Rajasthan Slider Uncategorized

विश्वकर्मा ब्रिगेड के नौजवान ही व्यवस्था परिवर्तन के वाहक बने

लखनऊ। विश्वकर्मा ब्रिगेड के नौजवान ही व्यवस्था परिवर्तन के वाहक बने। समाज के उत्पीडऩ अत्याचार को रोकने के लिए संघर्ष करें। उक्त बातें अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री राम आसरे विश्वकर्मा ने दारुलशफा लखनऊ के कामन हाल में विश्वकर्मा ब्रिगेड के प्रान्तीय सम्मेलन में कही। श्री विश्वकर्मा ने कहा कि विश्वकर्मा ब्रिगेड के नौजवान, सामाजिक कुरीतियों,को दूर करने समाज पर उत्पीडऩ,अत्याचार,को रोकने दैवीय आपदा और संकट के समय लोगो की मदद के अपने दायित्व का निर्वहन करते हुए समाज की मदद करेंगे।यह ब्रिगेड समाज के अन्याय और अत्याचार के विरुद्ध एक मजबूत ताकत बनकर उभरे।आज सोशल मीडिया के माध्यम से नौजवानों को गुमराह किया जा रहा है। प्रदेश की भाजपा सरकार लगातार झूठ बोल रही है।भाजपा राज मे विश्वकर्मा समाज के ऊपर लगातार हत्याएं, बलात्कार,और जमीनो पर कब्जा हो रहा है। न तो भाजपा सरकार सुनवाई कर रही है और न पुलिस कार्यवाही कर रही है।समाज और जनता का सरकार से भरोसा उठ गया है। शिक्षा महंगी होने के कारण गरीब नौजवानों को शिक्षा से वंचित किया जा रहा है। नौजवान भाजपा सरकार में नौकरी के लिए तरस रहे है। नौजवान अपने अधिकार और नौकरी के लिए आंदोलन करता है तो सरकार की पुलिस उन्हें लाठियों से पीट रही है। लोकतांत्रिक ढांचे को तोडऩे की साजिश की जा रही है।

आरक्षण को समाप्त करने के लिए भाजपा सरकार के द्वारा पूरी कोशिश की जा रही है। विश्वकर्मा समाज के रोजगार के अवसर खत्म हो रहे है। विश्वकर्मा ब्रिगेड की जिम्मेदारी है ऐसे समय में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार रहे। तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की सरकार में 17 सितंबर विश्कर्मा पूजा का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया था, परन्तु योगी सरकार ने सार्वजनिक अवकाश निरस्त कर विश्वकर्मा समाज का अपमान कर रही है। सपा सरकार में विश्वकर्मा समाज के विकास के लिए जो योजनाएं चलाई गई थी चाहे कुटीर उद्योग के लिए ग्रामसभा का पट्टा, इंटर पास विश्वकर्मा समाज के नौजवानों को आई टी आई का प्रमाणपत्र जारी करने का शासनादेश, पेंशन, आवास, छात्रवृत्ति, शादी का अनुदान जैसी योजनाओं को भाजपा सरकार में रोक दिया गया। विश्वकर्मा समाज भुखमरी के कगार पर है। भाजपा सरकार विश्वकर्मा और पिछडी जातियों की विरोधी है। इस सरकार को हटाने के लिए विश्वकर्मा ब्रिगेड को तैयार रहना होगा। कार्यक्रम का संचालन महासभा के राष्ट्रीय महासचिव राजेश विश्वकर्मा तथा अध्यक्षता महासभा के प्रदेश अध्यक्ष अच्छेलाल विश्वकर्मा ने किया। सम्मेलन को महिला सशक्तिकरण और रेड ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष उषा विश्वकर्मा ने कहा कि लोगो के सामने अपनी बाते रखिए और खुलकर रखिए और आंखों में आंखे डाल कर रखिए तभी समाज का भला होगा तभी विश्वकर्मा ब्रिगेड मजबूत होगी , विश्वकर्मा ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष आशुतोष विश्वकर्मा ने कहा कि समाज के उपर हो रहे अत्याचार को रोकने का काम करे युवा, प्रदेश के समस्त जनपदों में 250 विश्वकर्मा ब्रिगेड के प्रतिनिधि बनेगें जो कि समाज के किसी भी समस्या पर डट कर मुकाबला करेगें। कार्यक्रम को सूरजबली विश्वकर्मा, राम अवतार विश्वकर्मा, राकेश शर्मा, हरेन्द्र विश्वकर्मा, महेंद्र विश्वकर्मा, शिवकुमार विश्वकर्मा, रामलाल विश्वकर्मा, भारत विश्वकर्मा, संजीव विश्वकर्मा, विजय विश्वकर्मा दिवाकर विश्वकर्मा हरिशंकर विश्वकर्मा, महेश शर्मा राजपाल शर्मा, अरूण विश्वकर्मा, राधेश्याम विश्वकर्मा, राम बाबू विश्वकर्मा, डा. बृजेश विश्वकर्मा, शीतला विश्वकर्मा आदि ने संबोधित किया।(PB)