Bikaner Rajasthan Slider

बीकानेर सार समाचार : शुक्रवार, 18 जनवरी 2019

सामूहिक यज्ञोपवित संस्कार में 26 बटुकों को दी गुरुमंत्र दीक्षा

OmExpress News / Bikaner / श्रीरामसर रोड स्थित महानंद महादेव मंदिर में आचार्य महानंद वैदिक यज्ञ समिति के तत्वावधान् में शुक्रवार को 26 बटुकों का सामूहिक यज्ञोपवित संस्कार आयोजित किया गया। कर्मकांड भास्कर पंडित नथमल पुरोहित के सान्निध्य में आयोजित कार्यक्रम के दौरान बटुकों को गुरु मंत्र दीक्षा दी गई। इस अवसर पर बटुकों के परिजन सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। Bikaner News

पंडित महेश पुरोेहित ‘टीटी महाराज’ ने बताया कि समिति द्वारा चौथी बार यह आयोजन किया गया है। इस दौरान वैदिक रीति के अनुसार यज्ञ किया गया तथा गायत्री मंत्र एवं इसके महत्त्व के बारे में बताया गया। इस दौरान पवन जोशी, रविन्द्र आचार्य, किशन पुरोहित, दीनदयाल आचार्य, भानू आचार्य, रविन्द्र आचार्य, रोहित आचार्य, दाऊलाल कल्ला, मनोज आचार्य, अनिरूद्ध आचार्य सहित विभिन्न समितियों के पदाधिकारियों ने भागीदारी निभाई।

गणतंत्र दिवस 2019 के अवसर पर सम्मानित होने के लिए आवेदन 21 जनवरी तक

समाज सेवा, साहित्य, कला संस्कृति, विभिन्न राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में विशेष उपलब्धि अर्जित करने वाले मेधावी छात्र-छात्राओं, खिलाडि़यों, समाजसेवी संस्थाओं दानदाताओं , भामाशाह एवं सामाजिक क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को गणतंत्र दिवस 2019 के अवसर पर सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए 21 जनवरी दोपहर 3 बजे तक आवेदन किए जा सकेंगे।  Bikaner News

अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा ने बताया कि विभिन्न विभाग जिस कार्मिक का नाम सम्मानित करने के लिए नामांकित कर रहे हैं,उसके विरुद्ध किसी तरह की विभागीय जांच तो नहीं चल रही है, यह सुनिश्चित कर लें। उन्होंने बताया कि मुख्य समारोह राजकीय डॉ. करणीसिंह स्टेडियम में प्रातः 9.00 बजे मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ होगा । इससे पूर्व सभी राजकीय कार्यालयों में प्रातः 7 से 8 बजे तक, जिला कलक्टर निवास पर प्रातः 7ः30 बजे तथा कलक्ट्रेट में 8 बजे ध्वजारोहण होगा।

उन्होंने बताया कि करणी सिंह स्टेडियम परेड निरीक्षण तथा मार्च पास्ट की सलामी होगी। मार्च पास्ट में पुलिस, बोर्डर एवं अरबन होमगार्ड, तीसरी एवं दसवीं आरएसी बटालियन, एनसीसी छात्र-छात्राएं, स्काउट, गाइड, सोफिया एवं बीबीएस स्कूली की टुकडि़यां भाग लेंगी। राज्यपाल के संदेश का पठन अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) द्वारा किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि समारोह के दौरान विद्यार्थियों द्वारा सामूहिक लोक नृत्य, भारतीयम्, व्यायाम एवं योग प्रदर्शन किए जाएंगे। मुख्य समारोह के दौरान विभिन्न विभागों द्वारा झांकियों का प्रदर्शन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि साक्षरता एवं सतत शिक्षा, सर्व शिक्षा अभियान, वन विभाग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, नगर निगम, जिला उद्योग केन्द्र, नगर विकास न्यास, पीएचइडी, जिला परिषद एवं कृषि विभाग के अलावा परिवहन विभाग एवं ट्रेफिक पुलिस द्वारा भी झांकी निकाली जाएगी। झांकियों की विषय वस्तु की जानकारी 23 जनवरी को शाम 5 बजे तक आवश्यक रूप से उपलब्ध करवा दी जाए।

