Jaipur Rajasthan Slider

हाईलेवल बैठक : प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखें : गहलोत

जयपुर। पुलवामा हमले की जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना की ओर से मंगलवार को आतंकी ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक के बाद पाक की बौखलाहट अब खुलकर सामने आ रही है। पाकिस्तानी सेना की ओर से आज एलओसी में घुसकर की गई नाकामयाब कोशिश का भारतीय सेना ने करारा जवाब देते हुए पाकिस्तान जेट को मार गिराया है। इसके बाद दोनों देशों की सीमा पर बढ़े सेना के मूवमेंट के चलते सरहद पर उपजे तनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी अलर्ट हैं और उन्होंने आला अधिकारियों के साथ हाईलेवल बैठक की है।

gyan vidhi PG college
अशोक गहलोत ने भारत-पाक सीमा पर उत्पन्न वर्तमान स्थिति के मद्देनजर प्रदेश में विशेष सतर्कता एवं चौकसी बरतने के निर्देश दिए हैं। श्री गहलोत ने कहा कि राज्य के सीमावर्ती जिलों में हर गतिविधि पर कड़ी नजर रखी जाए।
श्री गहलोत बुधवार को 49, सिविल लाइंस स्थित निवास पर उच्च स्तरीय बैठक में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सीमा पर उत्पन्न हालातों को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद रखी जाए। नागरिक प्रशासन और पुलिस के अधिकारी सेना एवं बीएसएफ के साथ सतत् सम्पर्क एवं समन्वय बनाए रखकर सूचनाओं का आदान-प्रदान करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की भौगोलिक स्थिति सामरिक दृष्टि से अत्यन्त महत्वपूर्ण है।

ऐसे में सुरक्षा को लेकर सभी आवश्यक इंतजाम पुख्ता किए जाएं। संवेदनशील क्षेत्रों में चौकसी बढाई जाए। बॉर्डर एरिया से जुड़े सभी जिलों के कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षकों से लगातार क्षेत्र में हो रही गतिविधियों की जानकारी लेते रहें। चिकित्सा, परिवहन, खाद्य, पानी, बिजली सहित तमाम विभागों के अधिकारी निचले स्तर तक समन्वय बनाए रखें और हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें।

shyam_jewellers

बैठक में मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता, अति. मुख्य सचिव गृह श्री राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक श्री कपिल गर्ग, महानिदेशक होमगार्ड श्री ओपी गलहोत्रा, महानिदेशक एटीएस तथा एसओजी डॉ. भूपेन्द्र सिंह, पुलिस महानिरीक्षक कानून-व्यवस्था श्री हवासिंह घुमरिया, आपदा प्रबंधन एवं नागरिक सुरक्षा सचिव श्री आशुतोष एटी पेंडणेकर आदि अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में सीएम गहलोत ने इंटरनेट के जरिए संदेशों के आदान-प्रदान पर नजर रखने और फेक मैसेजेस की मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए, ताकि जनता में किसी तरह का तनाव ना हो। निर्देशों के मुताबिक, ्रष्टस् होम राजीव स्वरूप केंद्रीय व राज्य की इंटेलिजेंस एजेंसियों से समन्वय पर नजर रखेंगे और हर आधे घंटे में मुख्यमंत्री को अपडेट दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने हृ॥्रढ्ढ से भी जैसलमेर, बाड़मेर में हृ॥ पर टचडाउन को लेकर जानकारी मांगी, ताकि आपात स्थिति में टचडाउन के लिए ट्रैफिक नियंत्रित हो सके, वहीं उत्तर पश्चिम रेलवे अधिकारियों को भी समन्वय बनाने के निर्देश दिए हैं।