National Post Day
Bikaner National Slider

राष्ट्रीय डाक सप्ताह के तहत बचत बैंक दिवस का शुभारम्भ

National Post Day
राष्ट्रीय डाक सप्ताह के तहत बचत बैंक दिवस का शुभारम्भ

बीकानेर। डाक विभाग द्वारा राष्ट्रीय डाक सप्ताह के तहत शनिवार को बचत बैंक दिवस के रूप में मनाया गया । इस अवसर पर डाक विभाग द्वारा आनंद निकेतन में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जहाँ राजस्थान पश्चिमी क्षेत्रा जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे।
इस अवसर पर यादव ने कहा कि डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत शहरों के साथ.साथ सुदूर ग्रामीण अंचल स्थित लोगों को भी बचत योजनाओं के तहत लाना है। इसके तहत तमाम गांवों को बचत बैंक ग्राम के तहत आच्छादित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि राजस्थान पश्चिमी क्षेत्रा के डाकघरों में विभिन्न तरह के 76 लाख से अधिक खाते चल रहे हैं। जिसमें बीकानेर के डाकघरों में विभिन्न तरह के 8 लाख 25 हजार खाते चल रहे हैं ।
यादव ने कहा कि डाकघरों को भी अब कोर बैंकिंग सोल्यूशन (सीबीएस) से जोड़ा जा रहा है, जिससे ग्रामीण स्तर पर भी बैंकिंग क्षेत्रों में क्रान्तिकारी कदम का सूत्रापात होगा। राजस्थान पश्चिमी क्षेत्रा में 564 विभागीय डाकघरों में से 303 डाकघरों को सीबीएस से जोड़ा जा चुका है। वही बीकानेर के 46 डाकघरों में से 22 डाकघरों को सीबीएस से जोडा जा चुका है और शेष डाकघरों को भी शीघ्र ही जोड दिया जायेगा। अब देश भर के सीबीएस डाकघरों से किसी अन्य सीबीएस डाकघर का पैसा निकाला और जमा किया जा सकता है। बीकानेर प्रधान डाकघर में एटीएम भी स्थापित किया गया है। आने वाले दिनों में डाकघरों के खाताधारक नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग जैसी सुविधाओं का लाभ भी उठा सकेगे ।
तमाम बचत योजनाओं के बारे में बताते हुए डाक निदेशक ने सुकन्या समृद्धि योजना से 10 वर्ष तक की हर योग्य बालिका को जोड़ ने पर भी जोर दिया। बेटियों की उच्च शिक्षाए कैरियर और उनके विवाह में सुविधा के लिए डाकघरों में आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 1000 और अधिकतम डेढ़ लाख रूपये तक जमा किये जा सकते हैं । इस योजना में खाता खोलने से मात्रा 14 वर्ष तक धन जमा कराना होगा। इस पर सरकार ने ब्याज 9.1 से बढाकर 9.2 प्रतिशत कर दिया है और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्राविधान है।

बीकानेर मंडल के डाक अधीक्षक श्री एस. एस. शेखावत ने कहा कि डाकघरों में निवेश की तमाम योजनायें हैं ,जिनमें बचत खाताए आवर्ती जमाए सावधि जमाए मासिक आय योजनाए पी पी एफ, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम एवं राष्ट्रीय बचत पत्रा व किसान विकास पत्रा में निवेश किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि डाकघरों की बचत योजनाओं में ब्याज दर अन्य संस्थानों की अपेक्षा बेहतर है और जमा धन भी पूर्णतया सुरक्षित है। इस मौके पर कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि श्रीमती अलका डोली पाठक ने कहा कि आज भी डाकघरों की बचत योजनाएं सर्वाधिक लोकप्रिय हैं और इनमें लोग पीढ़ी दर पीढ़ी पैसे जमा करते है।
बचत बैंक शिविर अवसर पर बीकानेर के डाकघरों में 2500 खाते खोले गए । इस अवसर पर डाक निदेशक यादव ने तमाम लोगो को खातों की पासबुक सौंप करके उनके समृद्ध भविष्य की कामना की। सहायक अधीक्षक बी॰आर॰ भीरानियाँ आभार व्यक्त किया । कार्यक्रम का संचालन श्री अशफा कादरी किया । इस अवसर पर प्रधान डाकपाल बीकानेर ए के चुघ, सहायक अधीक्षक पुखराज राठौड़, क्षेत्राीय कार्यालय जोधपुरए एस॰ आर॰ खत्राी, आदि उपस्थित थे।