Pak plotting Dreadful Conspiracy Against India
International Slider

पाकिस्तानी सेना, आईएसआई और आतंकवादी संगठन रच रहे भारत के खिलाफ खौफनाक साजिश

synthesis instituteOmExpress News / New Delhi / भारत के खिलाफ पाकिस्तान के एक और नापाक इरादे का पर्दाफाश हो गया है। पाकिस्तानी कब्जे वाली कश्मीर की सरकार की ओर से जारी एक नोटिफिकेशन की कॉपी से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान में बैठी इमरान खान की सरकार के नाक के नीचे पाकिस्तानी सेना, आईएसआई और आतंकवादी संगठन भारत के खिलाफ कितनी खौफनाक साजिश रच रहे हैं। इस नोटिफिकेशन में लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) के आसपास रहने वाले नागरिकों को हथियारों की सप्लाई की खुली मंजूरी दी गई है। Dreadful Conspiracy Against India

भारत के खिलाफ ‘खुली’ जंग का नोटिफिकेशन

वन इंडिया के हाथ लगा पीओके सरकार का नोटिफिकेशन पाकिस्तान के खौफनाक इरादों की पोल खोल रहा है। इसमें पीओके सरकार यानि पाकिस्तान की कब्जे वाली कश्मीर की सरकार, जो पाकिस्तानी हुक्कमरानों के मातहत काम करती है; उसने एलओसी के आसपास रहने वाले आम नागरिकों को हथियारों की सप्लाई करने की मंजूरी दी है।

 

इस नोटिफिकेशन में नागरिकों के हथियारों की लाइसेंस के रिन्युअल की भी मंजूरी दी गई है। यह नोटिफिकेशन एलओसी के 5 किलोमीटर के दायरे में रहने वाले लोगों के लिए है, जिसका मतलब ये है कि पाकिस्तान सरकार भारत के खिलाफ हिंसा भड़काने के लिए अब पीओके के नागरिकों को ही हथियार बनाना चाहती है। Dreadful Conspiracy Against India

क्या 1947-48 दोहराना चाह रहा है पाक ?

गौरतलब है कि आजादी के बाद जब पाकिस्तान की हरकतों को भांपकर जम्मू-कश्मीर रियासत के राजा हरि सिंह ने भारत में विलय का ऐलान कर दिया था, तब भी उसने इसी तरह से कबायलियों को हथियार थमाकर (जिसमें उसकी सेना भी थी) श्रीनगर की ओर रवाना करने की कोशिश की थी। जब, जम्मू-कश्मीर के भारत में औपचारिक विलय की घोषणा कर दी गई, तब भारतीय सेना ने कबायलियों का रूप लेकर आ रहे पाकिस्तानियों (पाकिस्तानी सेना) को खदेड़ना शुरू किया था। Dreadful Conspiracy Against India

तालिबानी आतंकी भी पीओके में मौजूद : रिपोर्ट

इस बीच ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि एलओसी से घुसपैठ करने की कोशिशों में लगे आतंकवादियों को भारत की ओर से निशाना बनाए जाने के चलते आईएसआई, पाकिस्तानी सेना और बोर्डर ऐक्शन फोर्स (बीएटी) ही परेशान नहीं हैं, लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठन भी विचलित हो उठे हैं। ऐसी भी मीडिया रिपोर्ट्स हैं कि अब भारत में हमले करवाने के लिए पीओके में एलओसी के पास जैश-ए-मोहम्मद तालिबान के आतंकी सरगनाओं की भी भर्ती कर रहा है।Dreadful Conspiracy Against India

synthesis bikaner

भारतीय ठिकानों पर हमले की फ़िराक में आतंकी

इन तालिबानी आतंकियों को पाकिस्तान में मौजूद आतंकी संगठन अत्याधुनिक हथियारों के साथ भारतीय ठिकानों पर हमले करने के लिए घुसपैठ कराने की फिराक में लगे हुए हैं। पिछले 14 दिनों से एलओसी पर पाकिस्तानी सेना द्वारा भड़काऊ फायरिंग को घुसपैठ की इन्हीं कोशिशों से जोड़कर देखा जा रहा है। आशंका है कि कुछ फिदायीन दक्षिण कश्मीर के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में प्रवेश कर भी चुके हैं।