सांस्कृतिक संध्या का होगा आयोजन

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर रविंद्र रंगमंच पर सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए 6 सदस्य एक कमेटी का गठन किया है। समिति द्वारा गंणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम का अंतिम पूर्वाभ्यास 23 जनवरी को रविंद्र रंगमंच पर देखेंगे तथा कार्यक्रमों का चयन करेंगे।

पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित – Bikaner News

नगर विकास न्यास द्वारा गणतंत्र दिवस 2019 के अवसर पर पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। नगर विकास न्यास सचिव ने बताया कि इस अवसर पर राजस्थानी गद्य में एल पी टेसीटोरी, राजस्थानी पद्य में पीथल पुरस्कार, हिन्दी भाषा के लिए श्री मैथिलीशरण गुप्त पुरस्कार, उर्दू, सिंधी, पंजाबी के लिए अन्य भाषा पुरस्कार, उद्योग जगत के लिए उद्योग श्री पुरस्कार, नाट्यकर्मी पुरस्कार, कला के लिए पद्मश्री हिसामुददीन उस्ता पुरस्कार, खेल जगत में डॉ करणीसिंह पुरस्कार, समाजसेवा के लिए स्वामी कृष्णानंद सरस्वती पुरस्कार, तथा संगीत क्षेत्र में योगदान के लिए पद्मश्री अल्ला जिलाईबाई पुरस्कार दिया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इन क्षेत्रों में विशेष उपलब्धि हासिल करने वाले व्यक्ति आवेदन कर सकते हैं। आवेदनकर्ता 23 जनवरी सायं पांच बजे तक पूर्ण विवरण सहित अपनी प्रविष्टी भिजवा सकता है।

समूहों की वरीयताएं एवं चक्रीय कार्यक्रम जारी – Bikaner News

इंदिरा गांधी नहर परियोजना की स्टेज प्रथम व द्वितीय की नहरों को चलाने के लिए समूहों की वरीयताएं एवं चक्रीय कार्यक्रम जारी किया गया है। क्षेत्रीय विकास इंगानप आयुक्त तन्मय कुमार ने बताया कि फसल रबी 2018‘19 के लिए 21 जनवरी प्रातः 6 से 21 मार्च सायं 6 बजे तक के लिए यह कार्यक्रम जारी किया गया है।

उन्होंने बताया कि 21 जनवरी प्रातः 6 बजे से 29 जनवरी सायं 6 बजे तक चार समूहों में बांट कर दो समूह में चलाने के लिए समूहों की वरीयता व चक्रीय कार्यक्रम स, अ, ब, द तथा 29 जनवरी सायं 6 से 7 फरवरी प्रातः 6 बजे तक द, ब, स, अ रहेगा। इसी प्रकार तीन समूहों में बांट कर एक समूह में चलाने हेतु समूहों की वरीयताएं व चक्रीय कार्यक्रम 7 फरवरी प्रातः 6 बजे से 15 फरवरी सायं 6 बजे तक क, ख, ग, 15 फरवरी सायं 6 से 24 फरवरी प्रातः 6 बजे तक ख, ग, क तथा 24 फरवरी प्रातः 6 बजे से 4 मार्च सायं 6 बजे तक ग, क व ख रहेगा।

उन्होंने बताया कि 4 मार्च सायं 6 बजे से 13 मार्च प्रातः 6 बजे तक चार समूहों में बांट कर दो समूह में चलाने के लिए समूहों की वरीयता व चक्रीय कार्यक्रम अ, स, द, ब तथा 13 मार्च प्रातः 6 बजे से 21 मार्च सायं 6 बजे तक यह क्रम ब, द, अ, व स रहेगा। Bikaner News

एनआरसीसी ने शुरू की ऊँटनी के दूध से बनी खीर की बिक्री

भाकृअनुप-राष्ट्रीय उष्ट्र अनुसंधान केन्द्र द्वारा ऊँटनी के दूध से निर्मित उत्पादों की सूची में इजाफा करते हुए इससे बना एक और उत्पाद ‘खीर‘ लॉन्च किया गया है। केन्द्र द्वारा यह खीर अपने मिल्क पार्लर के माध्यम से बिक्री की जा रही है।

