prasoon-joshi-at-jlf-2020
Jaipur

JLF 2020 | पीएम मोदी की व्यक्तिगत इच्छा कुछ नहीं, वे देश को समर्पित हैंः प्रसून जोशी

OmExpress / Bikaner /  केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष, गीतकार एवं लेखक प्रसून जोशी का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को समर्पित हैं। मोदी हमेशा देश के हित की बात करते हैं, वे सोचते हैं देश को कैसे आगे ले जाया जाए। पीएम मोदी को लेकर जिस तरह से अटैक हो रहे हैं, उनमें गरिमा नहीं है। उन्होंने कहा कि मोदी ने खुद के लिए कुछ नहीं किया, सबकुछ देश के लिए किया है। उन्होंने कहा कि मुझे टॉलरेंस शब्द से समस्या है। JLF 2020 Prasoon Joshi

टॉलरेंस शब्द हमारे देश का नहीं है। इसका मतलब है, बर्दाश्त करना। यह हमारे देश का शब्द नहीं है। हममे तो स्वीकार्यता है। हम बर्दाश्त नहीं करते, स्वीकार करते हैं। हम हर किसी को स्वीकार करते हैं, उसे दिल से लगाते हैं।

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल होने आए प्रसून जोशी ने कहा कि पीएम मोदी ने देश का सम्मान दुनिया में कायम किया है। उन्होंने कहा कि आजकल हर तरफ व्यक्तिगत अटैक किए जा रहे हैँ, जो गलत हैं। सबको अपनी बात कहने का हक है, लेकिन किसी को केंद्र बिंदु बनाकर अटैक करना गलत है। प्रसून जोशी ने कहा कि देश हित के मुद्दों पर आपसी बातचीत होनी चाहिए। मोदी ने देश का पक्ष अंतरराष्ट्रीय मंच पर मजबूती से रखा है। JLF 2020 Prasoon Joshi

RNB Global University

उन्होंने कहा कि देश के लोगों का यह मानना है कि पीएम मोदी ने खुद के लिए फकीर शब्द का उपयोग इसलिए किया, क्योंकि वे खुद के लिए कुछ नहीं करते। देश के लिए करते और सोचते हैं। उनकी व्यक्तिगत इच्छा कुछ भी नहीं है वे देश के लिए समर्पित है। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी में देश भक्ति का जज्बा जगाने का प्रयास होना चाहिए। उन्होंने कहा कि साहित्य के प्रति युवाओं का लगाव बढ़ाने पर काम करना चाहिए।

बाल तस्करी पर लोगों को किया जा रहा जागरूक – JLF 2020 Prasoon Joshi

लिटरेचर फेस्टिवल के आयोजन स्थल डिग्गी पैलेस होटल में बाल तस्करी रोकने और उसके लिए किस तरह के प्रयास हो, इसको लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। बाल तस्करी के खिलाफ काम करने वाले संस्थान मिसिंग लिंक ट्रस्ट की ओर से इस तरह का साहित्य आगंतुकों को उपलब्ध कराया जा रहा है, जिससे वे बाल तस्करी के क्षेत्र में काम करें। ट्रस्ट की चेयरमैन लीना केजरीवाल ने बताया कि लघु फिल्म और कहानियों के माध्यम से जागरूकता के प्रयास किए जा रहे हैं। JLF 2020 Prasoon Joshi