Bikaner Rajasthan Slider

इस गांव में जन्मी बेटी, बजाई थाली, बांटी मिठाइयां

बेटी बचाओ बेटी पढाओ” सरकार के नारे को अब धरातल पर साकार होता देखा गया बीकानेर जिले के लूणकरणसर तहसील के करणीसर में निवासी किसान मूलाराम के घर पौती होने की खबर मिली तो मानो दिवाली आ गयी हो। किसान मूलाराम के घर पोती के जन्म लेने पर कांसी की थाली बजाईं गयी और ग्रामीणों के साथ मिठाई बांटकर खुशियां बनाईं।


इस मौके पर सरपंच चन्दादेवी शर्मा ने कहा की सरकार के नारे को आज धरातल पर साकार होता देखा जा रहा है पंचायत में आगे भी याद रखते हुए बालिकाओं के अधिकारों व उनकी सुरक्षा के लिए हमेशा लोगो में जागरुकता लाकर बेटी बचाकर बेटी पढाकर समाज मे जागृति लाने में हमेशा प्रयासरत रहेगी।


इन खुशियों में शामिल होने पहुंचे उरमूल संस्थान के पुखराज ने कहा कि गांव में इस तरह कन्या के जन्म पर थाली बजाकर एक सराहनीय पहल की गई है बेटा या बेटी के जन्म के प्रति सोच को बदलकर एक नए समाज में जागृति लाने के लिए एक अनोखा उदाहरण पेश किया है। हमें बेटियों को कोख में नहीं मारना चाहिए। बेटियां दो परिवारों को रोशन करती है यदि बेटी पढ़ेगी तो दो परिवारों में शिक्षा का दीप जलेगा।

इस मौके पर ओम शर्मा, उरमूल सेतु संस्थान के पीराराम, भरदनाथ, आजाद, भंवर लाल, उप सरपंच भगीरथ गोदारा, वार्ड पंच मनीराम, जवाहर लाल गिला, उदाराम गिला, अध्यापक सुगन दास स्वामी, रामलाल, रामकुमार शर्मा, सहित परिजनों ने थाली बजाई और मिठाई बांटकर खुशी मनाई। चाचा किशनलाल ने बधाई देते हुये कहा कि यदि पूरा समाज ऐसा कदम उठाए तो महिलाओं को समाज में योग्य सम्मान मिलने में देरी नहीं लगेगी और वे गर्व महसूस करेंगी।(PB)