केन्द्र निदेशक डॉ.आर.के.सावल ने बताया कि एनआरसीसी ऊँटनी को फील्ड स्तर पर भी एक दुधारू पशु के रूप में स्थापित करने हेतु प्रयत्नशील है। इसी प्रयोजन से केन्द्र द्वारा इसके दूध से ‘खीर‘ उत्पाद तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रायोगिक तौर पर इस ‘खीर‘ को हाल ही में सम्पन्न अंतर्राष्ट्रीय ऊँट उत्सव-2019 में लॉन्च किया गया। पर्यटकों तथा आमजन में इस खीर की बेहद मांग सामने आने पर केन्द्र इससे उत्साहित है।

अतः इसी स्थिति में ऊँट पालक भाई भी ऊँटनी के दूध से खीर व अन्य उत्पाद बनाकर अच्छी आमदनी प्राप्त कर सकते हैं। केन्द्र इन उत्पादों को सिखाने हेतु निःशुल्क प्रशिक्षण देता है। अतः ऊँट पालक भाई इसे व्यवसाय के रूप में अपनाने हेतु आगे आएं।

डॉ. सावल ने बताया कि ऊँटनी के दूध का घरेलू उत्पादों जैसे खीर, हलवा आदि में उपयोग को बढ़ावा देने से ऊँट का इस दृष्टि से भी महत्व सामने आएगा तथा उष्ट्र प्रजाति के विकास एवं संरक्षण को बल मिल सकेगा।  Bikaner News

उष्ट्र दुग्ध प्रसंस्करण इकाई के प्रभारी, डॉ.देवेन्द्र कुमार ने बताया कि केन्द्र द्वारा ऊँटनी के दूध से तैयार ‘खीर‘ उत्पाद अंतर्राष्ट्रीय ऊँट उत्सव में प्रति 100 ग्राम की मात्रा में 10 रूपये बिक्री हेतु रखा गया। दो दिन चले अंतर्राष्ट्रीय ऊँट उत्सव-2019 में न केवल खीर बल्कि ऊँटनी के दूध से बने अन्य उत्पादों जैसे आइसक्रीम, कुल्फी, चाय, कॉफी, सुगन्धित दूध, पेड़ा इत्यादि का करीब एक हजार से ज्यादा सैलानियों ने लुत्फ उठाया। इनमें खीर की बिक्री शानदार रही। अब यह उत्पाद मांग के आधार पर केन्द्र के मिल्क पार्लर में भी उपलब्ध रहेगा।

फैमिली रेस्टोरेंट ’ट्रीट’ का शुभारम्भ

जस्सूसर गेट के बाहर सीताराम गेट के सामने शुद्ध शाकाहारी वातानुकूलित फैमिली रेस्टोरेंट ट्रीट का शुभारम्भ शुक्रवार को किया गया। जनसम्पर्क विभाग के उपनिदेशक विकास हर्ष के मुख्य आतिथ्य में उद्घाटन किया गया। कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि लोकप्रिय गायक कलाकार पं् केशव शर्मा उपस्थित रहे।

रेस्टोरेंट के संचालक ईशान पुष्करणा ने बताया कि रेस्टोरेंट में अमृतसरी तंदूरी, कुलछे, छोले, पनीर टिक्का सहित सभी प्रकार का शाकाहारी भोजन उपलब्ध रहेगा। उन्होंने बताया कि भोजन बनाने में हाईजिन का विशेष ध्यान रखते हुए व्यंजन परोसे जाएंगे। साथ ही मल्टीग्रीन आटे का प्रयोग कर कुलछे बनाए जाएंगे जिनका शुगर, बीपी वाले मरीज भी लुत्फ उठा सकेंगे। इस अवसर पर डॉ वेद शर्मा, डॉ ओम कुबेरा सहित कई गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

गौतम दूसरे दिन भी रहे शहर के दौरे पर, गंगाशहर क्षेत्र में लिया सफाई व्यवस्था का जायजा

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम लगातार दूसरे दिन शहर के दौरे पर रहे और गंगाशहर क्षेत्र में निरीक्षण कर सफाई व्यवस्था का जायजा लिया और अधिकारियों को निर्देश दिए।

गौतम शुक्रवार प्रातः ही शहर के भ्रमण पर निकले तथा गंगाशहर की गलियों में भ्रमण कर आमजन से समस्याएं जानी। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त प्रदीप गंवांडे, अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा भी उनके साथ मौजूद रहे। जिला कलक्टर ने कहा कि शहर की सफाई व्यवस्था में आमजन भी भागीदारी निभाएं तथा घर दुकान आदि की सफाई से निकले कचरे को उचित स्थान पर कचरापात्र में डालें और अपनी गली शहर को साफ-सथुरा बनाए रखने में अपने दायित्व का निर्वहन करें।

