Jaipur Rajasthan Slider

गहलोत सरकार का तोहफा, पीएचईडी कर्मचारियों का ग्रेड पे 3600 तक बढ़ाया

जयपुर। राजस्थान की गहलोत सरकार ने पीएचईडी के तकनीकी कर्मचारियों को नए साल का तोहफा दिया है। सरकार ने राजस्व शाखा के तकनीकी कार्मिकों को ग्रेड बढ़ाने के आदेश जारी कर दिए। राज्य सरकार ने कार्मिकों का वेतन 2800 से ग्रेड पे बढ़ाकर 3600 कर दिया है। बढी हुई ग्रेड पे का लाभ केवल 27 साल नौकरी करने वाले कार्मिकों को ही मिलेगा।

सालों से राजस्थान वाटर वर्क्स कर्मचारी संघ सरकार से मांग कर रहा था कि उनकी ग्रेड पे बढाई जाए। प्रदेश में गहलोत सरकार के आते ही जलदाय कर्मचारियों को बडी राहत मिली है। ग्रेड पे बढऩे के बाद प्रत्येक कर्मचारी को करीब 80 से 90 हजार रूपए का ऐरियर मिलेगा। इसके अलावा 2400 ग्रेड पे वाले कर्मचारियों को अब 2800 ग्रेड पे हिसाब से वेतन मिलेगा। ग्रेड पे बढऩे के बाद कर्मचारियों में खुशी की लहर है।

राजस्थान वाटर वर्क्स कर्मचारी संघ ने सरकार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत,जलदाय मंत्री बीडी कल्ला और परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास का आभार जताया. सरकार के इस फैसले के बाद करीब दो हजार से ज्यादा कर्मचारियो को लाभ होगा। जलदाय विभाग के संयुक्त सचिव बीएल मीणा ने अपने आदेश में लिखा है कि ‘राजस्थान सिविल सेवा नियमों के अंतगर्त ग्रेड पे 2400 को बढ़ाकर 2800 किया गया है.एसीपी योजना के तहत ट्रेड विकल्प और पदोन्नती पद के अनुसार एसीपी स्वीकृति करने का प्रावधान नहीं है.

जिन कर्मचारियों को पूर्ववर्ती चयनित वेतनमान के अंतर्गत वेतनमान के अनुसार 1 जुलाई 2013 से पहले समकक्ष ग्रेड पे में 2400 रू. प्राप्त थी, ऐसे कार्मिकों को 2800 रूपए ग्रेड पे मिलेगी। इसके अलावा 27 वर्षीय एसीसी देय होने पर उन्हें रनिंग पे बैंड और ग्रेड पे में उच्चतम 3600 ग्रेड पे देय होगी. अधिसूचना के प्रावधान के अनुसार संशोधित ग्रेड पे एसीपी योजना के तहत स्वीकृत की जाएगी।(PB)