National Rajasthan Slider Udaipur

प्रधानमंत्री ने किया15 हजार 100 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास

प्रधानमंत्री ने किया15 हजार 100 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास
उदयपुर । वीर भूमि मेवाड़ से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को जब 15 हजार 100 करोड़ रुपये की सड़क विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया तो राजस्थान की विकास यात्रा में एक सुनहरा अध्याय जुड़ गया। उदयपुर के खेल गांव में आयोजित समारोह में प्रधानमंत्री ने एक साथ इतने विकास कार्यों के लोकार्पण और शिलान्यास को राजस्थान के इतिहास की अद्भुत घटना बताया और कहा कि जो शिलान्यास आज हुए हैं वे कार्य निर्धारित समय में पूरे होंगे और राजस्थान की कायापलट होकर रहेगी।
प्रधानमंत्री ने कोटा में चम्बल नदी पर बने 6 लेन केबल हैंगिंग ब्रिज, गोमती चौराहा से उदयपुर 4 लेन, राजसमंद-भीलवाड़ा 4 लेन सहित राष्ट्रीय राजमार्गों की कुल 5 हजार 610 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण किया। समारोह में प्रधानमंत्री ने 1668 करोड़ की लागत से बनने वाले जयपुर के रिंग रोड, 1249 करोड़ रुपये की लागत के बर-बिलाड़ा-जोधपुर राष्ट्रीय राजमार्ग के 4 लेन कार्य सहित 9 हजार 490 करोड़ की राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी।
15 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट खोलेंगे राजस्थान का भाग्य
प्रधानमंत्री ने कहा कि 15 हजार करोड़ से ज्यादा के प्रोजेक्ट राजस्थान के भाग्य के दरवाजे खोल देंगे। उन्होंने कहा कि 5 हजार 600 करोड़ के प्रोजेक्ट मात्र 3 साल में पूरे करके हमारी सरकार ने आज इसका लोकार्पण भी कर दिया। आने वाले दिनों में 9500 करोड़ के नेशनल हाइवे के काम अकेले राजस्थान में होंगे। उन्होंने कहा कि अक्सर योजनाएं शुरू हो जाती है लेकिन उनके अटकने से उनकी लागत बढ़ती जाती है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। हम जो योजनाएं शुरू करेंगे उन्हें समय पर पूरा भी करेंगे।
जीएसटी से प्रदेश को होगा फायदा
प्रधानमंत्री ने जीएसटी को व्यवस्था में बदलाव का सबसे बड़ा उदाहरण बताते हुए कहा कि देशवासियों ने इसके जरिए पूरी दुनिया के सामने एक अद्भुत मॉडल पेश किया है। उन्होंने कहा कि जीएसटी से राजस्थान की आय बढ़ेगी और सरकार गरीबों की भलाई के लिए और अधिक पैसा खर्च कर सकेगी।
समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने राजस्थान के विकास में आगे बढ़कर सहयोग करने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार एक नये भारत का निर्माण कर रही है। उनकी दूरगामी सोच और मजबूत इरादों से हमारा देश विश्व शक्ति के रूप में उभरा है। टीम इंडिया के महत्वपूर्ण हिस्से के रूप में टीम राजस्थान एक ऐसा सशक्त और समर्थ राजस्थान बना रही है जिसमें हर वर्ग खुशहाल हो।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में शिक्षा के वातावरण को बदला है। महिलाओं, युवाओं, किसानों, गांव और गरीब सहित समाज के हर वर्ग को केन्द्र में रखते हुए ऐसी योजनाएं क्रियान्वित की हैं, जिसका लाभ पूरे प्रदेश को मिला है। मुख्यमंत्री ने भामाशाह एवं भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, राजश्री योजना, स्किल डवलपमेंट, ग्राम, राजस्थान फेस्टिवल ऑफ एजूकेशन, शिक्षा के क्षेत्र में हुए सुधारों, डिजिफेस्ट सहित अन्य योजनाओं, कार्यक्रमों एवं गतिविधियों का उल्लेख करते हुए राजस्थान में हुए ऐतिहासिक बदलावों की जानकारी दी। उन्होंने राजस्थान के सड़क तंत्र को मजबूत करने में सहयोग के लिए केन्द्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी को धन्यवाद दिया।
3 साल में दुगुने हुए राष्ट्रीय राजमार्ग : गडकरी
केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा कि राजस्थान में बीते तीन साल में नेशनल हाइवे से संबंधित जितने काम हुए हैं उतने 50 सालों में भी नहीं हुए थे। प्रदेश में पहले मात्र 35 राष्ट्रीय राजमार्ग थे जो अब दोगुने से भी अधिक बढ़कर 85 हो गए हैं। पिछले तीन सालों में हमने 10 हजार 430 करोड़ रुपये की 44 बड़ी परियोजनाओं का काम पूरा किया है।
गृह मंत्री श्री गुलाब चंद कटारिया ने कार्यक्रम की शुरूआत में प्रधानमंत्री एवं अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए बताया कि पिछले 3 सालों में मेवाड़ को 3300 करोड़ रुपये की सौगातें मिली हैं।
ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर राज्यपाल श्री कल्याण सिंह, केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री श्री अर्जुनराम मेघवाल, केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री श्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, केन्द्रीय विधि एवं न्याय राज्य मंत्री श्री पी.पी. चौधरी, केन्द्रीय खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री श्री सी.आर. चौधरी, प्रदेश के जनजाति क्षेत्र विकास मंत्री श्री नंदलाल मीणा, सार्वजनिक निर्माण मंत्री श्री यूनुस खान, उच्च शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी, नगरीय विकास मंत्री श्री श्रीचंद कृपलानी, ग्रामीण विकास राज्यमंत्री श्री धनसिंह रावत, पीएचईडी राज्यमंत्री श्री सुशील कटारा सहित राज्य मंत्री परिषद के सदस्य, सांसद श्री अर्जुन लाल मीणा, श्री सी.पी. जोशी, श्री हरिओम सिंह राठौड़ सहित बड़ी संख्या में अन्य जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।