Bikaner News 14 September 2019
Bikaner Slider

बीकानेर सार समाचार : शनिवार, 14 सितम्बर 2019

श्रीमद् भागवत कथा में उमड़ा भक्तों का सैलाब, बैंड बाजों की धुन पर सचित्र झांकियों के साथ निकली कलश यात्रा

OmExpress News / बीकानेर / पितृ पक्ष के अवसर पर सर्व पितृ कल्याणार्थ पन्द्रह दिवसीय श्रीमद् भागवत कथा शनिवार को गोपेश्वर बस्ती स्थित गोपेश्वर महादेव मंदिर में आरंभ हुई। श्रीमद् भागवत कथा समिति की ओर से आयोजित कथा का वाचन सींथल पीठाधीश्वर श्री श्री 1008 श्री महन्त क्षमारामजी महाराज के श्रीमुख से किया जा रहा है। कथा आरंभ से पूर्व नगर सेठ लक्ष्मीनाथजी मंदिर से भव्य कलश यात्रा सचित्र झांकियों के साथ निकाली गई जो विभिन्न मार्गों से होते हुए गोगागेट स्थित श्री अग्रसेन भवन पहुंच कर संपन्न हुई। Bikaner News 14 September 2019

कथा के प्रथम दिन महाराज जी ने भागवत का महत्व गुण व धर्म सहित बताया। क्षमारामजी महाराज ने बताया कि भागवत अनादि है, यह कोई एक काल में नहीं लिखी गई। इसलिए इसे अनादि कहा गया है। भागवत श्रेष्ठ है,मनुष्य को श्रीमद् भागवतजी का श्रवण अपने जीवनकाल में एक बार अवश्य ही करना चाहिए।

महाराज जी ने कथा आरंभ के पहले दिन श्रीमद् भागवतजी के बारे में विस्तृत व्याख्यान करते हुए विश्वामित्र,मेनका, सुखदेवजी महाराज, वेदव्यासजी, भगवान श्रीकृष्ण सहित साधु-संतो के अनेक प्रसंग सुनाए। क्षमारामजी महाराज ने संत पुरुषों के गुण बताते हुए कहा कि संत महापुरुष कहीं पर भी अपना लगाव नहीं रखते हैं। संतो का कार्य समाज को जागृत करना है। इसलिए संत घूमते रहते हैं और भगवान का स्मरण करने और करते रहने का आह्वान करते हैं।

महाराजजी ने कहा कि भगवान को पाना है तो साधु संगत साध ले राम उन्हीं के पास, इसलिए संगत करनी है तो साधु की करो। कथा के प्रथम दिन महाराजजी ने परमात्मा के स्वरूप की व्याख्या करते हुए कहा कि विश्व की उत्पत्ति करने वाले, पालन और संहार करने वाले का कोई आकार नहीं है। लेकिन उनमें गुण है, उत्पत्ति, स्थिति और प्रलय तीनों को करने वाला परमात्मा है।  Bikaner News 14 September 2019

Bikaner News 14 September 2019

महाराजजी ने कहा कि कष्ट तीन प्रकार के होते हैं, दैहिक, दैविक और अध्यात्मिक ,संसार में ऐसा कोई जीव नहीं है जिसे कष्ट ना हो,जिन्हें भगवान ही दूर करते हैं। भगवान को जाने बीना हमारा भला नहीं हो सकता, इसलिए परमात्मा की शरण में रहिए और इसका सर्वोत्तम माध्यम है श्रीमद् भागवत कथा, इसका अवसर मिलने पर श्रवण का लाभ अवश्य लिया जाना चाहिए।

बसों का विशेष प्रबंध

श्रीमद् भागवत कथा समिति से जुड़े गोपाल अग्रवाल ने बताया कि गोपेश्वर महादेव मंदिर में दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक प्रतिदिन कथा आयोजित की जाएगी। कथा में आने वाले भक्तों के लिए सींथल, नापासर, गाढ़वाला सहित उदासर, तिलक नगर, व्यास कॉलोनी, आनन्द आश्रम रानीबाजार, जस्सुसर गेट, नत्थूसर गेट, देशनोक, पलाना, भीनासर व गंगाशहर से बसों का विशेष प्रबंध किया गया है।

