Rajasthan Slider Udaipur

महाराणा प्रताप की जीवनी और उनका इतिहास है अद्भुत : राजनाथ सिंह

Maharana Pratap Stadium Udaipur

उदयपुर । केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत की प्रतिष्ठा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर तेजी से बढ़ी है। आज ग्लोबल डिप्लोमेसी एवं ग्लोबल पॉलिटिक्स में भारत एक केन्द्र बिन्दु के रूप में उभरा है। आज विश्व का कोई भी देश भारत को नजरअंदाज नहीं कर सकता। भारत की इस उभरती ताकत के अनुरूप नौजवानों को अपनी प्रतिभा को निखारना होगा। उन्होंने कहा कि भारत विश्व की सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्था बन गया है।

विलक्षण है महाराणा प्रताप का इतिहास

श्री सिंह ने कहा कि महाराणा प्रताप सभी के लिए प्रेरणास्रोत हैं। उन्होंने कहा कि जब सूरज-चांद रहेगा तब तक प्रताप का नाम रहेगा। महाराणा प्रताप की जीवनी और उनका इतिहास अद्भुत है। उनका इतिहास पढ़कर ही राजस्थान की जीवन शैली को वास्तविक रूप से जाना जा सकता है। मीरा की भक्ति, पन्नाधाय की युक्ति और भामाशाह की सम्पत्ति के सामन्जस्य ने राजस्थान के इतिहास को विलक्षण बना दिया है। स्वाभिमान की रक्षा के लिए मरमिटने वाले प्रताप के महान् योगदान को अविस्मरणीय बनाने के लिए भारत सरकार ने उनकी जयंती को हर साल धूमधाम से मनाने का फैसला किया है।

बिरले शहरों में मिलती है उदयपुर जैसी स्वच्छता

केन्द्रीय गृह मंत्री ने शहर को स्वच्छ रखने के लिए उदयपुर के नागरिकों को बधाई देते हुए कहा कि यह स्वच्छता और सुन्दरता यहां के लोगों में संस्कारों का संदेश देती है। उन्होंने कहा कि बिरले ही ऐसे शहर होते हैं जहां इस तरह की स्वच्छता दिखाई देती है। उन्होंन उम्मीद जताई कि उदयपुर भारत का श्रेष्ठतम शहर बनेगा।

21 जून से शुरू होगी खेल मैदान योजना

श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि प्रदेश की खेल प्रतिभाएं राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर राजस्थान का नाम रोशन कर सकें। इसके लिए राज्य सरकार 21 जून से खेल मैदान योजना शुरू करेगी। श्रीमती राजे ने कहा कि इस योजना से हर ग्राम पंचायत में अच्छे खेल मैदानों का निर्माण होगा और वहां के प्रतिभावान खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण और अभ्यास की सुविधाएं मिल सकेंगी।

श्रीमती राजे बुधवार को उदयपुर के खेल गांव में महाराणा प्रताप इण्डोर स्टेडियम के शिलान्यास समारोह को सम्बोधित कर रही थीं। इससे पहले केन्द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह तथा मुख्यमंत्री ने भूमि पूजन कर स्टेडियम की आधारशिला रखी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि साढ़े चार हजार दर्शक क्षमता के इस मल्टीपरपज इण्डोर स्टेडियम में पहले चरण में लगभग 14 करोड़ रुपये की लागत से अन्तर्राष्ट्रीय मापदण्डों के अनुरूप 9 बैडमिंटन कोर्ट, हैंडबॉल, बास्केटबॉल, नेटबॉल, खो-खो, कबड्डी आदि खेलों से सम्बन्धित कोर्ट बनाये जायेंगे। साथ ही दूसरे चरण में करीब 10 करोड़ की लागत से अन्य खेल सुविधाएं विकसित की जायेंगी।

खेलों में नम्बर वन बनेगा राजस्थान

श्रीमती राजे ने कहा कि पर्यटन और खेल साथ-साथ चलते हैं इसलिए प्रदेश में खेल सुविधाओं का विकास जरूरी है और हमने इस दिशा में प्रयास शुरू कर दिये हैं। उन्होंने कहा कि हमने खेल प्रतिभाओं को तराशने के लिए अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक उपलब्ध करवाने का प्रयास किया है। हमें विश्वास है कि हमारा राजस्थान खेलों में नम्बर वन बनेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है कि प्रदेश के अधिक से अधिक युवा खेलों से जुड़ें, इसके लिए खेल मैदानों का विकास करने और खेल प्रतिभा खोज योजना के माध्यम से प्रतिभावान खिलाड़ियों को उचित अवसर प्रदान करने जैसे महत्वपूर्ण कदम उठाये जा रहे हैं।

पदक विजेता खिलाड़ियों को प्रोत्साहन देने के लिए नीति

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिताओं में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार ने एक नीति बनाई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के प्रयासों से राजस्थान में खेलों के विकास का एक नया युग शुरू हुआ है। हम राजस्थान को खिलाड़ियों का प्रदेश बनाना चाहते हैं। जहां की प्रतिभाएं केवल प्रदेश का ही नहीं देश का भी सिर गर्व से ऊंचा कर सकें।

उदयपुर के कारण दूसरे शहरों में भी दिख रहा बदलाव

मुख्यमंत्री ने उदयपुर को विश्व के सुन्दरतम शहरों की फेहरिस्त में शामिल किये जाने पर उदयपुरवासियों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसा यहां के लोगों की जागरूकता और अपने शहर को स्वच्छ रखने की आदत से ही संभव हुआ है। उन्होंने कहा कि उदयपुर के कारण अन्य शहरों में भी बदलाव दिख रहा है। उन्होंने गृह मंत्री श्री गुलाब चन्द कटारिया से कहा कि उदयपुर शहर तो सुन्दर बन ही गया है यहां के नालों को भी सुन्दर बनाने की दिशा में वे पहल करें।

गृह मंत्री श्री गुलाब चन्द कटारिया ने कहा कि उदयपुर शहर को हम दुनिया का मॉडल शहर और आयड नदी को विश्व की सबसे सुन्दर नदी बनायेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में उदयपुर शहर का अद्वितीय विकास हुआ है।

उद्योग मंत्री श्री गजेन्द्र सिह खींवसर ने कहा कि उदयपुर में बन रहे महाराणा प्रताप इण्डोर खेल स्टेडियम को राजस्थान के सर्वश्रेष्ठ स्टेडियम का रूप दिया जायेगा। उन्होंने स्टेडियम में उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं की भी जानकारी दी। सांसद श्री अर्जुनलाल मीणा ने कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकार की पहल पर उदयपुर एक स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित होने जा रहा है। महापौर श्री चन्द्रसिंह कोठारी ने स्वागत करते हुए कहा कि उदयपुर नगर-निगम मेवाड़ की विरासत और इतिहास को भी अमिट बनाने का प्रयास कर रहा है।

इस अवसर पर सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री जीतमल खांट, राजसीको के अध्यक्ष श्री मेघराज लोहिया, सांसद श्री हरिओम सिंह राठौड़, श्री सी.पी. जोशी, जिला प्रमुख श्री शांतिलाल मेघवाल, विधायक श्री फूलसिंह मीणा, श्री देवेन्द्र कटारा, श्री सुशील कटारा, श्री नानालाल निनामा, श्रीमती अनिता कटारा, प्रमुख शासन सचिव खेल एवं युवा मामलात श्री जे.सी. मोहन्ती सहित अन्य जनप्रतिनिधि, वरिष्ठ अधिकारी तथा बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित थे।