Bikaner News 11 September
Uncategorized

बीकानेर सार समाचार : बुधवार, 11 सितम्बर 2019

गांधी जी के जीवन दर्शन पर आधारित चित्र प्रदर्शनी ’’मोहन से महात्मा’’ का शुभारंभ

OmExpress News / बीकानेर /  राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर बुधवार को सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय सभागार में गांधी जी के जीवन दर्शन पर आधारित चित्र प्रदर्शनी ’’मोहन से महात्मा’’ का उद्घाटन वीरांगनाओं व शहीद परिजनों तथा ऊर्जा एवं जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बी.डी.कल्ला, अल्पसंख्यक मामलात एवं जिला प्रभारी मंत्री शालेह मोहम्मद, उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी व जिला प्रमुख सुशीला सींवर ने किया। इस अवसर पर अतिथियों ने वीरांगनाओं व शहीद परिजनों का सम्मान भी किया। Bikaner News 11 September

समारोह में डाॅ. बी.डी.कल्ला ने कहा कि प्रदर्शनी के माध्यम से नई पीढ़ी को महात्मा गंांधी के विचारों और जीवन दर्शन की विस्तार से जानकारी मिल सकेगी, जिससे वे इन्हें अपने जीवन में आत्मसात कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हमें गांधी जी के विचारों से प्रेरणा लेकर देश की एकता और अखण्डता कायम रखने के लिए प्रभावी प्रयास करने होंगे।

किया सम्मान:- समारोह के दौरान अतिथियों ने जिले की वीरांगनाओं, स्वतंत्रता सेनानियों व शहीद परिजनों का माल्यार्पण व शाॅल ओढ़ाकर सम्मान भी किया। इनमें स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय रामनारायण शर्मा की पत्नी कमलादेवी, स्वतंत्रता सेनानी स्वर्गीय दाऊलाल व्यास के पुत्र संतोष कुमार व्यास, शहीद सूबेदार जयसिंह की पत्नी पवन कंवर, शहीद राईफलमैन नारायण सिंह की पत्नी सुगन कंवर, शहीद हैड काॅन्स्टेबल जगदीश प्रसाद बिश्नोई की पत्नी रचना बिश्नोई, शहीद केप्टन चन्द्र चैधरी की पत्नी शारदा चैधरी, शहीद हेतराम गोदारा के भाई राजाराम गोदारा, शहीद राकेश कुमार चोटिया के भाई गणेश चोटिया, शहीद ओमप्रकाश की पत्नी निर्मला देवी का सम्मान किया गया।

मोहन से महात्मा:- गांधी जी के जीवन दर्शन पर आधारित चित्र प्रदर्शनी ’’मोहन से महात्मा’’ में पोस्टरों के माध्यम से गांधी जी का व्यक्तित्व-कृतित्व दर्शाया गया है। इनमें बैरिस्टर गांधी, सर्वोदय, सत्याग्रह, द्वितीय गोलमेज अधिवेशन, भारत छोड़ो आंदोलन, भारत विभाजन आदि के सम्बन्ध में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई है। प्रदर्शनी स्थल पर महात्मा गांधी तथा चरखे के अनेक कटआउट लगाए गए हैं व गांधी जी के प्रिय भजन भी बज रहे हैं। प्रदर्शनी स्थल पर बने सेल्फी पााईन्ट पर गांधी जी के कटआउट के साथ स्कूल व काॅलेजों के विद्यार्थियों ने सेल्फी ली। यह चित्र प्रदर्शनी 13 सितम्बर तक सूचना केन्द्र में आमजन के अवलोकनार्थ निःशुल्क खुली रहेगी।

सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय के उप निदेशक विकास हर्ष ने आभार व्यक्त किया तथा सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के सेवानिवृत संयुक्त निदेशक दिनेश सक्सेना, सेवानिवृत सहायक निदेशक मोहम्मद सलीम, राजस्थानी भाषा अकादमी के सचिव शरद केवलिया, सहायक जनसम्पर्क अधिकारी भाग्यश्री गोदारा, पुस्तकालयाध्यक्ष राजेन्द्र भार्गव ने अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए रवीन्द्र हर्ष ने बताया कि डाॅ.कल्ला भी अपने छात्र जीवन से ही गांधी जी के अहिंसा व सत्याग्रह के विचारों से प्रभावित रहे। उन्होंने बीकानेर में विश्वविद्यालय की स्थापना की मांग भी अहिंसा व सत्याग्रह के मार्ग पर चलते हुए की थी।  Bikaner News 11 September

Bikaner News 8 September

इस अवसर पर गांधी जयन्ती समारोह के प्रदेश संयोजक मनीष शर्मा, हेमन्त धारीवाल, जिला संयोजक संजय आचार्य, ए.डी.एम (प्रशासन) ए.एच.गौरी, ए.डी.एम (नगर) शैलेन्द्र देवड़ा, यशपाल गहलोत, महेन्द्र गहलोत, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी पी.एस.राठौड़, डाॅ. बिट्ठल बिस्सा, राजकुमार किराड़ू, अनिल कल्ला, कमल कल्ला, जिया उर रहमान, राहुल जादूसंगत, सुमित कोचर, श्याम तंवर सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि, पत्रकार, विद्यार्थी उपस्थित थे।

Bikaner News 11 September

पिछड़े व्यक्ति के विकास से समाज व राष्ट्र का विकास संभव  : डाॅ.कल्ला

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती का आगाज बुधवार को गांधी संदेश यात्रा के साथ हुआ। रेलवे खेल मैदान में ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डा.बी. डी. कल्ला ,जिले प्रभारी मंत्री और अल्प संख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद तथा उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी ने हजारों कीे संख्या में गांधी संदेश यात्रा में पहुंचे छात्र-छात्राओं को पूजनीय बापू को अपना आदर्श मानते हुए भारत के संविधान को साक्षी रखते हुए गांधी जी के सिद्धान्तों के अनुसरण की शपथ दिलाने के बाद अतिथियों ने गांधी संदेश यात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।