सचित्र झांकियों सहित निकली भव्य कलश यात्रा

कथा के प्रथम दिन शनिवार सुबह 9.30 बजे नगर सेठ लक्ष्मीनाथ मंदिर से कथा वाचक सिंथल पीठाधीश्वर श्री श्री 1008 श्री महन्त क्षमारामजी के सानिध्य में सचित्र झांकियों सहित भव्य कलश यात्रा निकाली गई। यह यात्रा विभिन्न मार्गों से होते हुए गोगागेट स्थित अग्रसेन भवन पहुच कर संपन्न हुई।

यात्रा में आगे ही आगे सजे-धजे ऊंट व घोड़े उनके पीछे बैण्ड बाजो की मधुर धार्मिक स्वर लहरियों के साथ बड़ी संख्या में महिलाऐं सर पर कलश धारण किए और केसरिया साड़ी पहने राधे-कृष्ण के जयकारे लगाते हुए वहीं पुरुष सफेद टीशर्ट और गले में केसरिया दुपट्टा डाले भक्ति भाव से भजन गा रहे थे।

धर्ममय माहौल में श्रीमद् भागवत कथा सर पर धारण किए महाराजजी आगे चल रहे थे। पीछे-पीछे रथ पर सवार मां पार्वती एवं हाथ में त्रिशूल लिए भोलेनाथ, बंसुरी बजाते श्रीकृष्ण और उन्हें निहारती राधा साथ में केसरिया दुपट्टा पहने बालसखा सुदामा, भगवान श्रीराम और सीता के साथ अनन्य भक्त हनुमान सहित देवी-देवता विभिन्न रथों पर सवार चित्त को आकर्षित कर रहे थे। कलश यात्रा का जगह-जगह पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया वहीं यात्रा में शामिल महिलाओं व पुरुषों के लिए शीतल पेय व जल का विशेष प्रबंध किया गया। तेज गर्मी में भी यात्रा में शामिल होने के लिए भक्तों का उत्साह परवान पर था।

उदयरामसर में दादा गुरुदेव पूजा व प्रसाद और मेला

जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ संघ के गच्छाधिपति आचार्यश्री जिनमणि प्रभ सूरिश्वरजी म.सा. की आज्ञानुवर्ती प्रवर्तिनी वरिष्ठ साध्वीश्री शशि प्रभा म.सा. सहवृृति साध्वीवृृंद के सान्निध्य में शनिवार को उदयरामसर की प्राचीन दादाबाड़ी में भक्ति संगीत के साथ दादा गुरुदेव जिनदत्त सूरिश्वरजी की पूजा की गई तथा मेला लगा।  Bikaner News 14 September 2019

दादाबाड़ी में साध्वीवृृंद के सान्निध्य में शुक्रवार रात भक्ति संगीत संध्या आयोजित की गई । देर रात तक चली भजन संध्या में जयपुर की उमा लहरी व बीकानेर के मगन कोचर, सुनील पारख सहित अनेक कलाकारों ने भजन प्रस्तुत कर माहौल को भक्ति रस से सरोबार व दादा गुरुमय बना दिया।

भक्ति संगीत संध्या व पूजा में चिंतामणी जैन मंदिर प्रन्यास के अध्यक्ष निर्मल धारिवाल व मंत्री चन्द्र सिंह पारख, खरतरगच्छ संघ के अशोक पारख, मोती लाल नाहटा, निर्मल पारख, गेवर चंद मुसरफ, आसकरण मालू, मनोज सेठिया, महावीर नाहटा, रतन लाल नाहटा सहित अनेक गणमान्य जैन समाज के श्रावक मौजूद थे।

