Bikaner News 15 September
Bikaner Slider

बीकानेर सार समाचार : रविवार, 15 सितम्बर 2019

अभिव्यक्ति की स्वंत्रतता पर संकट : डाॅ.कल्ला

OmExpress News / बीकानेर / ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डाॅ. बी.डी.कल्ला ने पत्रकारिता में अभिव्यक्ति की स्वंत्रतता पर संकट पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि पत्रकार विचारों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हामी होता है। ऐसे में उसकी अभिव्यक्ति की आजादी को दबाना लोकतंत्र को खतरे में डालने के समान है। Bikaner News 15 September

डाॅ.कल्ला रविवार को राजस्थान पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के सभागार में पत्रकार सुरक्षा कानून सहित पत्रकारों की मांगांे का निस्तारण करवाने के उद्देश्य से आईएफडब्लूजे की ओर से सम्भाग स्तरीय पत्रकार सम्मेलन में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि कुछ सालों में इस देश में 4 करोड़ लोग बेरोजगार हो गए है। इन विषयों पर पत्रकार लिखना चाहता है, लेकिन उनकी लेखनी को दबाया जा रहा है। ऐसी परिस्थिति में इस सम्मेलन का होना और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर मंथन करना सार्थक साबित होगा। उन्होंने कहा कि विचारों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमला हो रहा है।

आप किसी के विचारों से सहमत है या असहमत लेकिन विचारों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का स्वागत होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह तभी होगा जब लोकतंत्र जीवित रहेगा,नहीं तो लोकतंत्र को खतरे हो जायेगा। इस लिए ऐसे समय में यह सम्मेलन होना और पत्रकारों की सुरक्षा के संबंध में मंथन होना स्वागत योग्य है।  Bikaner News 15 September

डाॅ.कल्ला ने पत्रकारों पर हो रहे हमलों पर चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि आज पत्रकारों की सुरक्षा खतरे में है, जो भी पत्रकार निर्भीक्ता से लिखता है, उसे अपनी सुरक्षा स्वयं करनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार में पत्रकारों की सुरक्षा के प्रति सजग है। सम्मेलन में पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर जो चिन्ता व्यक्त की है, वे मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे। पत्रकारों की सुरक्षा के लिए जो भी किया जाना आवश्यक होगा, राज्य सरकार करेगी।

thar star enterprises new

डाॅ.कल्ला ने कहा कि पत्रकार समाज और सरकार के बीच एक सेतू का काम करता है, सरकार की जितनी भी नीतियां है, उन नीतियों को जनता तक पहुंचाते हैं और जनता जो भी महसूस करती है,उनकी जो भी समस्या, कठिनाईयां है, उसे अपनी लेखनी के माध्यम से सरकार तक पहंुचाते हैं। उन्होंने पत्रकारिता में संक्षिप्तीकरण, विषयों की जानकारी और खोजपरक पत्रकारिता के बारे में प्रकाश डाला।

ऊर्जा मंत्री ने एनजीओ संजीवनी के द्वारा कैंसर पीड़ित लोगों की सेवाओं की सराहना की और कहा कि भारतीय पौराणिक गं्रथों में सभी रोगों के उपचार के बारे में बहुत कुछ लिखा हैं। उन्होंने इन ग्रंथों में लिखी बातांे पर शोध करने की आवश्यकता जताई और कहा कि उनमें बताएं गए योग, क्रियायोग आदि का पालन किया जाए तो रोग होंगे ही नहीं।

उन्होंने कहा कि पौराणिक ग्रंथों में जो औषधि बताई गई है, उन पर शोध किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सुबह भरपूर पानी पीने, दोपहर में छाछ पीने और रात को दूध पीने से रोग नहीं होते। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से त्रि-फला का सेवन करने और प्राणायाम करने पर बल दिया।

इस अवसर विशिष्ट अतिथि जिला प्रमुख सुशीला सींवर ने कहा कि सम्मेलन के दौरान जिन समस्याओं को उठाया गया है, उन्हें वे और यहां से चुने हुए जनप्रतिनिधि प्रमुखता से सरकार के सामने रखेंगे। साथ ही पत्रकार सुरक्षा कानून के लिये मुख्यमंत्री के लिये व्यक्तिगत प्रयास किये जाएंगे।

सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए आईएफडब्ल्यूजे के प्रदेश अध्यक्ष उपेंद्र सिंह राठौड़ ने की। प्रदेशाध्यक्ष राठौर ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए पत्रकारों की सुरक्षा चिंता का विषय बनती जा रही है। सरकारों को पत्रकारों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जल्द ही पत्रकार सुरक्षा कानून को लागू करना चाहिए। जिससे पत्रकार निर्भिक होकर निष्ठापूर्वक अपना काम कर सकें। Bikaner News 15 September

उन्होंने ने कहा कि इस दौर को पत्रकारिता के लिए सबसे विषम परिस्थिति कहा जाए तो भी अतिशयोक्ति नहीं होगा और यदि इन सब परिस्थितियों को देखते हुए भी हम एकजुट नहीं हो पाते हैं तो यह हमारी स्वयं की ही कमजोरी और निर्णय लेने की क्षमता का ही दोष होगा। उन्होंने आव्हान किया की यही समय है जब हम संगठित होकर इन सबका मुकाबला कर पाएंगे। इसलिए हम अपने संगठन के साथ खुद भी मजबूत बनाएं।

विशिष्ट अतिथि भारतीय लेखा सेवा अधिकारी रूबी अहलूवालिया ने कैंसर जागरूकता के लिये पत्रकार जगत को आगे आने की पहल करते हुए आईएफ डब्लूजे के सहयोग के लिये साधूवाद बताया। जिलाध्यक्ष जयनारायण बिस्सा ने पत्रकारों की समस्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि हमें अपनी समस्याओं का समाधान करने के लिये एकजुटता से प्रयास करने होगें। पत्रकारों की सुरक्षा के लिये आईएफडब्लूजे की ओर से लगातार प्रयास किये जा रहे है। उन्होने कहा कि पत्रकारों को संगठित होकर अपने अधिकारों को लेकर आवाज बुलन्द करनी होगी।

इस मौके पर अनिल अहलूवालिया ने भी विचार रखे। आभार मोहन थानवी ने जताया। संचालन ज्योति प्रकाश रंगा ने किया। इससे पहले आए हुए अतिथियों का शिव भादाणी,सुमित व्यास,लक्ष्मीनारायण शर्मा,पवन भोजक, विवेक आहूजा, मुकुंद खण्डेलवाल,मोहम्मद अली पठान सहित अनेक पत्रकारों ने अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। इस सम्मेलन में श्रीगंगानगर, चूरू, हनुमानगढ़, झुझुंनूव, बीकानेर के पत्रकारों ने शिरकत की।

म्हारो राजस्थान-समृद्ध राजस्थान अभियान दल 20 को बीकानेर में

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय मुख्यालय माउंट आबू के एवं राजयोगा एज्यूकेशन एण्ड रिसर्च फाउण्डेशन की ओर से प्रदेश में 4 सितम्बर 2019 से जयपुर से आयोजित ’’म्हारो राजस्थान-समृद्ध राजस्थान अभियान’’ यात्रा दल 20 सितम्बर 2019 को बीकानेर पहुंचेगा।

अभियान दल के विशेषज्ञों की अगुवाई में तीन विश्व विद्यालयों व तीन महाविद्यालयों, केन्द्रीय कारागार सहित 15 स्थानों पर 21 सितम्बर को कार्यक्रम होंगे। बीकानेर संभाग के अभियान का समापन 22 सितम्बर को सुबह नौ बजे औद्योगिक क्षेत्र रानी बाजार के रिद्धि-सिद्धि भवन में सुबह नौ बजे होगा।

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के क्षेत्रीय केन्द्र की प्रभारी बी.के.कमल ने बताया कि बीकानेर संभाग में जयपुर से अभियानदल रवाना होकर सीकर, झुंझनूं, चूरू, सुजानगढ़ , सरदारशहर, भादरा, रावतसर, श्रीगंगानगर, गोलुवाला, सूरतगढ़ व अनूपगढ़, घड़साना व रावला होते हुए 20 सितम्बर 2019 को बीकानेर पहुंचेगा। बीकानेर में पूगल मार्ग के माखन भोग उत्सव कुंज के पास से शोभायात्रा निकलेगी।

शोभायात्रा शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए सार्दुल गंज स्थित क्षेत्रीय केन्द्र पहुंचेगी। शोभायात्रा में शामिल विषय विशेषज्ञों व विद्वानों का स्वागत किया जाएगा। अभियान के तहत शहर में अनेक स्थानों पर होर्डिंग्स लगाएं गए है तथा जन सम्पर्क के माध्यम से आम जन को जोड़ा जा रहा है।