गांधी संदेश यात्रा का एक छोर रेलवे खेल मैदान तो दूसरा छोर गंाधी पार्क तक-गांधी संदेश यात्रा में पहुंचे हजारों छात्र-छात्राएं महात्मा गांधी के संदेश लिखी तख्तियां लिए चल रहे थे। इस यात्रा में बहुत सुन्दर व आकर्षक झांकियां प्रदर्शित की गई। विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के विद्यार्थियों ने बैनर व तख्तियों के माध्यम से गांधी जी के जीवन दर्शन को प्रदर्शित किया। यह यात्रा रेलवे स्टेडियम,बोथरा काॅम्पलेक्स, प्रेमजी पोईन्ट, महात्मा गांधी मार्ग, रतनबिहारी पार्क,पब्लिक पार्क होते हुए गांधी पार्क पहुंची।

संदेश यात्रा का एक छोर रेलवे खेल मैदान था,तो दूसरा छोर गांधी पार्क था। गर्मी और उमस भरा वातावरण होने के बावजूद बच्चों का यह कारवां गांधी जी अमर रहे, के नारे लगाते हुए अनुशानात्मक ढ़ंग से आगे बढ़ रहा था। गांधी जी के प्रिय भजन की धुन बच्चों में ऊर्जा का संचार कर रही थी। इस दौरान तीनों ही मंत्री पूरे रास्ते बच्चों का उत्साहवर्द्धन करते हुए संदेश यात्रा के साथ चल रहे थे । गांधी संदेश यात्रा का नेतृत्व गांधी की वेशभूषा में सज्जित बच्चे कर रहे थे।  Bikaner News 11 September

महात्मा गांधी की आदमकद प्रतिमा को किया नमन-ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री,जिला प्रभारी मंत्री और अल्प संख्यक मामलात मंत्री तथा उच्च शिक्षा राज्यमंत्री ने गांधी की प्रतिमा पर पुष्पाजंलि अर्पित कर,उन्हें नमन किया।

इस अवसर पर डाॅ.कल्ला ने कहा कि गांधी जी ने आज के ही दिन सत्याग्रह आन्दोलन की शुरूआत की थी। महात्मा गांधी की सोच ने पूरे विश्व को रंगभेद पर सोचने के लिये मजबूर कर दिया था, इसलिये गांधी जी एक मजबूती का नाम है। उन्होंने कहा कि गांधी अतीत ही नही हमारा भविष्य भी है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने सबसे पहले अंतिम पंक्ति में बैठे व्यक्ति के उत्थान को आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा था कि सबसे पिछडे व्यक्ति का विकास होने से ही समाज व राष्ट्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि बच्चों को महात्मा गांधी के जीवन दर्शन के बारे में बताया जाये कि किस प्रकार गांधीजी ने पूरे विश्व को अहिंसा का संदेश दिया।

इस अवसर पर जिला प्रभारी मंत्री एवं अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि महात्मा गांधी ने बिना हथियार के देश को आजादी दिलाई। सत्य एवं अहिंसा के पथ पर चलने का संदेश दिया। उन्होंने कौमी एकता का संदेश दिया। उन्होंने असहयोग आंदोलन की वजह से ब्रिटिश साम्राज्य को देश छोड़ने के लिए मजबूर कर दिया था। उन्होंने कहा कि वर्तमान में गांधी के आदर्शों पर चलकर ही देश की एकता एवं अखण्डता कायम रखी जा सकती है।

उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा पूरे प्रदेश में महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती वर्ष पर कार्यक्रम आयोजित कर,आज की पीढ़ी को महात्मा गांधी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व को जानने का अवसर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को गांधी जी के जीवन से प्ररेणा लेकर,दीन-दुखियों की सेवा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गांधी जी का मानना था कि मानवता के सिद्धान्तों की पालना से देश में शान्ति एवं भाईचारा का माहौल बनेगा। उन्होंने स्त्री शिक्षा एवं बुनियादी शिक्षा के लिए कार्य करने पर जोर दिया था।

इस अवसर पर महात्मा गांधी जी 150 वीं जयन्ती के प्रदेश संयोजक मनीष शर्मा और जिला संयोजक संजय आचार्य ने गांधी जयन्ती वर्ष के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की जानकारी दी।

इस अवसर पर सेवाश्रम के दिव्यांग बच्चों ने गांधी के प्रिय भजन ’वैष्णव जन तो तेने कहिए ,जे पीड़ पराई जाणे रे’की भावपूर्ण प्रस्तुति दी। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की ओर से स्काउट एवं गाइड कैडेट ने रघुपति राघव राजा राम के भजन सुनाए।  Bikaner News 11 September

इससे पहले अतिथियों ने गांधी पार्क में ही गांधी दर्शन के शिलालेख का शिलान्यास किया। इन शिलालेखों पर गांधी जी की जीवनी को दर्शाया जायेगा।