दादा गुरुदेव के मंदिर में शनिवार को अभिषेक व पूजन कया गया। राग सोरठा, ठुमरी, श्रीराग के साथ पारम्परिक तर्जों पर आधारित भजन ’’गुरु चरण बलिहारी’’, ’’ बहुत याद करते है, गुरुवर हम’’ , ’’कोई नहीं दादा तेरे सिवाय , तू है पालन हारा, तूं तारण हारा’’ आदि की प्रस्तुत साध्वीश्री सौम्यगुणा, विचक्षण महिला मंडल, सुनील पारख, नेहा पारख, अजीत नाहटा, मगन कोचर, जयपुर के शिखर चंद नाहटा,शर्मिला, राजू नाहटा और विभिन्न भजन मंडलियों के कलाकारों ने प्रस्तुत किए। नैवेद्य, फल, दीप, अक्षत, वस्त्र, इत्र, ध्वज, अर्ध पूजा व उसके बाद आरती की गई।

मेला स्थल पर युवक मंडल सहित सहित विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों ने चिंतामणि जैन मंदिर प्रन्यास के कार्यों में सहयोग दिया। चिंतामणि जैन मंदिर प्रन्यास की ओर से सामूहिक प्रसाद को करीब 5 हजार से अधिक लोगों ने समताभाव से ग्रहण किया। मेले में जैन श्वेताम्बर तेरापंथ, साधुमार्गी जैन संघ, खरतरगच्छ, तपागच्छ, पाश्र्वचन्द्रगच्छ सहित विभिन्न गच्छ व समुदाय के श्रावक-श्राविकाओं ने हिस्सा लिया।

Bikaner News 8 September

महापौर नारायण चैपड़़ा ने भी दादा गुरुदेव के मंदिर के दर्शन किए तथा साध्वीश्री शशि प्रभा म.सा. से आशीर्वाद लिया। भदोई के शिखरचंद बरड़िया ने आरती का तथा मंगलदीप का लाभ बाड़मेर के बुधड़मल भंसाली ने लिया। चिंतामणि जैन प्रन्यास की ओर से लाभार्थियों का अभिनंदन किया गया।

मेला स्थल पर जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ संघ के पूर्व मंत्री गेवर चंद मुसरफ के नेतृृत्व में मुसरफ परिवार की ओर से श्रावक-श्राविकाओं के लिए शिकंजी, चाय, काॅफी, दही बड़े, भुजिया-पाप़ड़ की मिक्चर और चाऊमीन आदि फास्टफूड की निःशुल्क स्आल, लगाई गई। वहीं कुछ जैन युवा संघ, खरतरगच्छ युवा परिषद सहित अनेक संगठनों ने विभिन्न व्यवस्थाओं दवा, टाॅफी व आइसक्रीम की निःशुल्क सेवा की।

मेलार्थी विभिन्न वाहनों, ऊंट गाड़ों व विभिन्न वाहनों से उदयरामसर पहुंचे थे। मेला स्थल पर विभिन्न तरह के झूले, खान पान की वस्तुओं की स्आॅले लगी थी। मेलार्थियों ने ऊंट व घुड़सवारी का भी आनंद लिया।  Bikaner News 14 September 2019

विध्नहर्ता-मंगलकर्ता, सवा करोड़ जाप अनुष्ठान आज से

जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ संघ के गच्छाधिपति आचार्यश्री जिन मणि प्रभ सूरिश्वरजी म.सा. की आज्ञानुवर्ती प्रवर्तिनी वरिष्ठ साध्वीश्री शशि प्रभा म.सा. के सान्निध्य में रविवार से ’’विध्नहर्ता-मंगलकर्ता’’ सिद्धचक्र का सवा करोड जाप अनुष्ठान ढढ्ढा कोटड़ी में शुरू होगा। साध्वीवृृंद रविवार सुबह उदयरामसर से बीकानेर पहुंचेगी तथा ढढ्ढा कोटड़ी मंें प्रवचन व सवा करोड़ जाप का अनुष्ठान शुरू होगा। ’’ ऊं ह्ीं श्रीं सिद्धचक्राय नमः’’ जाप के लिए ढढ्ढा कोटड़ी में ’’परमात्मा की प्रतिमा’’ व ’’सिद्धचक्र यंत्र’’ की स्थापना की गई है।

