Rohtak News 1 September
Haryana Rohtak Slider

रोहतक सार सामाचार : रविवार, 1 सितम्बर 2019

हुड्डा की तरह सीएम मनोहर लाल ने भी प्लॉट आवंटन में किया घोटाला, करवाएं जांच : दुष्यंत चौटाला

अनूप कुमार सैनी / चंडीगढ़ / पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा की तरह मौजूदा सीएम मनोहर लाल भी एचएसवीपी में घोटाला कर रहे हैं। चंडीगढ़ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जननायक जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने यह आरोप लगाते हुए कहा कि पानीपत में जमीन अधिग्रहण के बदले दिए जाने वाले प्लॉट्स के एक मामले में सीएम मनोहर लाल की मंजूरी से करोड़ों रुपये की गड़बड़ी हुई है। प्रॉपर्टी डीलर्स की मिलीभगत से 6 लोगों को तीन गुना कीमत वाले प्लॉट दिए गए हैं। Rohtak News 1 September

उन्होंने कहा कि कमला देवी नाम की महिला ने पानीपत के सेक्टर-18 में प्लॉट लिए आवेदन किया था लेकिन सीएम मनोहर लाल की मंजूरी के बाद पानीपत के महंगे सेक्टर-12 में 6 आवेदकों को प्लॉट अलॉट किए गए। उन्होंने कहा कि कमला देवी को लगभग 1 करोड़ 67 लाख का फायदा पहुंचाया गया है।

दुष्यंत ने सरकारी रिकॉर्ड के हिसाब से बताया कि सेक्टर-18 में एक गज जमीन का रेट 23 हजार है जबकि सेक्टर-12 में 63 हजार रुपये रेट है। सरकार द्वारा आवेदकों की जमीन अधिग्रहित किए जाने के बाद वे सरकारी सेक्टर में प्लॉट पाने के हकदार हो गए थे।

पूर्व सांसद ने कहा कि ये तो सिर्फ पानीपत के 6 मामले सामने आए है जिनमें करोड़ों का घोटाला सरकार ने किया है। उन्होंने हैरानी जताते हुए कहा कि हमने करीब दो महीने पहले आरटीआई के माध्यम से सरकार से मांग से की थी कि जिस दिन जमीन अलॉटमेंट हुई उस दिन की वीडियो मुहैया करवाई जाए लेकिन अब तक सरकार की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है।

दुष्यंत चौटाला का कहना था कि इसका मतलब ये है कि बड़े प्रोपर्टी डीलर और एचएसवीपी के चैयरमेन खुद सीएम मनोहर में सांठगांठ है।

दर्जनों सरपंचों, नंबरदारों समेत कांग्रेस-इनेलो के नेताओं ने थामा जेजेपी का दामन

दर्जनों सरपंचों, नंबरदारों समेत कांग्रेस-इनेलो के कई नेताओं ने अपने साथियों के साथ इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जननायक जनता पार्टी में शामिल होने की घोषणा की।

असंध विधानसभा (जिला करनाल) के बालू गांव के सरपंच गुरलाल सिंह ने अपने दर्जनों सरपंचों व नंबरदारों के साथ पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला व प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह की मौजूदगी में जजपा का दामन थामा।

17th National Conference

इस दौरान दुष्यंत चौटाला ने सभी का पार्टी में स्वागत करते हुए कहा कि जेजेपी में शामिल हुए सभी नए साथियों को पूरा मान-सम्मान मिलेगा। सरपंच गुरलाल सिंह के साथ शामिल होने वालों में सरपंच सूरजमल, गुलजार सिंह, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह, कृष्ण सिंह, राजेंद्र, बलवंत सिंह, पंजाब सिंह, जोधवीर सिंह, मालिक सिंह बालू, बलकार सिंह, प्रवीन नंबरदार, दलेर सिंह के नाम शामिल है।