इस अवसर पर जिला प्रमुख सुशीला सींवर,यशपाल गहलोत, महेन्द्र गहलोत, पूर्व महापौर मकसूद अहमद, डाॅ.बिठ्ठल बिस्सा, जियाउर रहमान आरिफ, हारूण राठौड़, डा. मिर्जा हैदर बैग, आनन्द जोशी, कमल कल्ला, सुनीता गौड़, अनिल कल्ला, आनंद सिंह सोढ़ा, राजकुमार किराडू, उपायुक्त नगर निगम अभिषेक सुराणा, अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन ए.एच.गौरी, एडीएम सिटी शैलेन्द्र देवड़ा, जिला परिषद के मुख्यकार्यकारी अधिकारी नरेन्द्र पाल सिंह, उप खण्ड अधिकारी कैलाश चंद्र शर्मा, सह संयोजक गांधी जयन्ती जाकिर हुसैन, डाॅ.राजेन्द्र पुरोहित, डाॅ.अनिल वर्मा सहित बड़ी संख्या मंे पार्षद एवं जन प्रतिनिधि उपस्थित थे। संचालन संजय पुरोहित एवं ज्योति प्रकाश रंगा ने किया।

शहीद स्मारकों को पूजा स्थल के रूप में देखा जाए : डाॅ.कल्ला

ऊर्जा मंत्री डा. बी डी कल्ला ने कहा कि हम अपने शहीदों को कभी भूल नहीं सकते। प्रथम विश्वयुद्ध से लेकर कारगिल युद्ध और उग्रवाद की घटनाओं का सामना करते हुए हमारे जवानों ने देश की शांति और सुरक्षा के लिए जो शाहदत दी है, अपने आप में एक मिसाल है। नगर विकास न्यास अध्यक्ष और जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने शहीद स्मारक का निर्माण कराने की दिशा में जो प्रयास किए है, वह शहीदों का सम्मान है। यह स्मारक आने वाली पीढ़ी के लिए प्ररेणादायिक साबित होगा।

डाॅ.कल्ला बुधवार को पब्लिक पार्क में शहीद स्मारक बीकानेर के शिलालेख समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि शहीदों की स्मृति में शहीद स्मारक हम सभी के लिए सम्मानित स्थान है । देश की एकता एवं अखंडता और स्वाभिमान की रक्षा के लिए अपने प्राण देने वालों की स्मृति स्थल बनने से इस स्मारक को हमें पूजा स्थल के रूप में देखना चाहिए। जितना मान सम्मान हम अपने पूजा घर का करते हैं ,उतना ही मान सम्मान हमें इन स्थानों का करना चाहिए। उन्होंने ने कहा कि शहीदों के सम्मान के लिए जितना कुछ हम कर सकते हैं, वह करना चाहिए। इनका सम्मान करना हमारा कर्तव्य और हमें अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए शहीदों के सम्मान में कोई कोर कसर नहीं छोड़नी चाहिए।

जिला प्रभारी मंत्री एवं अल्प संख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि शहीदों को हम जितना सम्मान दें उतना ही कम है। इन्हीं की बदौलत आज हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं और हमारा देश और हम पूर्ण सुरक्षित जीवन यापन कर रहे हैं। Bikaner News 11 September

इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी ने सीमा देश की रक्षा के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले सैनिकों को नमन करते हुए कहा कि वीर सैनिकों के कल्याण के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे है। इस स्मारक के निर्माण से यहां के लोग शहीदों के व्यक्तित्व एवं कृतित्व के साथ ही देश की आजादी और उसे कायम रखने में उनके योगदान की जानकारी ले सकेंगे।

thar star enterprises new

न्यास अध्यक्ष एवं जिला कलक्टर का यह है नवाचार-पब्लिक पार्क मं शहीद स्मारक का निर्माण आगामी 9 माह में पूर्ण हो जायेगा। इस निर्माण कार्य पर राशि 37 लाख 5 हजार रूपये खर्च होगी। इसमें 20 लाख रूपये सैनिक कल्याण विभाग तथा 17.50 लाख रूपये नगर विकास न्यास खर्च करेगा। यह 1103 वर्ग फिट क्षेत्र में बनेगा। इस स्मारक की ऊंचाई 30 फुट (अशोक चक्र सहित) होगी। अशोक चक्र की ऊंचाई 3 फुट होगी।

ब्रिगेडियर जगमाल सिंह ने अतिथियों का तीनों मंत्रियों का स्वागत किया है। नगर विकास न्यास सचिव सुश्री सुनीता चैधरी ने आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर जिला प्रमुख सुशीला सींवर, पूर्व महापौर मकसूद अहम्मद, सुमित कोचर, यशपाल गहलोत, सुनीता गौड़, जय नारायण व्यास,महेन्द्र गहलोत, मनीष शर्मा तथा संजय आचार्य उपस्थित थे।

कवि एवं संस्कृतिकर्मी चंद्रशेखर जोशी का सम्मान

सखा संगम द्वारा कवि एवं संस्कृतिकर्मी चंद्रशेखर जोशी का सम्मान किया गया । ब्रह्म बगीचा में आयोजित सम्मान समारोह में जोशी की काव्य सृजन यात्रा एवं सांस्कृतिक योगदान पर चर्चा की गयी ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पूर्व सभापति चतुर्भुज व्यास ने कहा कि जोशी बीकानेर नगर की गौरवशाली सांस्कृतिक परंपरा के मुखर प्रवक्ता है । कार्यक्रम के

अध्यक्ष समाजसेवी हीरालाल हर्ष ने कहा कि जोशी सकारात्मक ऊर्जा के धनी रचनाकार है । विशिष्ट अतिथि चेन्नई के बृजगोपाल आचार्य ने कहा कि जोशी सबको साथ लेकर चलने वाले इंसान है । समाजसेवी राजेश चूरा ने कहा कि जोशी के रचनाकर्म में संस्कृति की छटा है ।

कार्यक्रम में व्यंगकार डॉ अजय जोशी, कवि कथाकार राजाराम स्वर्णकार, लेखक अशफ़ाक़ क़ादरी, नागेश्वरजोशी, गिरिराजपारीक, समाजवादी
नाराण दास रंगा बृजगोपाल जोशी ने कहा कि जोशी के रचनाकर्म में आत्मियता है । Bikaner News 11 September