वहां सुबह साढ़े पांच बजे से रात नौ बजे तक बैठकर जाप करने की व्यवस्था की गई है। साध्वीश्री शशि प्रभाजी म.सा. ने बताया कि प्रत्येक आराधक को हर दिन 21 माला का जाप करना है। इस प्रकार क आराधक के द्वारा 27 दिन यानि 11 अक्टूबर तक 567 माला 56700 मंत्र का जाप किया जाएगा। शारीरिक लाचारी के कारण अनुकूलता न हो तो समीपस्थ जिनालय में अथवा घर में सिद्धचक्र यंत्र के आगे भी जाप किया जा सकेगा।

अभिमंत्रित कलश ढढ्ढा कोटड़ी में जाप करने वालों को दिया जाएगा। जाप के लिए एक ही आसन, एक ही माला व एक ही स्थान का चयन किया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि नवपद रूपी सिद्धचक्र की यह आराधना 9 अंक को ध्यान में रखकर की गई है। नवनिधि की भंडार, यह साधना है। खरतरगच्छ युवा परिषद के अध्यक्ष राजीव खजांची ने बताया कि बीकानेर में पहली बार होने वाले जाप के प्रति श्रावक-श्राविकाओं में अति उत्साह है । श्रावक-श्राविकाओं के जाप के लिए खरतरगच्छ युवा परिषद ने संगठन ने श्री जैन श्वेताम्बर खरतरगच्छ संघ के सहयोग से विभिन्न व्यवस्थाएं की है।

श्राद्धपक्ष में शहर में अनेक मिठाई की अस्थाई दुकानें खुली, तालाबों में तर्पण

श्राद्धपक्ष में शनिवार से अपने पूर्वजों व पितरों की आत्मतृप्ती व मोक्ष की भावाना को लेकर दान-पुण्य, गरीबो, असहायों, बाई-बेटी, सुहासिनों और ब्राह्मणों को भोजन करवाने, कागलों को कागगोस और गायों को गौग्रास, हराचारा खिलाने का सिलसिला शुरू हो गया।

जस्सूसर गेट के बाहर के अंदर व बाहर, दम्माणी चौक, आचार्यों का चौक, भुजिया बाजार, गंगाशहर, दाऊजी मंदिर मार्ग, गंगाशहर सहित अनेक स्थानों पर मिठाई की अस्थाई दुकानें मुख्य मार्गों पर लग गई है। इन अस्थाई दुकानों में रियायती दर पर मिठाई के साथ कचौरी व भुजिएं भी बिक्री किए जा रहे है। कई हलवाइयों, सामाजिक एवं स्वयं सेवी संस्थाओं ने भी दुकानें लगाई है।

संसोलाव, हर्षोलाव, धरनीधर, देवीकुंड सागर, शिवबाडी व कोलायत के कपिल सरोवर आदि स्थानों पर 15 दिन तक लगातार वैदिक मंत्रोच्चारण से देव,ऋषि व पितरों का तर्पण किया जाएगा। हर्षोलाव तालाब में नियमित तर्पण करने वाले तथा आयोजन में प्रमुख सहयोगी फूलसा सेवग ने बताया कि वयोवृद्ध पंडित नथमल पुरोहित के शिष्य पंडित गोपाल ओझा यजुर्वेद की संहिताओं से सुबह सवा पांच बजे, तिल, जौ, चावल, भस्मी, डाभ अंगूठी व कुसा आदि सामग्री से तर्पण करवा रहे है।

उन्होंने बताया कि अमावस्या को भगवान शिव व विष्णु का अभिषेक व उसके बाद वैदिक मंत्रों से हवन किया जाएगा। पंडित गोपाल ओझा धरनीधर महादेव मंदिर परिसर के तालाब में भी श्रद्धालुओं को तर्पणा करवाएंगे। Bikaner News 14 September 2019

टिड्डी से प्रभावित फसल के कृषकों को कीटनाशी पर 50 प्रतिशत तक अनुदान : गौतम

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने जिले में टिड्डी से प्रभावित क्षेत्रों की प्रभावी माॅनिटरिंग के अधिकारियों को निर्देश दिए है। उन्होंने जिले के उपखण्ड अधिकारियों व कृषि और टिड्डी नियंत्रण अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में किसानों के सम्पर्क में रहने को कहा।