इस दौरान कांग्रेस और इनेलो पार्टी को छोड़कर भी कई नेताओं ने जेजेपी में शामिल होने की घोषणा की। इनमें इनेलो अनुशासन समिति के पूर्व चेयरमैन व रिटायर्ड डीएसपी आशा सिंह, लोहरू हलके में कई वर्षो से कांग्रेस के युवा प्रधान रहे प्रदीप रोहिल्ला और कैथल जिले से इनेलो नेता संदीप गढ़ी अपने करीब 500 साथियों के साथ जेजेपी में शामिल हुए। इनके अलावा अंबाला कैंट से इनेलो के पूर्व हलका सचिव मदन राणा, मोहन राणा, क्रांगेस नेता शशी शर्मा, सरदार कुलविंद्र सिंह ने भी जेजेपी में शामिल होने की घोषणा की।

इस अवसर पर बीएसपी के प्रदेशाध्यक्ष प्रकाश भारती, जेजेपी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव डॉ. केसी बांगड़, जेजेपी प्रदेश कार्यालय सचिव रणधीर सिंह, जेजेपी वरिष्ठ महिला नेत्री कुसुम शेरवाल समेत जेजेपी-बीएसपी के कई नेता एवं कार्यकर्त्ता मौजूद रहे। Rohtak News 1 September

मनजीत सिंह कलसन बने बसपा के जिलाध्यक्ष

हर्षित सैनी / रोहतक / बहुजन समाज पार्टी की एक आवश्यक बैठक स्थानीय प्रदेश कार्यालय स्थित चिन्योट कॉलोनी में प्रदेश प्रभारी सी.पी. सिंह व प्रदेश प्रभारी डॉ. महेश कुमार की अध्यक्षता में हुई।

इस बैठक में मनजीत सिंह कलसन को जिलाध्यक्ष, कैप्टन राम मेहर तथा अड़ीचन्द निम्बडिय़ा को रोहतक लोकसभा प्रभारी नियुक्त किया गया। यह जानकारी देते हुए प्रदेश कार्यालय सचिव रमेश कुमार ने बताया कि पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में अहम भूमिका अदा करेगी। जिसके तहत पार्टी संगठन में व्यापक स्तर पर बदलाव किए जा रहे हैं और ये नियुक्तियां इसी का हिस्सा हैं।

रोड़वेज कर्मियों की 8 सितम्बर की करनाल रैली को सफल बनाने हेतु एक दर्जन टीमों का गठन

हजारों रोड़वेज कर्मचारी 8 सितम्बर को करनाल रैली में भाग लेंगे। केन्द्रीय कमेटी बैठक में रैली की तैयारी में एक दर्जन टीमों का गठन किया। परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के समक्ष 3 सितम्बर को होने वाली बातचीत में किलोमीटर स्कीम रद्द करने व लम्बित मांगों को रखा जाएगा।

हरियाणा रोड़वेज वर्कर्स यूनियन सम्बन्धित सर्व कर्मचारी संघ की केन्द्रीय कमेटी की बैठक आज यहां कर्मचारी भवन में राज्य उप प्रधान सुमेर सिवाच की अध्यक्षता में हुई। बैठक में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर 8 सितम्बर को करनाल में होने वाली राज्य स्तरीय आक्रोश रैली में भाग लेने व हरियाणा रोड़वेज कर्मचारी तालमेल कमेटी के आह्वान पर प्रस्तावित 22 सितम्बर को इसराणा में नागरिक सम्मेलन में भाग लेने की ठोस योजना बनाई गई।

बैठक के बाद हरियाणा रोड़वेज वर्कर्स यूनियन के प्रदेश महासचिव सरबत सिंह पूनिया ने कहा किलोमीटर स्कीम के तहत प्राइवेट बसें ठेके पर लेने से विभाग को भारी घाटा होगा तथा रोजगार के अवसर समाप्त हो जाएंगे। उन्होंने कहा रोड़वेज कर्मचारियों द्वारा किलोमीटर स्कीम रद्द करने व विभाग में 14 हजार सरकारी बसें शामिल करने की मांग को लेकर 16 अक्तूबर से 2 नवम्बर, 2018 तक 18 दिन हड़ताल करने के अलावा धरनें,प्रदर्शन व परिवहन मंत्री के आवास का घेराव किया गया।ताकि प्रदेश की जनता को बेहतर व सुरक्षित परिवहन सेवा मिलने के साथ 84 हजार बेरोजगारों को स्थाई रोजगार मिल सकें।

