Bikaner Rajasthan

बीकानेर में विस्फोट दो मासूम जख्मी

ओम एक्सप्रेस न्यूज. बीकानेर । मुक्ता प्रसाद कॉलोनी के सैक्टर नंबर ग्यारह में बुधवार सुबह नीजि स्कूल के समीप कचरे में हुए विस्फोट से मौके पर कबाड़ बीनने वाले दो बच्चें गंभीर रूप से घायल हो गये,जिन्हे लहुलुहान हालात में पीबीएम के ट्रेामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। आठ-दस साल की उम्र के यह बच्चे किसी खानाबदोश परिवार के है,इनमें से एक की हालात खासी गंभीर बतायी जा रही है और दोनेां के परिजनों को देर अपरान्ह तक पता नहीं चल पाया था। विस्फोट की सूचना मिलते सीओ सीटी किरण गोदारा,नया शहर थाना प्रभारी बहादूर सिंह पुलिस जाब्ता लेकर मौके पर पहुंच गये और जांच पड़ताल शुरू कर दी। हालांकि पुलिस का मानना है कि यह घटना कचरे में पड़े पटाखों में आग लगने के कारण हुई है लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि विस्फोट इस कदर भंयकर था कि समूची मुक्ता प्रसाद कॉलोनी दहल गई और नजदीक स्थित नीजि स्कूल की खिड़की के कांच और बाथरूम के दरवाजे चटक गये तथा धमाके की आवाज चार-चार किलोमीटर तक सुनाई दी थी। फिलहाल सार्वजनिक स्थान पर हुई विस्फोट की इस घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी और एफएसएल टीम को भी मौके पर बुला लिया।
-नहीं हुए विस्फोट के कारणों का खुलासा
मुक्ता प्रसाद ग्यारह नंबर सैक्टर में कचरा स्थल पर हुए विस्फोट के कारणों का देर अपरान्ह तक किसी प्रकार का खुलासा नहीं हो पाया था,मौके पर जांच पड़ताल में जुटी सीओ सिटी किरण गोदारा ने बताया कि सूचना मिली थी कि मौके पर बम विस्फोट हुआ है लेकिन प्रारंभिक जांच पड़ताल मे पता चला है कि कचरे में पड़े पटाखों में आग लगने से यह विस्फोट हुआ है,इसके अलावा घटना से जुड़े तथ्यों और मौके पर मिले साक्ष्य सबूतों के आधार पर जांच कार्यवाही अभी चल रही है। वहीं सीआई नया शहर बहादूर सिंह ने बताया कि विस्फोट के कारणों का फिलहाल खुलासा नहीं हो पाया है और विस्फोट में जख्मी हुए दोनों बच्चों में से एक की हालत थोड़ी नाजुक है। उन्होने कहा कि घटना की जांच पड़ताल जारी है,लेकिन आंशका है कि यह हादसा बम विस्फोट नहीं बल्कि कचरे में पड़े पटाखों में विस्फोट के कारण हुआ है।

-कायम हो गया दहशत का माहौल
कचरे में भीषण विस्फोट की इस घटना से सैक्टर नंबर ग्यारह में इस कदर दशहत सी फैल गई कि डर के मारे लोग अपने घरों से बाहर आ गये तथा तरह तरह की अफवाहों का माहौल गरम हो गया,किसी ने अफवाह उड़ा दी कि स्कूल में विस्फोट हुआ तो स्कूली बच्चों के अभिभावक सहम गये और बदहवास हालत में स्कूल पहुंच कर बच्चों को संभाला। वहीं मौके के हालातों को देखते हुए स्कूल प्रबंधन ने तमाम बच्चों को सुरक्षा के दायरे में ले लिया और आपात कालीन स्थिति में छुट्टी कर बच्चों को अभिभावकों के साथ उनके घर भेज दिया। विस्फोट से स्कूल के एक क्लाश रूम की खिड़की का कांच चटक गया तथा बाथरूम के दरवाजे भी चटक गये और धमाके से घबराये बच्चे भी बुरी तरह सहम गये।