Dahiya Dental Clinic

गौतम ने वीडियों काॅन्फ्रेसिंग के जरिये उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार और कृषि अधिकारियों की बैठक लीे और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग के अधिकारी, पटवारी, ग्राम सेवक, सहायक कृषि अधिकारी, कृषि पर्यवेक्षक बिना अनुमति के मुख्यायलय नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र से टिड्डी की सूचना मिले, उसके नियंत्रण पर तुरन्त कार्यवाही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि उक्त कार्मिकों की अनुपस्थिति को गंभीरता से लिया जायेगा और संबंधित के ख्ेिालाफ कार्यवाही होगी।

उन्होंने उप खण्ड, तहसीलदार, उप निदेशक कृषि विस्तार, टिड्डी नियंत्रण विभाग में नियंत्रण कक्ष स्थापित करने निर्देश दिए। उन्हांेने कहा कि उपखण्ड और तहसीलदार कार्यालय के नम्बर को ही नियंत्रण कक्ष हो।

टिड्डी से प्रभावित किसानों को कीटनाशी पर अनुदान पर मिलेगा- जिला कलक्टर ने कहा कि कृषि विभाग टिड्टी से प्रभावित किसानों को कीटनाशी पर 50 प्रतिशत तक अनुदान देगा। यह अनुदान कीटनाशी की कीमत का 50 प्रतिशत होगा। उन्होंने कहा कि कृषक को कीटनाशी की पूरी राशि देकर खरीदना होगा। अनुदान की राशि कृषि के बैंक खाते में कृषि विभाग जमा करवायेगा।

उन्होंने कहा कि प्रभावित कृषक को संबंधित क्षेत्र के सहायक र्कृिष अधिकारी अथवा कृषि पर्यवेक्षक से अनुशंषा पत्र लेना होगा। इसके लिए किसान को अपनी बैंक पास बुक, आधार कार्ड की छाया प्रति, ट्यूबवैल का बिजली का बिल और जमाबंदी की छाया प्रति साथ लानी होगी। उन्होंने कहा कि टिड्डी से प्रभावित प्रत्येक किसान को दो हैक्टेयर क्षेत्र के लिए ही अनुदान दिया जायेगा।

नियंत्रण कक्ष नम्बर- जिला विस्तार अधिकारी बज्जू रूबीना के 7014522068 पर, भैराराम गोदारा उप निदेशक कृषि विस्तार कार्यालय के 8118824319 पर, सहायक निदेशक कृषि जयदीप 9983719200, पर और टिड्डी नियंत्रण कार्यालय के पौध संरक्षण अधिकारी धन्ने सिंह के 8826052003 मोबाइल नम्बर पर टिड्डी के बारे में जानकारी दी सकती है।  Bikaner News 14 September 2019

वीडियो काॅन्फ्रेसिंग में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए.एच.गौरी, एडीएम सिटी शैलेन्द्र देवड़ा, उपखण्ड अधिकारी बीकानेर कैलाश चंद्र शर्मा, सहायक निदेशक कृषि जयदीप तथा संबंधित उपखण्ड कार्यालयों पर उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार व कृषि विभाग के अधिकारी शामिल हुए।

एसकेआरएयूः ‘कंटेनर बागवानी में उद्यमशीलता’ विषयक प्रशिक्षण सम्पन्न

कृषि शिक्षा व्यवसाय प्रबंधन संस्थान में ‘कंटेनर बागवानी में उद्यमशीलता’ विषयक चार दिवसीय प्रशिक्षण का शनिवार को समापन हुआ।
संस्थान निदेशक डॉ एन. के . शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय कृषि उच्चतर शिक्षा परियोजना के तहत आयोजित प्रशिक्षण में विद्यार्थियों को कंटेनर गार्डनिंग में प्रशिक्षित किया गया तथा इसमें रोजगार व व्यापार की संभावनाओं पर प्रकाश डाला गया।