उन्होंने बताया कि राजस्थान की गौरवशाली परम्पराओं को पुष्ट करने, प्रदेश में स्वच्छता एवं पर्यावरण संरक्षण, जल व उर्जा संवर्द्धन, स्वस्थ व व्यसन मुक्त समाज की संरचना करने, किसानों को सशक्त बनाने, मधुमेह, ह्दयाघात व अन्य बीमारियों की रोकथाम के लिए लोगों में जन चेतना जागृति करने और राजयोग के माध्यम से आमजन में मानसिक विकारों को दूर कर शांति की स्थापना के लिए ’’म्हारो राजस्थान-समृद्ध राजस्थान’’ अभियान 4 सितम्बर 2019 से जयपुर से राज्य के 6 संभागीय क्षेत्रों में चलाया जा रहा है। जयपुर बीकानेर अभियान का समापन बीकानेर संभागीय मुख्यालय पर होगा।

उन्होंने बताया कि सितम्बर 2019 को बी.जे.एस.रामपुरिया जैन लाॅ काॅलेज की जयनारायण व्यास काॅलोनी इकाई में, महारानी सुदर्शन महाविद्यालय, सिस्टर निवेदिता महाविद्यालय, मुरलीधर व्यास नगर, पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्व विद्यालय, महाराजा गंगा सिंह विश्व विद्यालय, स्वामी केशवानंद कृषि विश्व विद्यालय, महिला आई.टी.आई. केन्द्रीय कारागार, सहित बीकानेर में 15 स्थानों पर प्रखर वक्ताओं के प्रवचन, वृक्षारोपण, चिकित्सा शिविर सहित अनेक कार्यक्रम होंगे।

अभियान में वरिष्ठ नागरिक समिति, रोटरी क्लब, भारत विकास परिषद सहित विभिन्न शैक्षणिक, सामाजिक व स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग मिला है। इन संस्थाओं के सहयोग से भी स्वच्छता, वृक्षारोपण, चिकित्सा, व्यसन मुक्ति शिविर, उर्जा, जल संरक्षण, जैविक यौगिक खेती, तनाव मुक्ति , खुशहाल जीवन, मूल्यों की शिक्षा, मधुमेह व हृदयरोग से मुक्ति के लिए चेतना, जल व उर्जा संरक्षण से संबंधित कार्यक्रम होंगे।

वरिष्ठ कवि-कथाकार राजेन्द्र जोशी ने उच्च शिक्षा मंत्री को लिखा पत्र

मुक्ति संस्था के सचिव तथा वरिष्ठ कवि-कथाकार राजेन्द्र जोशी ने उच्च शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी को पत्र प्रेषित कर महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में राजस्थानी विभाग प्रारम्भ करने का आग्रह किया है।  Bikaner News 15 September

Dahiya Dental Clinic

जोशी ने पत्र में लिखा है कि बीकानेर में वर्ष 2003 से महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय कार्यरत है। यहां अध्ययन करने और परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों की संख्या राज्य से अन्य विश्वविद्यालयों की तुलना में अधिक है। ऐसे में यहां अनेक नए विभाग प्रारम्भ कने की जरूरत है। इस क्रम में उन्होंने महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय में राजस्थानी विभाग अविलम्ब प्रारम्भ करने की मांग की है। उन्होंने बताया कि मुक्ति सहित अन्य संस्थाओं की मांग पर गत वर्ष विश्वविद्यालय में स्ववित्तपोषी आधार पर राजस्थानी विभाग प्रारम्भ किया गया।

इसके बाद यहां बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया, लेकिन स्ववित्तपोषी विभाग होने के कारण विद्यार्थियों को चार गुणा तक अधिक शुल्क देनी पड़ रही है। इस कारण कई विद्यार्थी चाहकर भी प्रवेश से वंचित रहते हैं। उन्होंने बीकानेर संभाग के साहित्य सृजन की बहुलता को रेखांकित करते हुए लिखा है कि यहां राजस्थानी विभाग प्रारम्भ होने से युवा भी साहित्य सृजन की ओर बढ़ेंगे, जिससे राजस्थानी भाषा का विकास होगा तथा युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।

जोशी ने बताया कि गंगासिंह विश्वविद्यालय में राजस्थानी विभाग प्रारम्भ करने पर सरकार पर अधिक आर्थिक बोझ भी नहीं आएगा। उन्होंने राजस्थानी साहित्य प्रेमियों, युवाओं तथा बहुसंख्यक वर्ग की अपेक्षाओं को ध्यान में रखते हुए इस मांग पर प्राथमिकता से कार्यवाही करने का आग्रह किया है।