अलाव तापते दिखे सफाईकर्मी

जिला कलक्टर ने गंगाशहर के क्षेत्र से भ्रमण प्रारम्भ किया तो गंगाशहर स्थित नगर निगम कार्यालय में कई सफाईकर्मी सामूहिक रूप से अलाव तापते दिखाते दिए। जिला कलक्टर ने यहां अस्तपाल परिसर का जायजा लिया तथा वहां मौजूद गंदगी को देखकर नाराजगी जताई। उन्होंने नगर निगम आयुक्त को प्राथमिकता से अस्पताल में सफाई कार्य करवाने के निर्देश दिए।

भीनासर के भ्रमण के दौरान मुरली मनोहर गौशाला के सामने गंदगी का अंबार लगा पाया। इस पर गंभीर नाराजगी व्यक्त की। जिला कलक्टर को बताया गया कि अमृत योजना के तहत आरयूआईडीपी द्वारा करवाए गए कार्यों के बाद बचा मलबा यहीं छोड दिया गया है। इसी के चलते यहां गंदगी का अंबार लगा है। डीएम ने एडीएम सिटी को तुरंत प्रभाव से इस स्थान से मलबा हटवाने, सफाई करवाने के निर्देश दिए तथा कहा कि आरयूआईडीपी द्वारा इस स्थान पर चारदीवारी बनवाई जाए।

चारदीवारी निर्माण के बाद यूआईटी पार्क के अंदर बैठने आदि की सुविधाओं का विकास करें। इसी स्थान पर स्थित एक अन्यत्र पार्क में भी पेड़ पौधे लगाने व फुटपाथ आदि अन्य सुविधाएं विकसित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यूआईटी, नगर निगम मिलकर समन्वय से कार्य करें और तीन दिन में इस स्थान पर एकत्र गंदगी को साफ किया जाए।

अतिक्रमण बर्दाश्त नहीं

जिला कलक्टर गौतम ने इस के बाद हरिजन बस्ती का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने क्षतिग्रस्त सड़क, टूटी नालियां, गंदगी व सड़क पर फैले पानी के निस्तारण को कहा। जिला कलक्टर ने पास ही स्थित एक खाली भूमि पर चल रहे चारदीवारी निर्माण कार्य की जांच करने को कहा। उन्होंने एडीएम सिटी को भूमि के कागजात की जांच करने के निर्देश देते हुए कहा कि यदि अवैध निर्माण पाया जाए तो तुरंत प्रभाव से अतिक्रमण तोड़ने की कार्यवाही अमल में लाई जाए।

जिला कलक्टर को भ्रमण के दौरान गंगाशहर चौराहे से मुरली मनोहर गौशाला तक मात्र दो कर्मचारी ही सफाई करते मिले। इस पर कड़ी नाराजगी जताते हुए जिला कलक्टर ने कहा कि सफाई एक नियमित प्रक्रिया है तथा इस कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि सफाईकर्मी शहर को साफ रखने की अपनी जिम्मेदारी से मुंह ना मोड़े बल्कि नियमित साफ सफाई कर यहां शुद्ध आबोहवा व वातावरण निर्माण में अपना अमूल्य योगदान दें।

कचरा फैलाने वाले दुकानदारों को नोटिस

पुराने बस स्टेण्ड के पास गंदगी को देखकर कुमारपाल गौतम ने गहरी नाराजगी जताते हुए कहा कि दो घंटे के भीतर इस स्थान को साफ किया जाए। साथ ही यहां घूम रहे आवारा पशुओं को अन्यंत्र शिफ्ट करने की कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि बस स्टेण्ड के आस-पास सब्जी और अन्य दुकानंे चलाने वाले दुकानदारों को साफ सफाई बनाए रखने के लिए नोटिस देकर पाबंद किया जाए अन्यथा उनके विरूद्ध सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

मुख्य सड़क पर खडे़ नकारा वाहनों की करें जब्ती

जिला कलक्टर ने कहा कि मुख्य सड़कों पर बड़ी संख्या में पुराने और नकारा वाहन खड़े हैं। इन वाहनों को या तो सम्बंधित व्यक्ति स्वयं हटा लें अन्यथा पुलिस इन वाहनों की जब्ती कर इन्हें वहां से हटाने की कार्यवाही करें। गौतम ने सार्दुल सिंह सर्किल के पास बसों के अवैध रूप से हो रहे संचालन पर भी प्रभावी तरीके से रोकने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस सम्बंध में बस मालिकों को समझाइश की जाए।

