PM-modi-times-now-summit
National

5 ट्रिलयन इकॉनमी, मुश्किल लक्ष्य की तरफ काम जरूरी : नरेंद्र मोदी

OmExpress News / New Delhi / प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘टाइम्स नाउ’ के पहले समिट में बुधवार को शिरकत की। इस मौके पर पीएम ने न्यू इंडिया पर अपने विचार रखे। उन्होंने दूसरे कार्यकाल में अपनी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी दी, तो वहीं नागरिकता संशोधन कानून, राम मंदिर निर्माण, तीन तलाक, आर्टिकल 370, बोडो शांति, सीडीएस गठन, नए मोटर वीइकल ऐक्ट को लेकर किए गए निर्णय पर अपनी सरकार की पीठ भी थपथपाते दिखे। Times Now Summit PM Modi

5 ट्रिलियन इकॉनमी के लक्ष्य को लेकर उन्होंने अपनी प्रतिबद्धता को एकबार फिर दोहराया तो देशवासियों से टैक्स भरने की अपील भी की। उन्होंने जोर देकर कहा कि टैक्स नहीं भरने का बोझ उन लोगों पर पड़ता है जो ईमानदारी से टैक्स अदा करते हैं।

8 महीने के काम का रखा लेखाजोखा

पीएम नरेंद्र मोदी ने केंद्र की अपनी बीजेपी सरकार की सराहना करते हुए कहा, ‘8 महीने की सरकार ने फैसलों की जो सेंचुरी बनाई है वह अभूतपूर्व है। आपको अच्छा लगेगा, आपको गर्व होगा कि भारत ने इतनी तेज फैसले लिए, इतनी तेज गति से काम हुआ।’ उन्होंने कहा कि 2019 में सरकार बनने के बाद हमने जल शक्ति मंत्रालय का गठन किया, मिडल क्लास के घर बनाने के अधूरे सपने पूरे करने के लिए 25 हजार करोड़ रुपये का आवंटन किया गया, दिल्ली की अवैध कॉलोनियों को नियमित किया गया।

Saint Vivekanand Sr. Sec. School Bikaner

उन्होंने इस दौरान तीन तलाक, चाइल्ड लेबर के खिलाफ कानून, ट्रांसजेंडर के अधिकारों का कानून, कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती, मोटर वीइकल ऐक्टर, सीडीएस गठन, बोडो समझौता, राम मंदिर निर्माण, आर्टिकल 370 और नागरिकता संशोधन कानून का नाम प्रमुखता से लिया। Times Now Summit PM Modi

5 ट्रिलयन इकॉनमी, मुश्किल लक्ष्य की तरफ काम जरूरी

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार के 5 ट्रिलियन इकॉनमी के लक्ष्य को पूरा करने की प्रतिबद्धता को दोहराया, वहीं विपक्ष द्वारा की जा रही आलोचना पर उनकी खिंचाई भी की। उन्होंने कहा, ‘ क्या आपने सुना था कि देश में कभी 3 ट्रिलियन का लक्ष्य रखा गया था? हम 70 सालों में 3 ट्रिलियन तक पहुंचे, पहले कभी किसी ने सवाल किया न किसी ने जवाब दिया, लेकिन हमने लक्ष्य रखा तो सवाल का भी सामना कर रहा है और लक्ष्य पाने को जी जीन से जुटे भी हैं।

ये भी पहले की सरकारों और हमारे सरकार के काम करने का अंतर है। दिशाहीन आगे बढ़ने से अच्छा मुस्किल लक्ष्य की तरफ काम किया जाए।’

छोटे शहर, अर्थव्यवस्था के नए सेंटर

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकारों ने छोटो शहरों की इकॉनमी पर ध्यान देकर उन्हें सम्मान दिया है। इन्हें नैशनल हाइवे और उड़ान योजना के तहत बन रहे एयरपोर्ट से जोड़ा जा रहा है। इन शहरों में सैकड़ों की संख्या में पासपोर्ट सेवा केंद्र खुलवाए गए हैं। 5 लाख की इकॉनमी पर जीरो टैक्स का लाभ भी इन शहरों को मिला है। Times Now Summit PM Modi

खत्म होगा हैरसमेंट, बनेगा टैक्स पेयर्स चार्टर

हाल ही में केंद्र सरकार ने बजट पेश किया जिसमें इनकम टैक्स पर विभिन्न प्रकार के फैसले किए गए हैं। वहीं, पीएम मोदी ने टाइम्स नाउ समिट में कहा कि पहले टैक्स प्रोसेस सेंट्रिक था जिसे अब पब्लिक सेंट्रिक बनाया जा रहा है। हमारा प्रयास लोगों पर टैक्स का बोझ कम करना है। उन्होंने कहा कि टैक्स भरने के दौरान होने वाले भ्रष्टाचार को रोकने के लिए असेसमेंट के तरीके में बदलाव किया जा रहा है। Times Now Summit PM Modi

Sarvadharm Samuhik Vivah

उन्होंने कहा, ‘अब टैक्स असेस करने वालों को यह पता नहीं चलेगा कि वह किसका टैक्स असेस करेगा और किस शहर का है और जिसका असेसमेंट हो रहा है उसे भी पता नहीं होगा कि कौन अधिकार असेस कर रहा है। इससे सारे खेल (भ्रष्टाचार) की गुंजाइश कम हो गई है।’ उन्होंने कहा कि हम उन गिने-चुने देशों में शामिल होंगे जो टैक्सपेयर के अधिकारों को लागू करने वाला टैक्स पेयर चार्टर लाएगा।

टैक्स भरने की अपील

पीएम मोदी ने इनकम टैक्स भरने वालों की बेहद कम संख्या को देखते हुए निराशा जाहिर की। उन्होंने कहा, ‘देश में पिछले एक साल में डेढ़ करोड़ से ज्यादा कारों की बिक्री हुई है। 3 करोड़ से ज्यादा भारतीय बिजनस के काम से विदेश गए हैं। लेकिन स्थिति यह है कि 130 करोड़ लोगों के देश में सिर्फ डेढ़ करोड़ लोग ही इनकम टैक्स देते हैं।

इसमें से भी हर साल 50 लाख से ज्यादा आय घोषित करने वालों की संख्या सिर्फ 3 लाख है। हर साल सिर्फ 2200 प्रफेशनल अपनी सालान इनकम एक करोड़ से ज्यादा बताते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘जब हम देखते हैं कि लोग घूमने जा रहे हैं, गाड़ियां खऱीदते हैं तो खुशी होती है लेकिन जब टैक्स भरने वालों की संख्या देखते हैं तो चिंता भी होती है।’ Times Now Summit PM Modi