कार्यक्रम में मंगल चंद रंगा, खूमराज पंवार भगवान दास पडिहार, श्याम जोशी, शंशाक शेखर जोशी, मुरली मनोहर पुरोहित,सप्तॠषि मंडल के देवकी नंदन व्यास, उमा शंकर आचार्य ,गौरीशंकर आचार्य, गिरिराज जोशी,ओमप्रकाश रंगा,विप्र फाउण्डेशन के महासचिव सुभाष जोशी, जनमेजय व्यास,भंवर लाल व्यास,झंवर लाल ने भी विचार रखे । संस्था अध्यक्ष एन0डी0 रंगा ने धन्यवाद ज्ञापित किया । संयोजन कवि कथाकार राजेन्द्र जोशी ने किया ।

लायंस क्लब उड़ान के द्वारा श्री गुरु वंदन

लायंस क्लब उड़ान के द्वारा शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में श्री गुरू वंदन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।क्लब अध्यक्ष डॉ दीपिका व्यास ने बताया एक निजी होटल में श्री गुरु वंदन कार्यक्रम के अंतर्गत बीकानेर के श्रेष्ठ एवं शिक्षा को समर्पित गुरुजनों का सम्मान किया गया। सम्मानित होने वालों में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी राजेश व्यास, इतिहास व्याख्यता जगदीश टाक, एम .एन होम्योपैथी मेडिकल कॉलेज की प्रोफेसर नीतू सुलेमानी, श्रीजैन कॉलेज की पदमा जोशी, एम एस कॉलेज की डॉ अभिलाषा , आर एस वी के डॉ पुनीत चोपड़ा एवं क्लब के शिक्षक सदस्य शामिल थे ।

इस अवसर पर रीजन चैयरपर्सन लायन अर्चना थानवी, पूर्व प्रान्तपाल लायन सुमेर चंद जी जैन मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे । कार्यक्रम में सम्मानित शिक्षकों द्वारा अपने विचार प्रकट किए एवं बीकानेर शिक्षा के क्षेत्र को और अधिक उन्नत बनाने पर विचार विमर्श किया । साथ ही शिक्षा के क्षेत्र में सामाजिक संस्थाओं के योगदान पर भी चर्चा हुई , जहां अध्यक्ष डॉ दीपिका व्यास ने कई महत्वपूर्ण बिंदुओं के साथ अपने विचार रखे, जिसकी सभी ने बहुत सराहना की । कार्यक्रम में संचालन लायन मोनिका शर्मा एवं पूरे कार्यक्रम की देखरेख लायन सीमा सोनी द्वारा की गई ।

लायन वरुणा पुरोहित एवं लायन डॉ विजयलक्ष्मी व्यास द्वारा सभी शिक्षकों, अतिथियों एवं क्लब सदस्यों का अभिवादन किया एवं धन्यवाद ज्ञापित किया।

महिला एवं अधिकारिता उप निदेशक कार्यालय अब पंचायत समिति में लगेगा

सादुल गंज स्थित महिला एवं अधिकारिता विभाग का कार्यालय पंचायत समिति, बीकानेर परिसर स्थित धनलक्ष्मी महिला समृद्धि केन्द्र में स्थानान्तरित हो गया है। इस संबंध में उप निदेशक मेघा रतन ने बताया कि विभाग के निर्देशानुसार उप निदेशक कार्यालय को स्थानान्तरित किया गया है। Bikaner News 11 September

जिला प्रभारी मंत्री व उच्च शिक्षा मंत्री के साथ ली जिलास्तरीय समीक्षा बैठक

ऊर्जा, जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ बी डी कल्ला ने कहा कि 20 सूत्री कार्यक्रम की सफल क्रियान्वति राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में हैं। इस कार्यक्रम के तहत गरीब व जरूरतमंद लोगों को लाभ देने के लिए सभी अधिकारी गंभीरता से कार्य करते हुए समयबद्ध रूप से लक्ष्य प्राप्त कर आमजन को राहत दें।

डाॅ कल्ला ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला प्रभारी मंत्री सालेह मोहम्मद व उच्च शिक्षा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भंवरसिंह भाटी के साथ जिला अधिकारियों की समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अधिकारी आमजन को राहत देने के लिए कार्य करने की इच्छा शक्ति बढ़ाएं और कार्य में तेजी लाएं। हर घर को जल देने के कार्य को 20 सूत्री कार्यक्रम में प्राथमिकता से लें।

डिग्गियों की सफाई के निर्देश

डाॅ कल्ला ने कहा कि जिले में समस्त डिग्गियों की सफाई के लिए एक कार्य योजना बनाकर जितने भी संसाधन उपलब्ध हैं उनका समुचित और समन्वित प्रयोग करते हुए इन डिग्गियों की सफाई करवाना सुनिश्चित करें। इस कार्य में सांसद, विधायक निधि, बीएडीपी मनरेगा आदि विभिन्न योजनाओं के संसाधनों का इस्तेमाल कर यह सुनिश्चित करें कि जिले के दूरदराज के क्षेत्रों में शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो। जहां भी शुद्ध पेयजल के लिए आरओ लगवाए जा सकते हैं वहां आरओ स्थापित करवाएं।