इसके बावजूद यदि इन बसों का अवैध संचालन बंद नहीं होता हैै तो सम्बंधित के विरूद्ध नियमानुसार कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाए। भ्रमण के दौरान जिला कलक्टर से विभिन्न स्थानों पर बड़ी संख्या में आमजन मिले और अपनी समस्याओं से अवगत करवाया। जिला कलक्टर ने लोगों को समझाइश कर सफाई व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग देने की अपील की।

डूंगर काॅलेज में उप निदेशक द्वारा निरीक्षण

डूंगर महाविद्यालय में शुक्रवार को काॅलेज शिक्षा के उप निदेशक डाॅ. एस.एस.भाटी ने निरीक्षण किया। इस अवसर पर प्राचार्य डाॅ. एन.के.व्यास ने उप निदेशक का स्वागत किया। इस स्वागत कार्यक्रम में उपाचार्य डाॅ. सतीश कौशिक, डाॅ. रविन्द्र मंगल, डाॅ. जी.पी.सिंह, डाॅ. वी.के.ऐरी, डाॅ. मोहम्मद हुसैन, डाॅ. नरेन्द्र नाथ सहित संकाय सदस्य उपस्थित रहे।

उप निदेशक ने प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु सामान्य ज्ञान की पुस्तकें निःशुल्क वितरित करने के बारे में जानकारी ली। प्राचार्य डाॅ. व्यास ने बताया कि इस संबंध में एक समिति का गठन कर दिया गया है तथा महाविद्यालय में शीघ्र ही निःशुल्क प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये प्रशिक्षण कक्षायंे 29 जनवरी से प्रारम्भ होगीं। इसके लिये महाविद्यालय के नियमित एवं स्वयंपाठी छात्र निर्धारित प्रपत्र भर कर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण के लिये अपना पंजीयन महाविद्यालय में शीघ्र करावें। प्राचार्य ने बताया कि महाविद्यालय में बी.एससी. पार्ट प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय के नियमित विद्यार्थियों की कक्षाएं प्रारम्भ हो गयी है।

निर्मोही नाट्य सम्मान प्रदेश के वरिष्ठ रंगकर्मी जयरूप जीवन को

अनुराग कला केंद्र के संस्थापक निर्मोही व्यास की स्मृति में साल 2018 का निर्मोही नाट्य सम्मान जयपुर के वरिष्ठ रंगकर्मी जयरूप जीवन को अर्पित किया जाएगा। जयरूप जीवन को सम्मान स्वरूप ग्यारह हजार की राशि नकद और प्रतीक चिन्ह सम्मान स्वरूप अर्पित किया जाएगा। राष्ट्रीय नाट्य विधालय से स्नातक जयरूप जीवन ने अब तक 200 से अधिक नाटकों में अभिनय किया है और लगभग दस नाटकों को लिखा है।

राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय से स्नातक होने के बाद वहां के रंगमंडल में कुछ साल अभिनय के बाद जयरूप जीवन ने पुणे के फिल्म और टीवी इंस्टिट्यूट में दो साल का फिल्म मेकिंग का विशेष कोर्स किया। इसके बाद मुम्बई में प्रसिद्ध फिल्मकार शेखर कपूर के असिस्टेंट के रूप में भी जयरूप जीवन ने काम किया। डॉ चंद्रप्रकाश द्रिवेदी के निर्देशन में दूरदर्शन के प्रसिद्ध धारावाहिक चाणक्य में रोल के अलावा उसका प्रोड्क्शन भी संभाला।

अनु कपूर की मुख्य भूमिका वाले धारावाहिक कबीर में रैदास का रोल किया। इस दौरान उन्होंने ओम पुरी और नादिरा बब्बर के थिएटर ग्रुप के नाटकों में काम के साथ साथ उनके ग्रुप का प्रोडक्शन संभाला। पिछले साल आई मेघना गुलजार की आलिया भट्ट अभिनीत फिल्म राजी में भी पाकिस्तानी कर्नल का महत्वपूर्ण रोल निभाया। टीवी सीरियल थपकी प्यार की में भी प्रमुख भूमिका निभाई।

