Jaipur Rajasthan Slider

2022 में जैन संतो के डिजिटल कुम्भ की तैयारी शुरू : विनायक लुनिया

उज्जैन। जैन पर्व पर्युषण के द्वितीय चरण (दशलक्षण) पर जैन मीडिया सोशल वेलफेयर सोसाइटी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनायक अशोक लुनिया ने घोषणा करते हुए कहा की जैन समाज के तीर्थो को कैसे सुरक्षित किया जाए, आर्थिक रूप से कमजोर भाई – बहन को आर्थिक संरक्षण देकर कैसे मजबूत किया जाए, जैन समाज की लड़कियों को अन्य धर्म मे जाने से कैसे रोका जाए, जैन धर्म का अपना स्कूल – कॉलेज, हॉस्पिटल, एवं उद्योग का निर्माण कर समाज के युवाओं को कैसे मजबूत किया जाए। ऐसे 100 से अधिक मुद्दों पर होगा चर्चा।

घोषणा के बाद एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए लुनिया ने कहा कि हम समाज के 50 संतों के मार्गदर्शन में ऐसे डिजिटल धर्म कुम्भ का आयोजन करने जा रहे है जिसमे देश भर के सकल जैन संतो को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कुम्भ का हिस्सा बनाया जाएगा।

डिजिटल कुम्भ क्यों- लुनिया ने बताया कि जैन संत पैदल विचरण करते है और एक स्थान पर सभी संतो का पहुंच पाना काफी जटिल है। इस कारण से संतो को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जोड़ा जाएगा।
एक माह का होगा यह कुम्भ- लुनिया ने आगे बताया की उक्त कुम्भ 4 चरणों मे एक माह तक संचालित किया जाएगा।
1000 से अधिक वीडियो कैमरा व स्क्रीन की होगी आवश्यकता – लुनिया के अनुसार समस्त संतो को एक साथ कॉन्फ्रेंस से जोडऩे के लिए देश भर में 1000 से अधिक कैमरे और वीडियो स्क्रीन की जरूरत पड़ेगी।

देश भर में यह कुंभ बनेगा मिशाल -लुनिया के अनुसार उक्त कुम्भ देश भर में जैन समाज के लिए एक मिशाल साबित होगा।
अंतराष्ट्रीय शास्त्रीय कलाकारों के माध्यम से आयोजन कर किया जायेगा प्रचार- लुनिया के अनुसार उक्त कॉन्फ्रेंस के प्रचार प्रसार लिए अंतराष्ट्र्रीय स्तर पर शास्त्रीय संगीतकारों की टीम द्वारा नवकार भक्ति कर समाज में जनजागृति लाने का कार्य किया जाएगा।
समाज के हर वर्ग को करेंगे इसके लिए सक्रिय-लुनिया ने कहा कि हम समाज के हर वर्ग को इसके लिए सक्रिय करेंगे।

संगठन की सदस्य्ता हुए निशुल्क- राष्ट्रिय अध्यक्ष श्री लुनिया ने घोषणा करते हुए बताया की जैन मीडिया सोशल वेलफेयर सोसाइटी की साधारण सदस्य्ता निशुल्क किया जा रहा है जिससे देश भर के समाजजन ज्यादा से ज्यादा तादात में संघ से जुड़ सके.
सिर्फ एक ऑनलाइन फॉर्म भर ले सकेंगे सदस्य्ता-लुनिया ने बताया की जैन प्रेस क्लब की वेबसाइट पर जाकर सदस्य्ता फॉर्म भर के निशुल्क सदस्य्ता ग्रहण किया जा सकता है.