कर्मचारी नेताओं का कहना था कि 510 प्राइवेट बसों के टेंडर रेट व 190 बसों के टेंडर रेटों में भारी अन्तर आया है। जिसमें भारी घोटाले की आशंका के चलते तालमेल कमेटी द्वारा किलोमीटर स्कीम की जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज की देखरेख में सी बी आई से करवाने की तथा किलोमीटर स्कीम रद्द करने की मांग की गई। Rohtak News 1 September

उन्होंने बताया कि सरकार व उच्च अधिकारियों के साथ बार-बार हुई बातचीत में सरकार की तरफ से कहा गया था कि अगर 190 बसों के टेंडर रेट कम आए तो किलोमीटर स्कीम रद्द कर दी जाएगी। 510 प्राइवेट बसों के टेंडर रेट अधिकतम 37 रुपए 30 पैसे तथा 190 बसों के टेंडर रेट अधिकतम 21 रुपए आने पर घोटाले के सबूत पुख्ता हो गए।

कर्मचारी नेताओं ने आरोप लगाते हुए बताया कि सरकार द्वारा किलोमीटर स्कीम की जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज की देखरेख में सी बी आई से करवाने की बजाए विजिलेंस द्वारा करवाई गई। विजिलेंस जांच में भी किलोमीटर स्कीम में घोटाला साबित हो गया व विजिलेंस द्वारा घोटाले में शामिल अधिकारियों व ट्रांसपोर्टरों के खिलाफ कार्रवाई करने की सिफारिश जांच रिपोर्ट में की गई है।

उन्होंने कहा किलोमीटर स्कीम प्रक्रिया में शामिल मुख्य मन्त्री, परिवहन मंत्री व अतिरिक्त मुख्य सचिव परिवहन विभाग के खिलाफ कार्रवाई नहीं करके केवल कुछ छोटे अधिकारियों पर कार्रवाई शुरू की गई। किलोमीटर स्कीम में घोटाला साबित होने के बाद मुख्य मन्त्री द्वारा 510 बसों के टेंडर रद्द करने का निर्णय लिया गया परन्तु किलोमीटर स्कीम में लगभग 900 करोड़ के हुए घोटाले के बाद भी किलोमीटर स्कीम रद्द करने से मना किया गया।

कर्मचारी नेताओं ने आरोप लगाया है कि योजनाबद्ध तरीके से चुनिन्दा साहूकार लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए प्राइवेट बसों के टेंडर महंगे रेट पर छोड़े गए। रोड़वेज कर्मचारियों द्वारा किलोमीटर स्कीम का विरोध किया गया तो अलोकतान्त्रिक तरीके से एस्मा जैसे काले कानून लागू करके रोड़वेज कर्मचारियों व हड़ताल के दौरान सहयोग करने वाले कर्मचारियों को बर्खास्त, निलम्बन, गिरफ्तारी, लाठीचार्ज व मुकदमे दर्ज करके दमनात्मक कार्रवाई की गई।

रोड़वेज कर्मचारियों द्वारा जनहित में की गई हड़ताल के दौरान सरकार ने हठधर्मिता अपनाते हुए रोड़वेज कर्मचारियों के अलावा कर्मचारी संगठनों, जन संगठनों, ट्रेड यूनियनों, किसानों, मजदूरों, महिलाओं व छात्र संगठनों के नेताओं व कार्यकर्ताओं को संगीन धाराओं में बेवजह जेल में डाला गया।

महासचिव ने कहा कि सरकार ने अपने चहेते साहूकारों को फायदा पहुंचाने के लिए किलोमीटर स्कीम में मोटर व्हीकल एक्ट 1988 की अवहेलना की गई।विभाग में स्टाफ की कमी के कारण खड़ी 822 बसों को चलाने का प्रयास नहीं किया गया। पिछले 5 वर्षों में सरकारी बसें 4260 से घटकर केवल 3500 रह गई।

