Bikaner Rajasthan Slider

बढ़ती हुई जनसंख्या व सुरक्षा पर संगोष्ठी

बीकानेर। गर्भस्थ शिशु संरक्षण समिति बीकानेर की ओर से आज पारासर भवन में एक संगोष्ठी हुई जिसका विषय रखा गया बढ़ती हुई जनसंख्या व सुरक्षा आज के संगोष्ठी के मुख्य अतिथि शिवबाड़ी के सोमगिरी जी महाराज रहे व फकीर चंद जी व्यास की अध्यक्षता रही और मुख्य वक्ता गर्भस्थ शिशु संरक्षण समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष राम किशोर तिवारी ओम प्रकाश जोशी डॉ महेश शर्मा भंवर लाल पारीक पारिक ट्रस्ट समाज अध्यक्ष मंचासीन पर मौजूद थे

gyan vidhi PG college

कार्यक्रम का संचालन बीकानेर नगर इकाई के अध्यक्ष योगेंद्र कुमार भाटी ने किया कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित करके किया गया फिर मां भारती के बंधना छात्राओं ने किया और उसके बाद मंत्रोच्चारण करके पंडित विजय कुमार ने कार्यक्रम को शुरू करवाया शुरू कविता से की गई जो मुस्कान शर्मा ने गांधी के देश में यह कैसा हो रहा है इस कविता से सब को भाव विभोर कर दिया उसके बाद मंचासीन का स्वागत सुरेश शर्मा सन्तोष कविता गोरधन सुशील शर्मा गिरीराज पारीक गणेशलाल सोनी मालचन्द पारीक बाबुलाल तिवारी इंद्रचन्द मोदी आदि ने मंचासीन का स्वागत किया

उसके बाद भंवर लाल पारीक ने अपने उद्बोधन में कहा की जनसंख्या पर नियंत्रण व सुरक्षा इस विषय पर काफी सोचने वाली बात है कि लगातार भारत की जनसंख्या तो बढ़ रही है पर अपराध भी बढ़ रहे हैं गर्भ में हत्या परिवार नियंत्रण के नाम से भी कितनी ही विडंबना आती है उसके बाद ओम प्रकाश जोशी ने उन्होंने अपने भाषण में कहा कि हमें अपने देश के लिए सोचते हुए यह प्रण लेना चाहिए कि हम किसी प्रकार का अनैतिक कार्य नहीं करेंगे जिसमें समाज और देश को खतरा हो वैसा कोई कार्य नहीं करेंगे बात जनसंख्या की तो आज के समय में जागरूकता के साथ साथ सेवाभाव जगाना बहुत जरूरी है डॉ महेश शर्मा ने अपने भाषण में कहा कि पहला सुख निरोगी काया है उसी प्रकार आरोग्य जीवन जीने के लिए अपने जीवन को सादा करना बहुत जरूरी है और देश के प्रति लगाव रहना बहुत ही जरूरी है

मैं विदेशों में अन्य जगह में जा चुका हूं और मैंने देखा है विदेशी लोग स्वच्छता को लेकर काफी जागरुक है और यह हमारे देश में अभी तक पूरी तरह नागरिक जागरुक नहीं है और मैं तो यही कहना चाहूंगा कि अपने देश के प्रति सभी जागरूक नागरिक बने तो वह भारत वापस सोने की चिडिय़ा बन सकता है उसके बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष राम किशोर तिवारी ने कहा कि आज श्री सोमगिरि जी महाराज के हाथों से जो पेंपलेट विमोचन हुआ है उसमें मैंने स्वामी श्री रामसुखदास जी महाराज की की प्रेरणा से बातें लिखी काफी विचारणीय है यह बड़ी गंभीर स्थिति है कि भारत की जनसंख्या तो बढ़ रही है परंतु हिंदू घट रहा है हिंदू की जनसंख्या लगातार घटती जा रही है जिस पर विचार करना बहुत जरूरी है हिंदू नहीं रहेगा तो संस्कृति कैसे रहेगी कैसे संस्कार रहेंगे कैसे यह सब रहेगा मुझे तो बड़ी चिंता रहती है जनसंख्या के नाम पर सरकार हमेशा खिलवाड़ करती आई है और हम नागरिकों को और देश को जागरूकता के लिए कई बार रैलियां और सेमिनार कर चुके हैं और आगे भी करते रहेंगे परंतु प्रकृति के खिलाफ हम ना जावे यही मेरी बार बार सभी से विनती है कि भगवान ने सभी को अपने हिसाब से बनाया है और वही उसमें क्रम के हिसाब से जनसंख्या बढ़ाना – घटाना उन पर ही निर्भर करता है जंगल में जंगली पशु भी रहते हैं और सुंदर जानवर हिंसक जानवर सभी प्रकार के रहते हैं

सभी को उन्होंने नियंत्रण में रखा है तो यह हिंदू लोग क्यों भ्रमित होते हैं और क्यों इस को अनावश्यक नियंत्रण करने पर लग गए हैं स्वामी श्री सोमगिरि जी महाराज ने भाषण मैं उन्होंने कहा कि फकीर चंद जी राम किशोर तिवारी जी ऐसे कार्यक्रम करते आ रहे हैं और कर रहे हैं मैं काफी प्रसन्न हूं इस प्रकार के कार्यक्रम करने चाहिए ताकि हम सभी हिंदू लोग सजग हो सके और भगवान के बनाए हुए नियम क्रम चल सके उन्होंने कहा की जो जन्म देता है उन्हीं का काम मारना है हम क्यों गर्भ में हत्या कर देते हैं क्यों जनसंख्या के नाम पर देश के साथ खिलवाड़ करते हैं यह समझ से परे लोगों को समझ आनी चाहिए भारत के लोग इस को खराब करने में तूल गए हैं भारत की संस्कृति तो विदेशों में भी अपनाने लगे हैं और हम भारतीय लोग कम करने लगे हैं इसमें हम सभी को विचार करना चाहिए और इस प्रकार के कार्यक्रम करते रहना चाहिए इसी के साथ उन्होंने अपनी वाणी को विराम दिया उसके बाद कार्यक्रम समापन में राष्ट्रगान से हुआ और भारत माता की जय के साथ कार्यक्रम संपन्न हुआ।