Bikaner Rajasthan Slider

महिलाओं को लेकर गहलोत की सोच, नारी जाति का अपमान ; वसुन्धरा राजे

लूणकरणसर/खाजूवाला/जयपुर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि मैंने हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जी को झुककर प्रणाम किया तो पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उस पर भी अमर्यादित और असभ्य भाषा में टिप्पणी कर दी। जिस हल्की सोच के साथ उन्होंने एक महिला पर टिप्पणी की, वह सिर्फ मेरा ही नहीं, देश की सम्पूर्ण नारी जाति का अपमान है। मैं महिला हूं इसलिए गहलोत जी ने जो मेरे बारे में कहा उसे मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकती। मैं तो कल्पना भी नहीं कर सकती कि कांग्रेस के नेताओं की महिलाओं के बारे में ऐसी मर्यादाहीन सोच हो सकती है।


मैं महारानी नहीं सेवादारनी मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के नेता मुझे चुनावी लाभ के लिए महारानी कहते है। जबकि हकीकत यह है कि लोकतंत्र में जनता ही महाराजा और महारानी होती है। मैंने तो इस प्रदेश की एक सेवादारनी की तरह सेवा की । मुख्यमंत्री ने कहा कि बड़ों के सामने झुकना हमारी हिन्दू संस्कृति है। हमारे संस्कार भी यहीं हैं कि हम हर बड़े व्यक्ति को सम्मान देने के लिए झुककर प्रणाम करें। इनके पास गिनाने के लिए कोई उपलब्धि नहीं है, इसलिए ये इतने हल्के स्तर तक उतर आए हैं।

मेरे बारें में की गई गहलोत की इस टिप्पणी को लेकर महिलाओं में जबरदस्त गुस्सा है। श्रीमती राजे सोमवार को बीकानेर के नापासर में लूणकरणसर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी श्री सुमित गोदारा तथा छतरगढ़ में खाजूवाला विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी डॉ. विश्वनाथ मेघवाल के समर्थन में चुनावी सभाओं को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कभी प्रधानमंत्री की जाति पूछ रही है तो कभी महिलाओं के लिए अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल कर रही है। कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नही है, इसलिए उसके नेता बौखलाहट में ऐसे अमर्यादित बयान दे रहे हैं।

संगीन अपराधों में कांग्रेस के 3-3 मंत्री जेल गए उन्होंने कहा कि आज ये हमसे कानून व्यवस्था पर सवाल पूछ रहे है। मैं इनसे पूछती हूं कि ये जवाब दे कि क्या इनके 2 मंत्री और 1 विधायक महिलाओं से संबंधित संगीन अपराधों में जेल गए या नहीं? कांग्रेस की पिछली सरकार के समय अपराधी पुलिस महकमें के सबसे बड़े दफ्तर यादगार के सामने 1 व्यक्ति का सर काटकर नरमुण्ड रखकर गए या नहीं? जिस का आज तक पता नहीं चला।
किसानों को नहीं आने दी पानी की कमी मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने इंदिरा गांधी नहर क्षेत्र के किसानों को कभी पानी की कमी नहीं आने दी। सीपेज की समस्या खत्म की । री-लाइनिंग के काम तथा नहरी तंत्र को सुदृढ़ कर टेल क्षेत्र तक पानी पहुंचाया।
दुष्कर्म के मामलों में 9 लोगों को फांसी की सजा श्रीमती राजे ने कहा कि भाजपा सरकार ने प्रदेश की बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए कई क्रांतिकारी योजनाएं बनाकर उन्हें लागू किया। भामाशाह व राजश्री जैसी योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को मजबूती प्रदान की। दुष्कर्मियों को फांसी जैसी सजा का प्रावधान किया। ऐसे मामलों में अब तक 9 लोगों को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है।
कांग्रेस ने जातियों को लड़ाया, हम विकास की लड़ाई लड़ रहे मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने 5 साल में विकास के इतने काम किए हैं जो कांग्रेस अपने 50 साल के शासन में भी नहीं कर पाई। हमने समाज के सभी वर्गों व 36 कौमों को ध्यान में रखकर विकास किया। जबकि कांग्रेस ने जाति, धर्म और क्षेत्र के नाम पर लोगों को आपस में लड़ाया। उन्हें बांट कर शासन किया।


किसानों के हित के लिए उठाए कदम
श्रीमती राजे ने कहा कि सरकार ने बीकानेर क्षेत्र के किसानों को उनके हक का नहर का पानी दिलाया। सरकार ने किसानों का 50 हजार तक का कर्जा माफ किया व उनको निशुल्क बिजली दी। सरकार किसानों के लिए कोल्ड स्टोरेज बनाकर फसल को सुरक्षित रखने की नीति पर काम कर रही है। भण्डारण व्यवस्था से किसान को उचित समय पर अपनी फसल बेचने का अवसर प्राप्त हो सकेगा। उन्होंने कहा कि कृषि के अलावा सरकार ने शिक्षा, चिकित्सा, रोजगार, सड़क व बिजली-पानी जैसे सभी क्षेत्रों में विकास की नई इबारत लिखी है।
युवाओं को दिया रोजगार
श्रीमती राजे ने कहा कि हमने 15 लाख के रोजगार के वादे को निभाया है। 2.50 लाख युवाओं को सरकारी नौकरियां मिल चुकी हैं। एक लाख सरकारी नौकरियां कांग्रेस ने अपनी संकीर्ण सोच की राजनीति के चलते निर्वाचन आयोग को शिकायत कर अटका रखी हैं।(PB)