आउटडोर में बैठें सीनियर डाॅक्टर, नहीं तो कार्यवाही

डाॅ कल्ला ने कहा कि सभी वरिष्ठ चिकित्सक आउटडोर में मरीजों के लिए उपलब्ध रहें। आउटडोर में वरिष्ठ चिकित्सकों की अनुपलब्धता को लेकर बडे़ स्तर पर शिकायतें मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि जो वरिष्ठ चिकित्सक आउटडोर में आम मरीजों के लिए उपलब्ध नहीं हो, उसके खिलाफ कार्यवाही करें। इस सम्बंध में प्रिंसीपल मेडिकल काॅलेज नियमित माॅनिटरिंग करें। उन्होंने अस्पताल में सफाई व्यवस्था इम्प्रूव करने के निर्देश देते हुए कहा कि टाॅयलट, सीवरेज आदि व्यवस्थाओं में जहां भी कमियां हैं, उन्हें तुरंत प्रभाव से सुधारें।

आॅपरेशन थियेटर से निकलने वाले कचरे के निस्तारण के लिए जल्द व्यवस्था प्रारम्भ की जाए। एमआरआई, एंजियोग्राफी सहित समस्त जांचों के लिए व्यवस्थाएं दुरूस्त हो, मरीजों को परेशान न होना पड़े यह सुनिश्चित किया जाए। हल्दीराम सेंटर में सर्जन की व्यवस्था नहीं होने पर उन्होंने निर्देश दिए कि शीघ्र ही सर्जन की व्यवस्था कर यूनिट को पूर्ण करें। अस्पताल की जिन यूनिट में अच्छे सर्जन की सुविधा नहीं हैं उनमें बाहर से सर्जन बुलवाएं जाएं ताकि लोगों को बीकानेर में अच्छे से अच्छा इलाज मिल सके। अस्पताल के सर्जन साधारण सर्जरी के मामलों में बिना वजह के रैफर न करें। बैठक में सरदार पटेल मेडिकल काॅलेज पिं्रसीपल ने अस्पताल में व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने रखने के लिए रिक्त पद पर स्टाॅफ लगाने की बात कही।

garden city bikaner

अक्टूबर तक दें सौभाग्य में कनेक्शन

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि सौभाग्य योजना में अक्टूबर माह तक ढाणियों के विद्युतीकरण के जितने भी आवेदन प्राप्त हुए हैं उनमें कनेक्शन कर दिए जाएं तथा जो कृषि कनेक्शन लम्बित हैं उन्हें भी प्राथमिकता से निपटाएं। डाॅ कल्ला ने कहा कि काम पूर्ण होने के बाद विभाग द्वारा यूसी भिजवाने में लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं, अधिकारी काम पूर्ण होते ही प्राथमिकता से यूसी भिजवाएं।

जिला प्रभारी मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि 20 सूत्री कार्यक्रम के लक्ष्य पूर्ण करने की दिशा में अधिकारी गंभीरता से कार्य करें। विभाग सारगर्भित प्रयास करते हुए पानी, बिजली, शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य जैसी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाएं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र और वंचित व्यक्ति को मिले यह सुनिश्चित करने के साथ-साथ विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी पात्र तक पहुंचाने के लिए योजनाओं का प्रचार-प्रसार हो। सड़क पेचवर्क के लिए जो बजट स्वीकृत किया गया है उससे आमजन की आवश्यकता के अनुसार प्राथमिकता के आधार पर कार्य करवाएं ताकि लोगों को आवागमन में पेरशानी का सामना नहीं करना पड़े।

जिले में संचालित छात्रावासों की जानकारी लेते हुए उन्होंने सभी आवासित विद्यार्थियों को भोजन, रहने आदि की व्यवस्था पुख्ता करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आईसीडीएस विभाग यह सुनिश्चित करें कि पोषाहार गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं हो।  Bikaner News 11 September

मिले दवा, जांच, मरीजों को न हो पेरशानी

प्रभारी मंत्री ने कहा कि संभाग के सबसे बड़े पीबीएम अस्पताल में जो भी संसाधन और सुविधाएं उपलब्ध हैं वे दूर दराज से आने वाले मरीजों को सही प्रकार से मिले यह सुनिश्चित किया जाए। सभी आवश्यक दवाइयां, जांचे जिला अस्पताल व अन्य सभी पीएचसी, सीएचसी पर उपलब्ध रहे यह भी सुनिश्चित किया जाए। विभाग के उच्च अधिकारी नियमित माॅनिटरिंग करें और यदि कहीं लापरवाही मिलती है तो तुरंत प्रभाव से सम्बंधित के विरूद्ध कार्यवाही करें। प्रभारी मंत्री ने जिले में टिड्डी के प्रकोप व नियंत्रण के लिए की जा रही कार्यवाही की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि कृषि विभाग की टीम अतिरिक्त सतर्कता व प्रयास कर टिड्डी पर नियंत्रण करें ताकि जिले में इनसे होने वाले नुकसान को न्यूनतम किया जा सके।

उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि सौभाग्य योजना के तहत प्रयास हो कि दूर-दराज की ढाणियों में रहने वाले अधिकाधिक लोग इस योजना से लाभान्वित हो। कोलायत क्षेत्र में ढाणियों में विद्युत कनेक्शन के बकाया प्रकरणों में समय पर निस्तारित कर लोगों राहत दें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सड़क निर्माण के समय गुणवता में कोई समझौता न हो। पहले से मौजूद सड़कों को चैड़ा करने, सार्वजनिक सुविधाओं जैसे स्कूल, पीएचसी, सीएचसी को मुख्य सड़क के जोड़ने के कार्य के प्रस्ताव राज्य सरकार स्तर पर भिजवाएं।

