Bikaner Rajasthan Slider

संस्कार निर्माण समाज की प्राथमिकता हो : आर के सेठिया

बीकानेर। आत्म वल्लभ जैन पाठशाला बीकानेर द्वारा आयोजित प्रथम जैन दर्शन संस्कार शिविर का समापन एवं बहुमान समारोह कोठारी मोहल्ला स्थित महावीर भवन में जि़ला उद्योग संघ के महाप्रबंधक राजेंद्र सेठिया के मुख्य आतिथ्य एवं प्रो.सुमेरचंद जैन व प्रबुद्ध समाजसेवी वल्लभ कोचर के आतिथ्य में जैन समाज के गणमान्य व प्रबुद्ध नागरिकों की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।
विभिन्न प्रतियोगिताओं में अव्वल रहने वाले शिविरार्थियों को पारितोषिक प्रदान किये गये । समारोह का आगाज नवकार महामंत्र एवं गुरु वल्लभ गुणानुवाद के साथ हुआ।


इस अवसर पर राजेंद्र सेठिया ने कहा कि इस प्रकार के शिविरों से बच्चों में संस्कारों का अंकुरण होता है और बच्चे जीवन के व्यवहारिक आचरण को सीखते है । जो बच्चों के भावी जीवन के लिए अनिवार्य होते है तथा शिविरों में सहभागी बनने एवं शिविर में सिखाये जाने वाले ज्ञान को आत्मसात कर जीवन को उन्नत बनाया जा सकता है। लॉयन्स क्लब के पूर्व प्रांतपाल प्रो सुमेरचंद जैन ने जीवन को क्रोध मुक्त होने के बारह सूत्र बताते हुए बालक बालिकाओं को अहंकार मुक्त जीवन की प्रेरणा दी। समाजसेवी एवं किसान नेता वल्लभ कोचर ने वर्तमान में धर्म के प्रायोगिक महत्व को बताते हुए कहा ऐसे शिविर प्रतिवर्ष लगने चाहिए।


समारोह में विकास सिरोहिया ने स्वागत भाषण देते हुए आगन्तुक मेहमानों का स्वागत किया। शिविर के संचालक पंडितवर्य कल्पेश भाई अहमदाबाद,जिगर गुरु जी,शिक्षिकाएं अस्वनि कोचर,ख़ुशबू सेठिया,पूजा कोचर का पाठशाला की ओर से बहुमान किया गया। पाठशाला की ओर से सुमित कोचर ने शिविर को सफल बनाने में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से सहयोग देने वाले सभी महानुभावों का सहृदय से आभार व्यक्त किया।