Bikaner Rajasthan Slider

साहित्य की सामाजिकता ही उसे कालजयी बनाती है – विनोद

नयनतारा छलाणी द्वारा रचित दो पुस्तकों का लोकार्पण

बीकानेर। रोटरी क्लब भवन में लेखिका नयनतारा छलाणी द्वारा रचित हरसिंगार (कविता संग्रह) एवं दमयन्ती की दुनिया भाग-2 (कहानी संग्रह) की अध्यक्षता कर रहे वरिष्ठ साहित्यकार भवानीशंकर व्यास “विनोद” ने कहा कि नयनतारा की कविताओं में मानवीय जीवन के साथ अध्यात्म है उसके साथ एक प्रकार की गंध है जो पाठक को बांधे रखती है। पूर्व प्रान्तपाल रोटरी एवं मुख्य अतिथि अरुणप्रकाश गुप्ता ने कहा कि नयनतारा छलाणी की कहानियां इतनी व्यापक हैं कि इन्हें पाठकों की मांग पर भाग दो भी प्रकाशित करवाना पड़ा। इनकी कहानियां आपसी भाईचारे का संदेश देती हैं। समाज में व्याप्त कुरीतियों, पाखंडों को उखाड़ फेंकने का जरिया बनती है। विशिष्ट अतिथि व्यंग्यकार बुलाकी शर्मा ने कहा सृजन तो बहुत होता है लेकिन जो पुस्तक पाठकों पर अपनी लेखनी से पहचान कायम करे वही सफल मानी जाती है श्रीमती नयनतारा छलाणी का इस और यह सार्थक प्रयास है।

विशिष्ट अतिथि वरिष्ट पत्रकार लूणकरण छाजेड़ ने कहा कि जन चेतना में संलिप्त होकर नियमित कोलम में अपने भाव प्रकट कर समाज में जाग्रति लाना बड़ी बात है। श्रीमती नयनतारा छलाणी वर्षों से यह कार्य थार एक्सप्रेस के माध्यम से नियमित कर रही है। इनके कविता संग्रह एवं कहानी संग्रह समाज को जोडऩे का काम करते हैं।


इससे पहले मधु छाजेड़ एवं संतोष बोथरा ने ईश प्रार्थना कर कार्यक्रम की शुरुआत की। स्वागत डॉ.डी.आर.छलाणी ने किया। दोनों पुस्तकों पर पत्र वाचन डॉ.कृष्णा आचार्य एवं डॉ.संजू श्रीमाली ने किया। सृजन यात्रा एवं लेखिका की साहित्यिक जीवनी पर समीक्षक रवि पुरोहित एवं समवेत के सरल विशारद ने अपने भाव प्रकट किए। लेखिका श्रीमती नयनतारा छलाणी ने अपनी कविताओं, एव, कहानियों की बानगी प्रस्तुत करते हुए बताया कि मेरी कहानियों में नारी पत्नी, पुत्री के साथ एक आजाद नारी का वर्णन भी है वहीं मैनें अपने काव्य संग्रह में संवेदनाएं एवं संस्कार रोपित किए हैं। मंचासीन अतिथियों को स्मृति चिन्ह अर्पित कर सम्मान किया गया।

समवेत की तरफ से लेखिका का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में राजस्थानी साहित्यकार आनन्दकौर व्यास, साहित्य अकादेमी नई दिल्ली में राजस्थानी भाषा परामर्श मंडल के मधु आचार्य “आशावादी”, पृथ्वीराज रतनूं, डॉ. अजय जोशी, राजाराम स्वर्णकार, राजेन्द्र जोशी, डॉ.बसन्ती हर्ष, डॉ.एस.एन.हर्ष सहित रोटरी क्लब के गणमान्य सदस्यों की साक्षी रही। कार्यक्रम का संचालन ऊर्जावान युवा पत्रकार हरीश बी.शर्मा ने किया। अंत में मनीष छलाणी ने सभी के प्रति आभार ज्ञापित किया।