उन्होंने कहा विभाग का विस्तार करने की बजाए विभाग को सिकोड़ा गया।जबकि हरियाणा रोड़वेज कई बार लाभ कमाने,जनता को बेहतर व सुरक्षित परिवहन सेवा देने,कम डीजल की खपत में अधिक किलोमीटर तय करने तथा दुर्घटना कम करने में देश भर में प्रथम स्थान प्राप्त किया है।

कर्मचारी नेताओं के अनुसार लगभग 900 करोड़ का घोटाला साबित होने के बाद भी हरियाणा सरकार किलोमीटर स्कीम के तहत 190 प्राइवेट बसें चलाने की जिद्द पर अड़ी हुई है। महासचिव सरबत सिंह पूनिया ने कहा 3 सितम्बर को परिवहन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव से होने वाली बातचीत में किलोमीटर स्कीम रद्द करने व लम्बित मांगों को मजबूती से रखा जाएगा।

राज्य उप प्रधान सुमेर सिवाच व कोषाध्यक्ष नंद लाल कम्बोज ने मांग की किलोमीटर स्कीम रद्द की जाए तथा किलोमीटर स्कीम की जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज की देखरेख में सी बी आई से करवाई जाए। किलोमीटर स्कीम प्रक्रिया में शामिल मुख्य मन्त्री, परिवहन मंत्री व अतिरिक्त मुख्य सचिव परिवहन विभाग के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए। Rohtak News 1 September

उन्होंने मांग की विभाग में बढती आबादी अनुसार 14 हजार सरकारी बसें शामिल की जाए ताकि जनता को बेहतर व सुरक्षित परिवहन सेवा मिलने के साथ 84 हजार बेरोजगारों को स्थाई रोजगार मिल सकें। कर्मचारी नेताओं ने कहा कि हड़ताल के दौरान लगाई गई एस्मा हटाई जाए तथा अलोकतान्त्रिक तरीके से हड़ताल व आन्दोलन में कर्मचारियों की गई बर्खास्तगी, निलम्बन, चार्जशीट व उत्पीड़न की कार्यवाही समाप्त की जाए।

उप महासचिव जसबीर सिंह व कार्यालय सचिव जयकुमार दहिया ने बताया विभाग के उच्च अधिकारी रोड़वेज कर्मचारियों की मांगों का समाधान करने की बजाए बदले की भावना से दमनात्मक कार्रवाई करके कर्मचारियों का उत्पीड़न कर रहे हैं। उन्होंने कहा सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर 8 सितम्बर को करनाल रैली में हजारों रोड़वेज कर्मचारी भाग लेंगे। उन्होंने कहा रैली की तैयारी में एक दर्जन टीमों का गठन किया गया है। राज्य कमेटी द्वारा गठित टीमें प्रदेश के डिपूओं का दौरा करके कर्मचारियों को रैली में भाग लेने के लिए प्रेरित करेंगी।

राज्य ओडीटर सूबे सिंह धनाणा व सचिव सतपाल राणा ने कहा तालमेल कमेटी के आह्वान पर किलोमीटर स्कीम रद्द करने व किलोमीटर स्कीम में हुए घोटाले की जांच हाईकोर्ट के सीटिंग जज की देखरेख में सी बी आई से करवाने की मांग को लेकर 3 सितम्बर को प्रधानमंत्री व केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा।उन्होंने कहा सरकार की निजीकरण नीतियों की पोल खोलने के लिए 22 सितम्बर को परिवहन मंत्री का हल्का इसराणा(पानीपत) में राज्य स्तरीय नागरिक सम्मेलन किया जाएगा।

नागरिक सम्मेलन में किसानों, मजदूरों, छात्र व छात्राओं, महिलाओं के अलावा सभी कर्मचारी संगठनों, ट्रेड यूनियनों, जन संगठनों, चुने हुए प्रतिनिधियों, राजनीतिक पार्टियों व आम जनता को आमंत्रित किया गया है।