संक्रमण रोकने स्वाइन फ्लू रोगी को 108 एम्बुलेंस से भेजा पीबीएम

मरीज के स्वाइन फ्लू पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही स्वास्थ्य विभाग की पहली कोशिश उसे टेमी फ्लू दवा पहुंचाने की तो होती ही है साथ ही उसके परिवेश में रोग के फैलाव को रोकने का काम भी उतना ही प्राथमिकता के साथ किया जाता है। इस क्रम में विभाग द्वारा पहल करते हुए एक रोगी को लूणकरणसर से पीबीएम अस्पताल तक लाने विशेष रूप से 108 एम्बुलेंस बुलाई गई।

लूणकरणसर के सहजरासर निवासी दीपक (18) पुत्र मानाराम गोदारा को जुकाम के साथ सांस में तकलीफ बढ़ने पर पीबीएम अस्पताल जांच करवाई गई लेकिन रिपोर्ट का इंतजार किए बिना वे दवा लेकर गाँव लौट गए।

शुक्रवार को रिपोर्ट में स्वाइनफ्लू पॉजिटिव आने पर दीपक को इलाज के लिए वापिस बीकानेर लाना था। परिजन दीपक को लेकर बस द्वारा बीकानेर के लिए रवाना हो रहे थे। बस में रोग यात्रियों में फैलने की बड़ी आशंका थी। जानकारी मिलने पर सीएमएचओ डॉ. बी.एल. मीणा ने तुरंत इसके लिए 108 एम्बुलेंस भेजी और पूरी सावधानी के साथ मरीज और परिजनो को मास्क पहनाकर पीबीएम भेजा। Bikaner News

यही नहीं उन्होंने सभी चिकित्सा संस्थानों को इस सम्बन्ध में अलर्ट भी जारी किया कि स्वाइन फ्लू के रोगी को रेफर करने के लिए 108 एम्बुलेंस सेवा का उपयोग किया जाए। डॉ. मीणा ने बताया कि 108 आपातकालीन सेवा है लेकिन स्वाइन फ्लू रोगी के लिए आपातकाल के साथ यह परिवेश में आने वाले व्यक्तियों के लिए भी आपातकालीन परिस्थितिजनक हो सकता है। इसलिए इसके लिए 108 का ही उपयोग सुरक्षित है।  Bikaner News

डिप्टी सीएमएचओ डॉ. इंदिरा प्रभाकर ने जानकारी दी कि जिले में विज्ञप्ति जारी होने तक 31 व्यक्तियों में स्वाइन फ्लू पोजिटिव पाया गया है। शुक्रवार को स्वास्थ्य कर्मियों के 93 दलों ने कुल 3,988 घरों का सर्वे कर 812 सर्दी-जुकाम के रोगी चिन्हित कर उन्हें दवा दी जबकि जिले के चिकित्सा संस्थानों पर ओपीडी में 10,547 की स्क्रीनिंग कर 1,556 व्यक्तियों को आईएलआई लक्षणों के साथ चिन्हित कर उपचार किया। इनमे से 25 रोगी गंभीर सी श्रेणी के चिन्हित कर टेमी फ्लू से उपचार शुरू किया गया।

1,110 ने पिया स्वाइन फ्लू प्रतिरोधी काढ़ा

स्वास्थ्य विभाग के आयुष दल ने शिविर लगाकर कुल 1,110 व्यक्तियों को डेंगू-मलेरिया-स्वाइन फ्लू के प्रति रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाला आयुर्वेदिक काढ़ा पिलाया। आयुष चिकित्सकों के दल में शामिल डॉ. गजेन्द्र तंवर, डॉ. नेहा दाधीच, डॉ. अनिल सैनी व डॉ. संध्या शर्मा ने मुक्ता प्रसाद डिस्पेंसरी में शिविर लगाकर 1,110 व्यक्तियों को नीम-गिलोय व अन्य औषधियों से तैयार आयुर्वेदिक क्वाथ पिलाया।

संयुक्त निदेशक डॉ. एच.एस. बराड़ ने शिविर में पहुँच कर आमजन को इसके लाभ बताए। इस अवसर पर समाज सेवी महेंद्र कल्ला व अस्पताल के प्रभारी डॉ. गौरव जोशी ने अधिकाधिक आमजन को इस मुहीम से जोड़ने में सक्रिय सहयोग दिया।