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने विभिन्न योजनाओं के तहत जिले में हुई प्रगति की जानकारी दी और बताया कि जिले में पेचवर्क के लिए 7.50 करोड़ रूपए स्वीकृत हुए हैं जिनसे 15 अक्टूबर तक कार्य करवाया जाएगा। जिले में पेयजल, बिजली आपूर्ति जैसी बुनियादी सुविधाएं निर्बाध रूप से उपलब्ध करवाई जा रही है तथा मलेरिया, डेगूं आदि की रोकथाम के लिए भी स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग एंटी लार्वा गतिविधियां आयोजित कर रहा हैं। उन्होंने बताया कि सुपरस्पेशलिस्ट विंग को जल्द प्रारम्भ करने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है। बैठक में जिला प्रमुख सुशीला सींवर, पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा, प्रशिक्षु आईएएस अभिषेक सुराणा, अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन ए एच गौरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा सहित सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

धरणीधर और हर्षोलाब तालाब में होंगे तर्पण

कर्मकाण्ड भास्कर पं. नथमल पुरोहित के शिष्य पं. गोपाल ओझा द्वारा श्राद्धपक्ष में 14 से 28 सितम्बर तक धरणीधर और हर्षोलाब तालाब में चार समूहों में तर्पण करवाया जाएगा। ओझा ने बताया कि प्रातः 5 और 8 बजे हर्षोलाब तथा प्रातः 6 और 7 बजे धरणीधर तालाब में तर्पण करवाया जाएगा। इस दौरान देव, ऋषि और पितृ तर्पण होगा।

एकलव्य एकेडमी के 6 खिलाड़ियों ने जीते 17 मेडल

64 वी विद्यालय जिला स्तरीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में प्रदेश की पहली निजी तीरंदाजी एकेडमी ब्रह्म बगीची में स्थित एकलव्य तीरंदाजी एकेडमी के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया दिनांक 6 सितंबर से 9 सितंबर तक एमएम ग्राउंड में आयोजित विद्यालय जिला स्तरीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में एकलव्य तीरंदाजी एकेडमी के 12 खिलाड़ियों ने भाग लिया

जिसमें छह खिलाड़ियों का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा एकेडमी के अध्यक्ष योगेंद्र कल्ला ने बताया कि कुल 6 खिलाड़ियों ने 17 पदक अपने नाम किए प्रतियोगिता के अंडर-17 रिकर्व राउंड में एकेडमी के संजय बिश्नोई ने एक रजत व चार कांस्य पदक पर कब्जा किया वही अंडर 17 इंडियन राउंड में दीपांशु व्यास ने एक रजत पदक प्राप्त किया इसी वर्ग में छात्रा वर्ग में संजना विश्नोई ने तीन स्वर्ण पदक अपने नाम किए 17 वर्ष कंपाउंड राउंड में वसुंधरा कलवानी ने स्वर्ण पदक पर कब्जा किया अंडर-19 वर्ष में इंडियन राउंड राज व्यास ने 2 रजत व एक कांस्य पदक प्राप्त किया

वही एकेडमी के हिमांशु हर्ष ने एक रजत और दो कांस्य पदक पर कब्जा किया एकेडमी के सहायक प्रशिक्षक मार्कंडेय पुरोहित ने बताया कि प्रतियोगिता में एकेडमी के छह खिलाड़ियों ने कुल 17 पदक प्राप्त कर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया वही पदक विजेता खिलाड़ियों का दिनांक 21 सितंबर से 28 सितंबर तक आबूरोड में आयोजित होने वाली राज्य स्तरीय तीरंदाजी प्रतियोगिता के लिए चयनित किया गया।

बीकानेर के सभी चयनित व पदक विजेता खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दी और उम्मीद जताई कि आगामी दिनों में आयोजित होने वाली राज्यस्तरीय तीरंदाजी प्रतियोगिता में बीकानेर की टीम पदक के साथ वापस लौटेगी।

विद्युत उपभोक्ताओं की समस्याओं का होगा निराकरण-डाॅ.कल्ला

ऊर्जा मंत्री डॉक्टर बी डी कल्ला ने कहा कि विद्युत उपभोक्ताओं को प्रतिमाह बिजली का बिल मिल जाए, इसके लिए अधिकारी शीघ्र कार्य योजना बनाकर बिलों का वितरण प्रारंभ करने की कार्रवाई शीघ्र करें। साथ ही कंपनी के अभियंता जब भी बिजली की जांच को जाएं तो उनके साथ जोधपुर विद्युत वितरण निगम का अधिकारी भी साथ होना चाहिए।

डॉक्टर कला बुधवार को सर्किट हाउस में विद्युत उपभोक्ताओं की समस्याओं की जनसुवाई में बोल रहे थे। उन्होंने जन सुनवाई मंे पहुंचे उपभोक्ताओं के अभाव-अभियोग को सुना और जोधपुर विद्युत वितरण निगम के अभियंताओं को व्यवस्थाओं में सुधार के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जब भी बीकेसीएल की विजिलेंस की टीम जांच के लिए जाए तो उसके साथ जोधपुर विद्यतुत वितरण निगम का अधिकारी भी साथ होना चाहिए।

साथ ही यह भी ध्यान रखें कि अगर कोई शिकायत उपभोक्ता करता है, उसका निदान प्राथमिकता से करें अधिकारी उपभोक्ताओं की बात सुनने के लिए अपना समय निर्धारित रखें। अनावश्यक रूप से विद्युत उपभोक्ता परेशान ना हो,इसका विशेष ख्याल रखा जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी उपभोक्ताओं की बात को सुनकर अगर उन्हें लगे कि किसी विषय पर निर्णय राज्य सरकार स्तर पर होना है तो पूरा प्रकरण बनाकर ऊर्जा विभाग में भेजा जाए ताकि जन भावनाओं के अनुसार आवश्यक संसाधन उपलब्ध कराए जा सके।

