Rajasthan Slider कला एवं साहित्य

‘स्नेहिल’ की अष्ठम काव्य कृति ‘अन्तस की पीड़ा’ का भव्य लोकार्पण  

'स्नेहिल' की अष्ठम काव्य कृति ‘अन्तस की पीड़ा’ का भव्य लोकार्पण  

नाथद्वारा । राजस्थान साहित्यकार परिषद् कांकरोली (राज.) द्वारा रविवार को श्री गोवर्द्धन सीनियर सैकण्डरी स्कूल, नाथद्वारा के हॉल मे डॉ.एम.डी.कनेरिया स्नेहिल की अष्ठम काव्य कृति ‘अन्तस की पीड़ा’ का भव्य लोकार्पण एवं शिक्षा संस्कृति समाजसेवी साहित्य सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि डॉ.भगवती लाल व्यास ने अपने उदगार प्रकट करते हुवे कहा की परिषद् के प्रयास सराहनीय है और कनेरिया द्वारा अल्प समय मे आठ पुस्तको का प्रकाशन करना परिषद् के लिए गौरव की बात है।

अध्यक्षता करते हुए शिक्षाविद् जयदेव गुर्जरगौड़ ने कवि कथाकार को ज्यादा से ज्यादा लिख कर समाज में परिवर्तन लाने में योगदान देना चाहिए। कनेरिया की कृतियां सामाजिक परिवर्तन तथा युवकों को प्रेरणा देने वाली है। वे निरंतर इसी तरह लिखते रहें। इस अवसर पर विशिष्ठ अतिथि कमर मेवाड़ी तथा जयपुर के हरिशंकर शर्मा ने आलेख वाचन कर कृती पर विषेश प्रकाश डाला।

विशिष्ठ अतिथि डॉ.जय प्रकाश पंण्डया ‘ज्योतिपूंज’ डॉ.श्रीकृष्ण ‘जुगनू’ डॉ.नविन नंदवाना ने भी समारोह को सम्बोधित किया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की पूजा अर्चना एव दीप प्रज्वलीत कर किया गया साथ ही छात्रों द्वारा सरस्वती की वन्दना के साथ हुआ।

अतिथियों का स्वागत अभिभाषण संस्था के संरक्षक मधुसूदन पांण्डया ने किया डॉ.कनेरिया ने पुष्प वर्षा कर आगंतुक अतिथियों का अभिनन्दन किया तथा मंचासिन अतिथियों का सम्मान उपरना, पाग, प्रभु छवी, एवं प्रभु प्रसाद सस्था के पदाधिकारियों द्वारा किया गया।

इनका हुआ सम्मान

सम्मानित हस्ताक्षरों का सम्मान मंचासिन अतिथियों द्वारा तिलक, उपरना, पाग, प्रभुछवि, प्रभु प्रसाद, शॉल एवं अभिनन्दन पत्र प्रदान कर नवाजा गया।

कार्यक्रम में नन्दकिशौर निर्झर-चितौड (शिक्षा गौरव सम्मान), लाल दास पर्जन्य-उदयपुर(कला एवं संस्कृति सेवा रत्न सम्मान), दलीचन्द्र जैन-आमेट(समाज सेवा रत्न सम्मान),  दिनेश छाजेड़-रावतभाटा(साहित्य सेवा रत्न सम्मान), रेखा लोढ़ा-भीलवाड़ा(साहित्य सेवा रत्न सम्मान), नीता चौबिसा-बांसवाड़ा(साहित्य सेवा रत्न सम्मान), प्रमीला आर्य-कोटा(साहित्य सेवा रत्न सम्मान), धीरेन्द्र शर्मा-कांकरोली(साहित्य सेवा रत्न सम्मान), शरद् बागोरा-नाथद्वारा(साहित्य सेवा रत्न सम्मान) व पत्रकार ओम दैया-बीकानेर(पत्रकारिता सेवा रत्न सम्मान) से सम्मानित किया गया ।

कार्यक्रम में सभी क्षेत्रों के बडी संख्या में साहित्यकार बंधु एवं विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों की उपस्थिती में राजस्थान साहित्यकार परिषद् के अध्यक्ष डॉ.नगेन्द्र मेहता के नैतृत्व में शॉल, पाग, उपरना, एवं अभिनन्दन पत्र भेट कर डॉ.कनेरिया का अभिनन्दन किया गया। साथ ही भारतविकास परिषद्, शिक्षक संघ, लोक अधिकार मंच, काव्यगोष्ठी मंच कांकरोली, साकेत साहित्य संस्थान आमेट, सामयिकी भीलवाड़ा, शारदा साहित्य मंच रावतभाटा, मीरा संस्था चित्तौड़, युगधारा उदयपुर, साहित्य मंच कोटा, एवं उपस्थित गण मान्य नागरिकों द्वारा डॉ.कनेरिया का भव्य नागरिक अभिनन्दन किया गया।

कार्यक्रम का संयोजन नीना शर्मा, सह संयोजक ज्योत्सना पोखरना तथा आभार प्रदर्शन डॉ.माधव नागदा ने किया।