प्रशिक्षण में कृषि महाविद्यालय व कृषि शिक्षा व्यवसाय प्रबंधन संस्थान के एमएससी और पीएचडी के विद्यार्थियों ने भाग लिया। प्रशिक्षण प्रभारी डॉ राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने बताया कि विद्यार्थियों को कंटेनर के प्रकार, सब्जियों व फूलों के पौधे लगाना, छाया व धूप में लगने वाले सजावटी पौधांे की तकनीक, शुष्क जलवायु में घरों और पार्कों में अलंकृत पौधांे की उन्नत प्रवर्धन तकनीक, कंटेनर में लगने वाले पौधों में कीट व बीमारियों से बचाव के उपचार, खाद व सिंचाई के प्रबंधन विषय पर विभिन्न वैज्ञानिकों के व्याख्यान व प्रायोगिक कार्य आयोजित हुए।

प्रशिक्षण के समापन के अवसर पर प्रोफेसर वाई सुदर्शन मुख्य अतिथि व डॉ. दीपक सरोलिया विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहे। इस अवसर पर डॉ धुरेन्द्र सिंह, डॉ राजीव नारोलिया, डॉ दीपक सरोलिया तथा विवेक व्यास मौजूद रहे।

हिंदी सप्ताह शुरू, पहले दिन हुई विभिन्न प्रतियोगिताएं

कृषि शिक्षा व्यवसाय प्रबंधन संस्थान द्वारा शनिवार को हिंदी सप्ताह की शुरूआत हुई। पहले दिन अनवाद व वाद विवाद प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। निदेशक प्रो. एन. के. शर्मा ने बताया कि हिंदी सप्ताह के दौरान 21 सितम्बर तक विभिन्न कार्यक्रम आयोजित होंगे। इनमें निबंध, लघु कहानी, कविता एवं पोस्टर प्रतियोगिताएं प्रमुख हैं। इस अवसर पर डाॅ. वाई सुदर्शन, डाॅ. राजेन्द्र सिंह तथा डाॅ. दीपक कुमार सरोलिया बतौर अतिथि मोजूद रहे। वक्ताओं ने हिंदी के महत्व के बारे में बताया। कार्यक्रम का संचालन विवेक व्यास ने किया।

वर्ष भर हिंदी में कार्य करने का लें प्रण : डॉ मेहता

अश्व अनुसंधान केंद्र में हिंदी दिवस एवं कार्यशाला का आयोजन राष्ट्रीय अश्व अनुसन्धान केन्द्र के बीकानेर परिसर पर हिंदी दिवस के उपलक्ष में आयोजित राजभाषा कार्यशाला एवं हिंदी सप्ताह के शुभारम्भ कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए केन्द्र के राजभाषा अध्यक्ष एवं प्रभारी अधिकारी डॉ एस सी मेहता ने अपने उदबोधन में कहा कि आप जो भी करें दिल से करें, कोई इनाम अथवा प्रसिद्धि पाने के लिए नहीं । अगर आपने सच्चे मन से कोई कार्य किया है तो वह जरुर सफल होगा ।

आज हिंदी सप्ताह के शुभारम्भ पर आप सभी प्रण लें की पुरे वर्ष हिंदी में जो भी कार्य करेंगे वह दिल से करेंगे । उन्होंने बताया की पिछले एक वर्ष में हमने जो भी कार्य हिंदी राजभाषा के क्षेत्र में किए हैं वह निस्वार्थ थे एवं उसके परिणाम स्वरूप नगर राज भाषा कार्यान्वयन समिति द्वारा इस केंद्र को नगर राज भाषा शील्ड प्रदान की गई । Bikaner News 14 September 2019

उन्होंने यह भी कहा की आज के समय की सरकार की दृढ निश्चयता देशवासी देख रहें हैं एवं ऐसी सरकार चाहे तो एक आदेश से हिंदी को राष्ट्र भाषा का दर्जा दे सकती है, लेकिन सबका साथ लेने ले लिए ही भारत सरकार का गृह मंत्रालय हिंदी राजभाषा के विकास पर कार्य कर रहा है । उन्होंने उम्मीद जाहिर की अब वह समय दूर नहीं जब एक राष्ट्र भाषा के रूप में हिंदी के स्थापित होने का सपना साकार हो ।