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि उपभोक्ताओं को वर्तमान व्यवस्था में दो माह का विद्युत बिल उपलब्ध कराया जा रहा है। इसे जल्द ही प्रतिमाह दिया जाना प्रारंभ किया जाएगा। इसके लिए निगम के अधिकारी और बीकेसीएल के अधिकारी जल्द ही कार्य योजना बनाकर उसे अमलीजामा पहनाए। प्रतिमाह बिजली का बिल मिलाने से उपभोक्ताओं को आर्थिक लाभ मिलेगा।

एम ओ यू की होगी पालना

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बीकेसीएल के साथ सरकार जो एमओयू किया है उसकी पालना सुनिश्चित की जाएगी। साथ ही उन्होंने उपभोक्ताओं को विश्वास दिलाया कि किसी भी स्थिति में आम उपभोक्ता के साथ किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। उनके बिल वाजिब आएंगे, अगर तकनीकी खराबी से बिल अधिक आता है तो उसे ठीक करवाया जायेगा।

स्वविवेक से विद्युत लोड ना बढ़ाएं-जन सुनवाई के दौरान उपभोक्ताओं ने शिकायत की कि वर्षों पूर्व विद्युत वितरण निगम द्वारा आम उपभोक्ताओं के बिलों में लोड बढ़ा दिया गया। इसके चलते अब बिल की राशि अधिक आने लग गई है। ऊर्जा मंत्री ने अभियंताओं को निर्देश दिए कि अगर कोई उपभोक्ता बताता है कि उसने जब विद्युत कनेक्शन के लिए आवेदन किया था तब उसने लोड कम भरा है और अब जो बिल आ रहा है उसमें लोड अधिक लिखा है, तो इसे तत्काल ठीक किया जाए।

इस अवसर पर जोधपुर विद्युत वितरण निगम के एमडी अविनाश सिघवी, यशपाल गहलोत,उमा शंकर किराड़ सहित उमाशंकर बीकेसीएल के अधिकारी व जोधपुर विद्युत वितरण निगम बीकानेर के अभियंता उपस्थित थे।

राज्य शतरंज प्रतियोगिता का शभारंभ

स्थानीय नर्सिंग गार्डन में बुधवार को राज्य शतरंज प्रतियोगिता का उद्घाटन ऊर्जा मंत्री डाॅ. बी.डी.कल्ला ने मोहरा चलाकर किया। इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री सालेह मोहम्मद एवं उच्च शिक्षा राज्यमंत्री भंवर सिंह भाटी व जिला प्रमुख सुशीला सींवर भी साथ थे। आयोजन सचिव एस.एल.हर्ष ने बताया कि इस राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में 150 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं।

पहले दौर में बीकानेर के अन्तराष्ट्रीय खिलाड़ी अनिल बोड़ा, जोधपुर के मनोज त्रिवेदी, वल्लभ ओझा, उदयपुर के जय गांधी, जयपुर के हरेब श्रीमाली समेक जैन आदि ने जीत से खाता खोला।

कार्यक्रम में ईनामी राशि के प्रायोजक शिवरत्न अग्रवाल चेयरमेन बीकाजी ग्रुप ने घोषणा की कि बीकानेर को कोई भी खिलाड़ी भारत का प्रतिनिधित्व करता है तो इसका पूरा खर्चा बीकाजी ग्रुप उठाएगा। राष्ट्रीय स्तर पर श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले बीकानेर के होनहार खिलाड़ियों को भी बीकाजी ग्रुप से ईनाम दिया जाएगा। जिला शतरंज संघ के अनिल बोड़ा ने बताया कि 7 चक्रीय इस प्रतियोगिता में मुख्य निर्णायक रामकुमार होंगे। कार्यक्रम का संचालन युवा उद्यमी जय सेठिया व रोटरी के पूर्व अध्यक्ष आन्नद आचार्य ने किया जबकि धन्यवाद नरपत सेठिया ने दिया।

महात्मा गाँधी की 150वी जयंती वर्षगाँठ पर त्रिदिवसीय कार्यक्रम

राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी की 150वी जयंती वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में जिले में त्रिदिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है । इसी श्रंखला में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग व जय भीम संस्थान बीकानेर के संयुक्त तत्वाधान में सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना व जनकल्याणकारी योजनाओ का पहला शिविर बुधवार को नत्थुसर गेट के बाहर, वाल्मीकि बस्ती, सामुदायिक भवन, में लगाया गया हैै।

उप निदेशक एल.डी.पंवार ने बताया कि 12 सितम्बर को नत्थुसर गेट के बाहर, लालीबाई बगेची के पीछे, ओड़ो का बास, भैंरु जी मंदिर के पास, ,13 सितम्बर को नागौरी तेलियाना भवन, चुंगी चैकी गली न. 2 गजनेर रोड में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित किया जायेगा।

बीकानेर में जुटेंगे देश-विदेश के बुद्धिजीवी, लालगढ़ पैलेस में 3 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी 13 से 15 सितम्बर

अंतर्राष्ट्रीय कलाओं के आदान-प्रदान पर 13 से 15 सितम्बर तक आयोजित होगी। यह जानकारी संगोष्ठी की संयोजक डाॅ.दिव्या जोशी ने दी।
डाॅ.जोशी ने बताया कि भारतीय मूल के संस्कृति विशेषज्ञ होमी भाभा द्वारा प्रतिपादित कल्चरल ट्रांसलेशन का मत समकालीन विश्व में नए शोध आयामों तथा जीवन शैली का सृजन करने की दिशा में यह संगोष्ठी महत्त्वपूर्ण कदम है।

डॉ. दिव्या जोशी ने बताया कि सिजुरे कलेक्टिव सोसाइटी की ओर से लालगढ़ पैलेस में 13 से 15 सितम्बर तक आयोजित होने वाली तृतीय वार्षिक अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी के दौरान इसी मत पर चिंतन तथा विचार-विमर्श किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इसके के माध्यम से कल्चरल ट्रांसलेशन की प्रक्रिया को समझने का प्रयास किया जायेगा।

