Bikaner Rajasthan Slider

हरिराम विश्नोई को मिली पी एच डी की उपाधि

बीकानेर। मोहनलाल सुखाडिया विश्वविध्यालय आर्ट्स कॉलेज में राजस्थानी विभाग के शोधार्थी हरिराम विश्नोई ने ‘राजस्थानी संत साहित्य में-जम्भवाणी एक अध्ययन पर शोध कार्य डॉ.सुरेश सालवी के निर्देशन में पूरा किया अत: सुखाडिया विश्वविध्यालय उदयपुर ने पी.एच.डी की उपाधि प्रदान की है ।

राजस्थानी विषय में पांच बार नेट और जे आर एफ किए हुए हरिराम विश्नोई राजस्थानी मोट्यार परिषद बीकानेर सम्भाग के अध्यक्ष हैं, जो लम्बे समय से राजस्थानी भाषा की मान्यता के लिए संघर्षरत हैं । वर्तमान में विश्नोई जाम्बा की ढाणी, जोधपुर में पुस्तकालयाध्यक्ष हैं । इस शोधकार्य को पूरा करने पर मोहनलाल सुखाडिया विश्वविध्यालय ने विश्नोई को प्रोवीजनल सर्टिफिकेट जारी कर दिया है ।

gyan vidhi PG college
डॉक्टरेट की उपाधि मिलने पर साहित्य जगत में अपार खुशी हुई और विश्नोई को बधाईयों का तांता लग गया । शब्दरंग साहित्य एवं कला संस्थान बीकानेर के सचिव राजाराम स्वर्णकार ने कहा चाहे सरकार हमारी भाषा मान्यता को दरकिनार कर दे, राजनीति कर लें लेकिन भाषा प्रेमी अपनी भाषा का मान बढाते रहेंगे और सरकार को भाषा मान्यता हेतु अहिंसात्मक तरीके से सचेत करते रहेंगे ।

उपाधि प्राप्त करने पर लोक कला मंडल के अशफाक कादरी, शिक्षाविद भगवानदास पडिहार, मुक्ति संस्था के राजेन्द्र जोशी और जनजीवण कल्याण सेवा समिति के एन.डी.रंगा ने हरिराम विश्नोई को बधाई भेजी है ।

cambridge1