लोकसभा और विधानसभा में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दे प्रधानमंत्री : गौड़

शहर जिला महिला काँग्रेस कमेटी की ओर से महिला काँग्रेस के 36 वें स्थापना दिवस के अवसर पर रविवार को स्वालखि तलाई कच्ची बस्ती में बच्चों को फ़ल वितरण किये गये। Bikaner News 15 September

शहर जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनीता गौड़ के नेतृत्व में आयोजित महिला कांग्रेस के 36 वे स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि 1984 से पूर्व महिला कांग्रेस सिर्फ प्रदेश मुख्यालय तक सीमित थी पूर्व प्रधानमंत्री स्व श्रीमती इंदिरा गांधी ने महिला कांग्रेस को प्रदेश मुख्यालयों से बूथ स्तर तक ले जाने और देशभर में महिलाओं को मजबूत करने की जरूरत महसूस की उन्ही की पहल पर महिला कांग्रेस को बूथ इकाई तक गठित किया गया।

आज 36 वीं स्थापना दिवस पर हम देश मे एक मजबूत महिलाओं का संगठन तैयार कर महिला कांग्रेस को बूथ स्तर पर मजबूत कर महिलाओ को सशक्त करने की दिशा में कार्य कर रहे है।देश भर में आज महिला कांग्रेस से जुड़ी महिला शक्ति इंदिरा गांधी जी की स्मृति में सामाजिक कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है।

वार्ड नं 26 के पार्षद नंदलाल जावा ने कहा कि महिलाओ को लोकसभा और विधानसभा में 33 प्रतिशत आरक्षण केंद्र सरकार के द्वारा दिया जाना चाहिए।आज महिलाए पंचायत और निकाय चुनाव अपना परचम फेरा रही है। कांग्रेस राजनीतिक संगठन है राजनीति में महिलाओं की पूरी भागीदारी निकाय और पंचायत स्तर तक तय करवाता है वही सामाजिक रूप से भी समय समय पर अपनी भूमिका निभाता है।

इस अवसर पर महिला कांग्रेस की सरोज सरगरा,आशा स्वामी,कमली बानो, जशोदा,राधा भार्गव,उषा जावा,संतोष देवी,आशा जोशी,लक्ष्मी देवी,परमेश्वरी देवी सहित महिलाएं उपस्थित रही।

अन्तरंग क्षार सूत्र आयुर्वेद शल्य चिकित्सा शिविर नापासर में सोमवार से

आयुर्वेद विभाग द्वारा नापासर में 16 सितम्बर से 25 सितम्बर तक निःशुक्ल अन्तरंग क्षार सूत्र आयुर्वेद शल्य चिकित्सा शिविर आयोजित होगा।
आयुर्वेद विभाग के अतिरिक्त निदेशक बलदेव राज अरोड़ा ने बताया कि नापासर के माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट भवन मंे आयोजित इस शिविर का शुभारंभ सोमवार को सुबह 11.15 बजे होगा।

garden city bikaner

इस अवसर पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता उप निदेशक आयुर्वेद डाॅ.कौशल कुमार कालरा, विशिष्ट अतिथि अध्यक्ष नापासर माहेश्वरी सेवा ट्रस्ट, सरपंच चंपालाल ओझा, समाज सेवी गिरधारी लाल मुंधड़ा व गणेश प्रसाद झंवर होंगे। Bikaner News 15 September

‘सांख्य अबेकस’ में दिव्यांशी ने जीता ‘चेम्पियन ऑफ चैम्पियन्स’ का खिताब

बीकानेर के एक निजी स्कूल (चैलेंज पब्लिक स्कूल) में आठवीं क्लास में पढ़ने वाली दिव्यांशी पुरोहित ने रविवार को जयपुर में आयोजित ‘सांख्य अबेकस’ में ‘चेम्पियन ऑफ चैम्पियन्स’ का खिताब जीता। राज्य स्तर पर फाइनल मुकाबले में प्रदेशभर से लगभग सौ बच्चों ने भाग लिया।

दिव्यांशी को पुरस्कार स्वरूप लेपटॉप, ट्रॉफी एयर प्रमाण पत्र प्रदान किए गए। दिव्यांशी गत वर्ष इस प्रतियोगिता में राज्य स्तर पर चौथे नम्बर पर रही थी।