इस अवसर पर “पत्रकारिता एवं रचनात्मक लेखन से राजभाषा हिंदी का विकास” विषय पर आयोजित हिंदी कार्यशाला के दौरान मुख्य वक्ता पत्रकार एवं साहित्यकार श्री हरीश बी शर्मा ने कहा की रचनात्मक लेखन से विकास आप हिंदी की सेवा कर सकते हैं । आप रोजाना 50 शब्द किसी भी विषय पर लिखें एवं प्रयास करें की आपका लेखन जनता तक पहुंचे । इससे आपकी रचनात्मकता बढ़ेगी एवं राजभाषा हिंदी के विकास में आप योगदान दे सकेंगें । इस अवसर पर श्री शर्मा ने बीकानेर के प्रसिध्द लेखकों की दस पुस्तकें केंद्र को भेंट की ।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए डॉ. एन के शर्मा, अधिष्ठाता, कृषि व्यवसाय प्रबंधन संसथान, बीकानेर ने हिंदी में किसानों के लिए पत्र पत्रिकाएँ प्रकाशित करने की बात कही एवं अंडमान की यात्रा के अनुभव को सभी से साझा करते हुए बताया की वहाँ हिंदी एक राष्ट्र भाषा के रूप में दिखाई देती हैं क्योंकि वहां भांति भांति के लोग हैं लेकिन सभी हिंदी बोलते हैं । कार्यक्रम का सञ्चालन परिसर के राज भाषा अधिकारी श्री बृज लाल ने किया ।

उन्होंने हिंदी सप्ताह के दौरान आयोजित होने वाली प्रतियोगिताओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी दी एवं माननीय कृषि मंत्री जी का सन्देश पढ़कर सुनाया । कार्यक्रम में डॉ आर ए लेघा, डॉ रमेश देदर, डॉ टी आर तालुरी, डॉ जितेन्द्र सिंह, श्री कमल सिंह, डॉ आर ए पचोरी, श्री नरेंद्र चौहान एवं समस्त अधिकारी कर्मचारियों ने भाग लिया । धन्यवाद ज्ञापन श्री कमल सिंह द्वारा किया गया।

श्री सतीश पूनिया भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बनने पर बीकानेर भाजपा में ख़ुशी की लहर

श्री सतीश पूनिया भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त होने पर भाजपा शहर जिलाध्यक्ष डॉ सत्यप्रकाश आचार्य ने खुशी जाहिर करते हुए कहा केंद्रीय नेतृत्व ने पार्टी के सच्चे,मेहनती,लगनशील कार्यकर्ता को प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त कर एक मिसाल कायम की है की भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी है ओर एक ऐसे व्यक्तिव को पार्टी की कमान सौंपी है जो पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता से व्यक्तिगत स्नेह रखते है

garden city bikaner

जिला महामंत्री मोहन सुराणा ने कहा श्री सतीश पूनिया की नियुक्ति से कार्यकर्ताओ में जोश भर गया और सदस्य्ता अभियान प्रदेश संयोजक रहते हुए पूनिया के नेतृत्व में राज्य में साठ लाख नये सदस्यों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की ये बहुत बड़ी उपलब्धि है।
पूनिया के प्रदेशाध्यक्ष बनने पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष भूपेंद्र शर्मा,सुरेश शर्मा,अशोक प्रजापत,वेद व्यास,जिला मंत्री विष्णु पूरी,सलीम

जोइया,प्रवक्ता मनीष सोनी,कार्यालय प्रभारी सुशील शर्मा,अरुण जैन,युवा मोर्चा के गोपाल अग्रवाल,दुष्यन्त तंवर,ने श्री सतीश पूनिया को दूरभाष पर बधाई देकर खुशी जाहिर की। Bikaner News 14 September 2019