RNGBU Moot Court Competition
Bikaner

RNGBU : नेशनल मूट कोर्ट कंपटीशन 2020 के फाइनल का आयोजन

OmExpress News / Bikaner / सेठ जगन्नाथ बजाज मेमोरियल आर एन बी जी यू नेशनल मूट कोर्ट कंपटीशन 2020 के फाइनल का आयोजन किया गया । 3 दिन तक चले इस कंपटीशन में पूरे भारत से कुल 17 टीमों ने भाग लिया । RNGBU Moot Court Competition

सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ बिहार गया , सिंबायोसिस लॉ कॉलेज, पुणे, यू एल आई एस यूनिवर्सिटी ,देहरादून ,राजीव गांधी नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी पटियाला, पंजाब ,सिंबायोसिस लॉ स्कूल, हैदराबाद ,जय नारायण व्यास यूनिवर्सिटी जोधपुर ,क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बेंगलुरू ,सस्त्र यूनिवर्सिटी थंजावुर ,ठाकुर रामनारायणन कॉलेज ऑफ लॉ ,दहिसर मुंबई ,राजस्थान कॉलेज ऑफ लॉ ,कानोरिया कॉलेज केंपस ,जयपुर ,यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज देहरादून ,चाणक्य नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी पटना ,बिहार, लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी ,जालंधर ,जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी, जयपुर ने प्रतिस्पर्धा में उत्साह पूर्ण तरीके से भाग लिया ।

Sarvadharm Samuhik Vivah

कुल 17 टीमों में से 4 टीम ने सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई किया ।सेमीफाइनल में इक्फ़ाई यूनिवर्सिटी , देहरादून ,सिंबायोसिस लॉ स्कूल हैदराबाद, सस्त्र यूनिवर्सिटी, थंजावुर और क्राइस्ट यूनिवर्सिटी ,बेंगलुरु स्थान पाने में कामयाब रहे । RNGBU Moot Court Competition

कार्यक्रम में राजस्थान यूनिवर्सिटी के कई असिस्टेंट प्रोफेसर व प्रोफेसर स्कोर जज के रूप में आमंत्रित किया गया था जिसमें श्रीमती आरती शर्मा श्रीमती दीक्षा शर्मा श्रीमती पूनम विश्नोई डॉक्टर वीनू राजपुरोहित डॉ नमिता जैन डॉक्टर किरण राज श्रीमती राखी शर्मा श्रीमती अलकनंदा राजावत और डॉक्टर प्रियंका जोशी शामिल थे ।

समस्त जजों ने टीमों के सदस्यों से मूट प्रॉब्लम से संबंधित कई सवाल किए और प्रतिभागियों ने उन सवालों का सफलतापूर्वक जवाब दिया । विभिन्न कसौटियों पर प्रतिभागियों की अधिवक्ता कला का परीक्षण किया गया और फाइनल में कुल 8 न्यायाधीशों की बेंच ने एकमत से क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बेंगलुरू की टीम को विजेता घोषित किया ।

सर्वश्रेष्ठ मेमोरियल सस्त्र यूनिवर्सिटी थंजावुर, रौतेला बेस्ट रिसर्चर व सर्वश्रेष्ठ वक्ता हैदराबाद की सुरभि श्रीनिवासन

कार्यक्रम में सर्वश्रेष्ठ मेमोरियल का खिताब सस्त्र यूनिवर्सिटी थंजावुर को मिला ,वहीं सर्वश्रेष्ठ शोध करने के लिए चाणक्य नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी पटना बिहार के करण सिंह रौतेला को बेस्ट रिसर्चर का इनाम दिया गया । इनाम के रूप में विजेता टीम को कुल ₹21000 नकद प्रमाण पत्र व ट्रॉफी दी गई ,वहीं उपविजेता टीम को ₹11000 नकद प्रमाण पत्र तथा ट्रॉफी दी गई ।सर्वश्रेष्ठ वक्ता के रूप में सिंबायोसिस लॉ स्कूल हैदराबाद की सुरभि श्रीनिवासन को चुना गया उन्हें नकद पुरस्कार के साथ-साथ प्रमाण पत्र तथा ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया । RNGBU Moot Court Competition

Mannat Garden & Swimming Pool Bikaner

पारितोषिक वितरण समारोह के मुख्य अतिथि राजस्थान हाई कोर्ट के जस्टिस माणक थे जस्टिस मोहता ने सभी प्रतिभागियों को इस प्रतिस्पर्धा में शामिल होने के लिए बधाई दी उन्होंने विजेता और उपविजेता टीमों तथा अन्य विजेताओं को भी बधाई दी । वही विशिष्ट अतिथि के रूप में बीकानेर के जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री मदन लाल भाटी उपस्थित थे उन्होंने प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया । RNGBU Moot Court Competition

जस्टिस माणक मोहता ने संविधान के अनुच्छेद 20 में दिए गए दोहरे दंड के विरुद्ध संरक्षण की व्याख्या करते हुए हाईकोर्ट के उनके कार्यकाल के दौरान आए एक दाण्डिक मुकदमे का उल्लेख किया जिसमें एक व्यक्ति को हत्या के आरोप में दोष सिद्ध किया गया और न्यायालय द्वारा कारावास से दंडित किया गया उसके उपरांत भी समाज में दंड आदेश भुगतने के बाद उस व्यक्ति की स्थिति दयनीय थी ।

इस और भी उन्होंने भावी अधिवक्ताओं को ध्यान देने का आग्रह किया ,ताकि उस व्यक्ति का सामाजिक पुनर्वास भी संभव हो सके । वहीं जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री मदन लाल भाटी ने रील तथा रियल लाइफ के अंतर को समझने का आग्रह किया और विद्यार्थी जीवन में अपने गुरुजनों का सम्मान करके उनसे अधिकाधिक ज्ञान प्राप्त करने का आह्वान भी किया ।