नागरिक सम्मेलन में सभी राजनीतिक पार्टियों से किलोमीटर स्कीम रद्द करने व निजीकरण बारे नीति स्पष्ट करने की मांग की जाएगी। बैठक में जयकुमार दहिया, सूबे सिंह धनाणा, मदन लाल खोत, सतपाल राणा, बिजेन्द्र अहलावत, गंगा राम सरौत, शिवकुमार शर्मा आदि केन्द्रीय कमेटी नेताओं ने सरकार की जनविरोधी नीतियों की जमकर आलोचना की।

लायंस क्लब आस्था द्वारा निशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन

स्थानीय जगदीश कॉलोनी स्थित प्रभुतानंद आश्रम में आज लायंस क्लब आस्था द्वारा नि:शुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन प्रधान प्रवीण जैन की अध्यक्षता में किया गया। शिविर के मुख्य अतिथि मेयर मनमोहन गोयल रहे।

इसके अलावा सरकार द्वारा चलाए जा रहे 34वें नेत्रदान पखवाड़े के अन्तर्गत सिविल हस्पताल के डॉक्टरों द्वारा लोगों को नेत्रदान के लिए जागरूक कर फार्म भरवाए। वहीं स्वास्थ्य विभाग हरियाणा द्वारा डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया से बचाव के लिए भी जागरूकता अभियान चलाया गया तथा मरीजों के नमूने भी लिए गए।

garden city bikaner

इस अवसर पर मेयर मनमोहन गोयल ने कहा कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ आत्मा का वास होता है। लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना चाहिये तथा स्वस्थ रहकर अच्छे मन से राष्ट्र की सेवा करनी चाहिये। उन्होंने कहा कि अगर अच्छा स्वास्थ्य ही नहीं रहेगा तो व्यक्ति अच्छा काम भी नहीं कर पायेगा और इसी कड़ी में कहीं न कहीं उसका सारा वातावरण प्रभावित होगा। उन्होंने उपस्थित लोगों से इन चिकित्सा शिविरों का भरपूर लाभ उठाने की बात कही। Rohtak News 1 September

चिकित्सा शिविर में मेदांता हस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने 125 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई व नेत्रदान के फार्म भरे गए। चिकित्सा शिविर के आयोजन में सुभाष गुप्ता, देवेन्द्र राव, संदीप गुप्ता, धीरज सैनी, आशुतोष गुप्ता, अनिल बंसल, रूमा जैन, मेदांता हस्पताल की ओर से डॉ. वैंकेटेश एवं डॉ. संदीप मलिक तथा स्वास्थ्य विभाग की तरफ से अनीष कुमार, अनिल कुमार, विनय कुमार एवं सिविल हस्पताल से डॉ. दिनेश शर्मा, जगत सिंह, जे.पी. गौड़, प्रभुतानंद आश्रम के प्रधान के.सी. मिगलानी व एस.सी. भुटानी उपस्थित रहे।

हरियाणा बचाओ आंदोलन ने जनता की मांगों के लिए दिया अल्टीमेटम

स्थानीय दिल्ली बाईपास पर पिछले तीन दिनों से चल रहे हरियाणा बचाओ आंदोलन ने केंद्र व प्रदेश सरकार से प्रदेश से शिक्षित युवा रोजगार गारंटी कानून बनाने, किसानों की सभी समस्याओं को दूर करने, खराब शिक्षा व्यवस्था को ठीक करने, अरावली वन क्षेत्र को संरक्षण देने, पर्यावरण व नशाखोरी रोकने आदि मुद्दों को लेकर तुरन्त कार्यवाही करने का अल्टीमेटम दिया गया।

इस सम्बन्ध में एक ज्ञापन उपायुक्त की मार्फत प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को भेजने का भी निर्णय लिया गया। हरियाणा बचाओ आंदोलन के आज के कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ अधिवक्ता व जाट सभा के उपाध्यक्ष जोगेन्द्र नांदल ने की। कार्यक्रम का संचालन हरियाणा युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश राठी ने किया।

