तालाब हैं वहां हवाई जहाज भी उतरेगा।

साथ ही प्रदेश के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्ति को रोजगार मिले और किसान को उसकी खेती का पूरा पैसा मिले, इसके लिए सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि बीकानेर में 3 नए राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण सहित स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल द्वारा बीकानेर के विकास के लिए दिए गए प्रस्ताव पर शीघ्र ही कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

सड़क परिवहन मंत्री ने कहा कि बीकानेर में यातायात व्यवस्था को ठीक करने के लिए वेब कोर्ट के माध्यम से एक तकमीना बनाया जाएगा, जिसमें शहर के हेरिटेज रूट पर रोपवे के माध्यम से आम लोगों को गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जाएगा, इसमें प्रथम चरण में 10 किलोमीटर का एरिया चिन्हित किया जाएगा। जिसमें रेलवे स्टेशन से पीबीएम अस्पताल, शीतला गेट और हेरिटेज रास्ते पर यह रोपवे चलेगा। इस कार्य पर प्रथम चरण के लगभग 715 करोड रुपए खर्च होंगे और इसका किराया इतना रखा जाएगा कि आम आदमी इसका लाभ ले सकेगा। यह कार्य बीकानेर में मॉडल ट्रांसपोर्ट सल्यूशन के तहत विकसित किया जाएगा।

इस अवसर पर पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय मानकों तथा देश के विभिन्न शहरों में चल रहे रोपवे के बारे में बीकानेर शहर के आम लोगों को बताया गया कि किस तरह रोपवे से यातायात सुगम किया जा सकेाग। उन्होंने कहा कि इसके बनने से स्टेशन के आसपास बाजार भी विकसित होगा, जिससे स्थानीय लोगों के रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

इस अवसर पर स्थानीय सांसद व केंद्रीय राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि सड़कों के लोकार्पण हो जाने से यातायात सुगम होगा और बीकानेर से जैसलमेर फलोदी तक का यात्रा का समय भी कम लगेगा। जिला मुख्यालय सहित बीच में आने वाले गांव के लोगों को भी इससे फायदा होगा। बीकानेर देश के लिए सामाजिक रूप से भी महत्वपूर्ण जिला है । इन सड़कों के बन जाने से सेना को फायदा होगा।

पॉलिटेक्निक कॉलेज के ग्राउंड में आयोजित समारोह में श्रम और रोजगार राज्य मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने कहा कि सड़कों के बन जाने से यातायात सुगम हुआ है और देश में लोगों को रोजगार भी मिला है साथ ही व्यापार में भी बढ़ोतरी हुई है। इस अवसर पर गंगानगर सांसद निहालचंद मेघवाल सहित अन्य वक्ताओं ने विचार रखे।