इस संगोष्ठी में देश-विदेश से आये 70 से अधिक विद्वान भाषा, कला, संगीत में आये बदलावों तथा समाज पर उनके प्रभाव की विवेचना करेंगे। भारत के सन्दर्भ में राष्ट्रीय स्तर पर यह मत तथा इससे जुड़े शोध एवं प्रयास अत्यंत प्रासंगिक है, क्योंकि यहाँ प्राचीन स्थानीय संस्कृति का परिरक्षण, विदेशी संस्कृतियों का विलयन तथा नयी संस्कृतियों का सृजन निरंतर हजारों वर्षों से चल रहा है। सिजुरे सोसाइटी इस तरह के अकादमिक विमर्शों के माध्यम से कला एवं साहित्य में शोध को बढ़ावा देने तथा रचनात्मक लेखन, संगीत, चलचित्र, छायाचित्र, कला प्रदर्शनियों के माध्यम से कलाओं के पुनरुत्थान के प्रयोजन को सार्थक रूप देने के लिए प्रयासरत है।

कल्चरल ट्रांसलेशन ग्रंथों (विषयनिष्ठद्ध) के आवागमन या अनुवाद की नहीं अपितु व्यक्तियों (आत्मनिष्ठ) की एक संस्कृति से दूसरी संस्कृति में आवागमन की प्रक्रिया है। वैश्वीकरण के प्रवाह के चलते हमारे आधारभूत सांस्कृतिक मूल्यों एवं देशज कलाओं की सामाजिक सक्रियता एवं गतिशीलता में आई कमी आई है।

डॉ. जोशी ने बताया की तीन दिवसीय संगोष्ठी में देश विदेश के 70 से अधिक बुद्धिजीवी विमर्श, प्रदर्शन, साक्षात्कार, कार्यशाला के माध्यम से ज्वलंत विषयों पर परिचर्चा करेंगे। संगोष्ठी में 09 तकनीकी सत्र व 05 पैनल चर्चाएं होंगी। जाने-माने उपन्यासकार एवं समीक्षक साकेत मजूमदार अपनी नवीनतम पुस्तक ‘दी सेंट ऑफ गॉड’ पर चर्चा करेंगे। अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता महाराजा गंगा सिंह ट्रस्ट की चेयरपर्सन तथा बीकानेर की राजकुमारी राज्यश्री करेंगी। मुख्य अतिथि स्थायी लोक अदालत की चेयरमैन डॉ. कमल दत्ता तथा विशिष्ठ अतिथि मुरैना (मध्यप्रदेश) की जिला कलेक्टर प्रियंका दास होंगी।

संगोष्ठी में प्रसिद्ध फड़ चित्रकार सत्यनारायण जोशी की और से कला प्रेमियों को इस प्राचीन समृद्ध तथा लुप्त होती परंपरा से परिचित करवाया जायेगा। उन्होंने बताया कि 14 सितम्बर को लोक संगीत का प्रस्तुतीकरण भी हमारी संस्कृति के अस्पर्श्य पक्षों को प्रोत्साहन देने तथा विविध कौशल को एक मंच पर लाने की कोशिश है।

कृपाल भैंरू महा आरती, पूजा एवं जागरण

कृपाल भैरवनाथ मंदिर ट्रस्ट के तत्वावधान में रामपुरिया महाविद्यालय के पीछे, मोहता कुआं के पास स्थित कृपाल भैरवनाथ का अभिषेक पूजन, ताण्डव स्त्रोत हवन एवं महाआरती का आयोजन किया गया । ट्रस्ट के अध्यक्ष अजय सिंह पंवार ने बताया कि कार्यक्रम में राजस्थान सरकार के ऊर्जा एवं जनस्वास्थय मंत्री डॉ बी डी कल्ला, पूर्व न्यासी खूमराज पंवार, शहर जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष हीरालाल हर्ष, सखा संगम के अध्यक्ष एन डी रंगा, कवि कथाकार राजेन्द्र जोशी , संस्कृतिकर्मी चन्द्रशेखर जोशी, साहित्यकार राजाराम स्वर्णकार, डॉ अजय जोशी, भगवान दास पडिहार, पूर्व सभापति चतुर्भुज व्यास, गिरधारी पडिहार, नागेश्वर जोशी,

राव बरसलपुर सुरेन्द्रसिंह भाटी, पार्षद प्रेमरत्न जोशी, रूपचन्द साखला, बृजगोपाल जोशी, जनमेजय व्यास, रामजीवण सहित सैकड़ों भक्तजनों की उपस्थिति महाआरती में रही। महाआरती एवं भंडारे के उपरांत देर रात तक भैरवनाथ का जागरण मास्टर भगवान दास पडिहार के नेतृत्व में रवि जोशी एण्ड पार्टी के कलाकारों नवदीप बीकानेरी, राधेश्याम बिस्सा, अनुराधा योगी,संदीप मारिया,लालचंद उपाध्याय, आशीष कल्ला सहित अनेक कलाकारों ने प्रभावी प्रस्तुति दी।

पंवार ने बताया कि कृपाल भैरवनाथ का अभिषेक दूध,दही, घृत,पंचामृत, इत्र,तेल,सिन्दूर से पूजन के साथ ही छप्पन भोग का प्रसाद एवं एक कुण्डी शांति यज्ञ भी किया गया । इस अवसर पर डॉ बी डी कल्ला ने कहा कि बीकानेर की नगरी धर्म परायण महानुभावों की धरा है जहाँ गंगा जमुना संस्कृति के साथ ही भगवान की आराधना अधिक होती है ।