आंदोलन के अध्यक्ष सुरेन दीप सिंह ने कहा कि पिछले लंबे समय से प्रदेश की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है तथा सरकार लोगों की सुनने को तैयार नहीं है। इसीलिए जनता से जुड़े इन मुद्दों को उठाने के लिए उन्होंने पहल की तथा हरियाणा बचाओ आंदोलन चलाया जा रहा है।

उनका कहना था कि जब तक जनता की ये मांगों पूरी नहीं हो जाती, हरियाणा बचाओ आंदोलन जारी रहेगा। इसके लिए चाहे कितनी ही बड़ी कुर्बानी क्यों न देनी पड़े वे इस आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे। राजनीतिक पार्टियां अपने स्वार्थ के चलते जनता के मुद्दों पर कोई ध्यान नहीं दे रही हैं। इन मुद्दों को लेकर पूरे प्रदेश में आंदोलन चलाया जाएगा।  Rohtak News 1 September

राष्ट्रपति अवार्डी प्रो. सुभाष बल्हारा ने कहा कि सुरेन दीप सिंह द्वारा हरियाणा बचाओ आंदोलन चलाना सराहनीय कार्य है। इस माध्यम से हमें समाज और प्रदेश में सभी तरह की कुरीतियों से बचाकर देश व प्रदेश की सेवा करनी है। शिक्षित युवाओं को रोजगार योग्यतानुसार दिया जाये।
पूर्व मुख्याध्यापक बलजीत सिंह ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में काफी सुधार की जरूरत है। सरकारी स्कूलों की दशा सुधारने, अध्यापकों की नई भर्ती करने तथा सभी स्कूलों में विज्ञान संकाय की कक्षा लगाने पर जोर दिया।

देवेन्द्र आर्य ने कहा कि आंदोलन के माध्यम से हमें सरकार को बताना है कि हम रोजगार बढ़ाकर हमें समाज और देश को प्रगति पर लेकर जाना है ताकि देश की घटती हुई जीडीपी में सुधारा जा सके। वहीं बढ़ती नशाखोरी को रोकने के लिए भी सरकार जल्द पहल करे।

पर्यावरणविद् डॉ. निशा बल्हारा ने कहा कि हम इस मंच के माध्यम से देश व समाज का भला करेंगे। सुरेन दीप ने आस्ट्रेलिया में अपने जीवन की सुख-सुविधाएं छोडक़र प्रदेश की जनता को समय देने का बड़ा काम किया है। उन्होंने कहा कि आंदोलन का मुद्दा रोजगार आज की सबसे अहम जरूरत है। पर्यावरण को प्लास्टिक जैसी कुरीतियों से बचाना है। आंदोलन के तहत आर्गेनिक फार्मिंग व पर्यावरण को भी बढ़ावा दिया जायेगा। Rohtak News 1 September

किसान नेता बलवान सिंह ने कहा कि देश में रोजगार व कृषि सम्बन्धित दो तरह की समस्याएं हैं। इस आंदोलन के माध्यम से इन समस्याओं को दूर करने का काम किया जायेगा। वहीं एडवोकेट जोगेन्द्र नांदल ने इन सभी मुद्दों पर पूर्ण समर्थन देते हुए आंदोलन को आगे चलाने का आह्वान किया।
हरियाणा युवा शक्ति संगठन के प्रधान सुरेश राठी ने कहा कि सुरेन दीप सिंह ने आस्ट्रेलिया की नागरिकता त्याग कर हरियाणा के हित में उतरे हैं इसलिए उन्हें संगठन की ओर से हरियाणा सेवा पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है।

सुरेन दीप सिंह को हरियाणा सेवा पुरस्कार राष्ट्रपति अवार्डी प्रो. सुभाष बल्हारा, समाजसेवी सावित्री देवी, पर्यावरण संरक्षक प्रो. निशा बल्हारा, शिक्षक संघ के प्रधान सेवानिवृत्त हैडमास्टर बलजीत सिंह, किसान नेता बलवान सिंह, ठाकुर जोगेन्द्र सिंह आदि ने देकर सम्मानित किया।